Get it on Google Play تحميل تطبيق نبأ للآندرويد مجانا

लॉकडाउन के तीसरे चरण के पहले ही दिन राजस्थान में फूटा कोरोना बम, इतनी अधिक संख्या में मिले नए मरीज

Samachar Jagat

जयपुर। देशभर में घोषित लॉकडाउन के तीसरे चरण का पहला दिन राजस्थान के अच्छा साबित होता हुआ नजर नहीं आ रहा है। सोमवार को सुबह 9 बजे की पहली रिपोर्ट में ही 123 नए संक्रमित मरीज सामने आए हैं।

लॉकडाउन के तीसरे चरण में जयपुर की 83 कॉलोनियों को नहीं मिली कोई राहत

एक बार फिर से जोधपुर में बड़ी संख्या में संक्रमित मरीज मिले हैं। आज मिले 123 में से 73 मरीज तो जोधपुर से ही सामने आए हैं। यहां पर संक्रमित लोगों की कुल संख्या 705 हो गई है। जबकि राजधानी जयपुर में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या एक हजार के पार पहुंच चुकी है। जयपुर में आज 12 नए संक्रमित मरीज मिले हैं।

देश के इस राज्य को लॉकडाउन के दौरान नहीं मिलेगी छूट, ये है बड़ा कारण

सोमवार को जयपुर, जोधपुर के अलावा चित्तौडग़ढ़ से 19, पाली से 11, कोटा से 3, राजसमंद से 2, बीकानेर, अलवर और उदयपुर से एक-एक संक्रमित मरीज मिला है। इससे अब राजस्थान में कोरोना संक्रमित लोगों की कुल संख्या 3009 हो गई है। इसमें 1005 तो जयपुर के ही है। आज जयपुर में चार मौत के मामले भी सामने आए। इससे प्रदेश में कोरोना के कारण मृतकों की संख्या 75 पहुंच गई है।

May 4th 2020, 1:39 am

बड़ा खुलासा: शूटिंग के लिए इरफान खान ने ऋषि कपूर को दी थी इतनी बड़ी रिश्वत

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। बॉलीवुड के स्टार अभिनेता ऋषि कपूर और इरफान खान अब इस दुनिया में नहीं है। कैंसर की गंभीर बीमारी से जूझ रहे इन दोनों अभिनेताओं का पिछले महीने निधन हो गया था। अब उनकी याद ही शेष रह गई है। ऐसी एक मजेदार याद डायरेक्टर निखिल आडवाणी ने भी लोगों के सामने शेयर की है।

ऋषि कपूर की ये पांच फिल्में रही थी सबसे ज्यादा बिजनेस करने में सफल

डायरेक्टर निखिल आडवाणी के अनुसार ये वाक्या 2013 में आई फिल्म डी-डे की शूटिंग के दौरान का है। इस फिल्म में ऋषि कपूर और इरफान खान ने अभिनय किया था। निखिल आडवानी ने एक साक्षात्कार में बताया कि किस प्रकार इरफान ने रेगिस्तान में सीन की शूटिंग को संभव बनाया था।

जैकी श्रॉफ की बेटी कृष्णा ने बॉयफ्रेंड के साथ किया ऐसा, अब जमकर वायरल हो रही हैं फोटोज

इस समय ऋषि कपूर को छोडक़र फिल्म की पूरी टीम रेगिस्तान में रुकी हुई थी। ऋषि कपूर 2 घंटे की दूरी पर होटल में रूके थे। एक सीन में उगते हुए सूरज को दिखाना था, लेकिन ऋषि कपूर इसके लिए सुबह जल्द यहां नहीं आना चाहते थे।

निखिल आडवानी ने बताया कि ऋषि कपूर को यहीं पर रोकने के लिए इरफान खान को चिकन जंगली और शराब की रिश्वत देनी पड़ी थी। इसके बाद ही वह रेगिस्तान में रुके थे। इसके बाद इरफान खान ने अपना वादा भी निभाया था।

May 4th 2020, 1:28 am

घर पर ही बनाएं स्वादिष्ट बेसन की सब्जी, चाट जाएंगे अगुंलियां

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। लॉकडाउन के दौरान आपको होटल की सब्जी खाने की इच्छा हो रही होगी, लेकिन अभी आप अपनी इस इच्छा को पूरी नहीं कर पा रहे हैं। आज हम आपको घर पर ही होटल जैसी बेसन की सब्जी बनाने की आसान विधि बताने जा रहे हैं।

इन तीन राशियों का आज बदल जाएगा भाग्य, इनकम में होगा इजाफा

सामग्री: एक कप बेसन, दो टमाटर, दो हरी मिर्च, आधा कप फैंटा हुआ दही, 2-3 टेबल स्पून तेल, बारिक कटा हुआ हरा धनिया, एक छोटी चम्मच जीरा, हींग, हल्दी, धनिया पाउडर, लाल मिर्च पाउडर, अदरक पेस्ट, गरम मसाला और स्वादानुसार नमक।

बनाने का तरीका: एक बर्तन में बेसन लेकर उसमें नमक, लाल मिर्च पाउडर, हल्दी पाउडर, जीरा और 1 बारीक कटी हरी मिर्च डाल दें। इसके बाद इसमें थोड़ा पानी डालकर मिश्रण बना लें। अब एक पेन में तेल डालकर गर्म करें। अब इसमें हींग और इसके बाद बेसन का घोल डाल दीजिए। अब इसे धीमी आंच पर गाढ़ा होने दें। इसके बाद उसे चिकनी प्लेट में डाल कर ठंडा होने दें।अब सब्जी का मसाल तैयार करें। इसके लिए पैन में तेल डाल कर गरम करें।

लॉकडाउन में इस प्रकार घर पर ही बनाएं स्वादिष्ट सूजी की कचौड़ी

अब इसमें जीरा, हींग, हल्दी पाउडर, धनिया पाउडर, अदरक का पेस्ट डालकर भून लीजिए। इसके बाद इसमें टमाटर-हरी मिर्च का पेस्ट और लाल मिर्च पाउडर डालें। इसके बाद मसालों से तेल अलग होने तक इसे पकाते रहे। अब इसमें दही डाल लें। इसमें अब नमक, गरम मसाला और थोड़ा सा हरा धनिया डाल पकाएं। अब बेसन के मिश्रण को अपनी इच्छानुसार चाकू से काट कर इन्हें पैन में डाल दें। अब इसे तीन से चार मिनट तक पकाने के बाद गैस बंद कर दें। इस प्रकार आपकी सब्जी तैयारी हो जाएगी।

May 4th 2020, 1:28 am

गौतम गंभीर ने अपनी टीम में इस स्टार खिलाड़ी को नहीं दी जगह, इन्हें बनाया कप्तान

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने अब अपनी सर्वकालिक श्रेष्ठ भारतीय टेस्ट इलेवन चुनी है। इस टीम की कप्तानी मात्र 14 टेस्ट मैचों में भारत का नेतृत्व करने वाले महान स्पिन गेंदबाज अनिल कुंबले को सौंपी है। सबसे चौंकाने वाली बात ये रही कि इस टीम में वीवीएस लक्ष्मण जैसे स्टार खिलाड़ी को जगह नहीं मिली है।

इस टीम में विराट कोहली को नहीं मिली जगह, ये गेंदबाज जगह बनाने में रहा सफल

गंभीर ने सलामी बल्लेबाज के रूप में टेस्ट क्रिकेट में दस रनों की मंजिल सबसे पहले पार करने वाले सुनील गावस्कर के साथ ही दो तिहरे शतक लगा चुके वीरेन्द्र सहवाग को चुना है। जबकि भारतीय दीवार के नाम से मशहूर राहुल द्रविड़ को तीसरे और सचिन तेंडुलकर को चौथे क्रम पर जगह दी है।

लॉकडाउन में छिनी भारतीय टीम से नम्बर वन की बादशाहत

मौजूदा भारतीय कप्तान विराट कोहली को पांचवें क्रम के लिए टीम में शामिल किया गया है। जबकि विकेटकीपर की जिम्मेदारी महेन्द्र सिंह धोनी को दी है। टीम में कपिल देव को ऑलरांडर के रूप में चुना है।

ऑल टाइम भारतीय टेस्ट इलेवन: सुनील गावस्कर, वीरेंद्र सहवाग, राहुल द्रविड़, सचिन तेंदुलकर, विराट कोहली, कपिल देव, एमएस धोनी, हरभजन सिंह, अनिल कुंबले (कप्तान), जहीर खान और जवागल श्रीनाथ।

May 4th 2020, 1:28 am

सोनिया गांधी ने की बड़ी घोषणा: प्रवासी मजदूरों का ये खर्च उठाएगी कांग्रेस

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने लॉकडाउन में फंसे प्रवासी मजदूरों को हित में बड़ा फैसला लिया है। इसके तहत अब कांग्रेस प्रवासी मजदूरों को उनके गृह राज्य तक पहुंचाने के लिए उनके रेल किराए का खर्च उठाएगी।

लॉकडाउन का तीसरा चरण: जानिएं आज से रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन में क्या-क्या मिलेगी छूट

केन्द्र सरकार ने कोरोना वायरस संक्रमण से देशवासियों को बचाने के लिए लॉकडाउन की अवधि को दो सप्ताह के लिए बढ़ा दिया है। मोदी सरकार ने देश के विभिन्न क्षेत्रों में फंसे मजदूरों को उनके गृह राज्य तक पहुंचाने के लिए विशेष ट्रेनें भी चलाई है।
कांग्रेस ने रेलवे के उस सर्कुलर की आलोचना की है जिसके अनुसार, स्थानीय सरकारी अधिकारी अपने द्वारा क्लयिर किए गए मजदूरों को टिकट सौंपेंगे. उनसे टिकट का किराया वसूल करेंगे।

देश के इस राज्य को लॉकडाउन के दौरान नहीं मिलेगी छूट, ये है बड़ा कारण

इसी को देखते हुए कांग्रेस ने प्रवासी मजदूरों के हित में बड़ा निर्णय लिया है। कांग्रेस के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से सोनिया गांधी के बयान को शेयर किया गा है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने अपने बयान में कहा कि भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने यह निर्णय लिया है कि प्रदेश कांग्रेस कमेटी की हर इकाई हर जरूरतमंद श्रमिक व कामगार के घर लौटने की रेल यात्रा का टिकट खर्च वहन करेगी व इस बारे जरूरी कदम उठाएगी।


May 4th 2020, 12:28 am

लॉकडाउन के तीसरे चरण में जयपुर की 83 कॉलोनियों को नहीं मिली कोई राहत

Samachar Jagat

जयपुर। देश में कोरोना वायरस के कारण घोषित लॉकडाउन का तीसरा चरण आज से शुरू हो गया है। केन्द्र सरकार ने हालांकि देश को तीन जोन (रेड, ऑरेंज और ग्रीन) में बांटकर लोगों को लॉकडाउन में राहत दी है।

देश के इस राज्य को लॉकडाउन के दौरान नहीं मिलेगी छूट, ये है बड़ा कारण

हालांकि राजस्थान की राजधानी जयपुर के कुछ क्षेत्रों में कफ्र्यू होने के कारण लॉकडाउन अवधि में किसी भी प्रकार की छूट नहीं मिली है। इसके तहत जयपुर के 35 थाना क्षेत्रों की 83 कॉलोनियों में लोगों को किसी भी प्रकार की छूट नहीं दी गई है।

इन कॉलोनियों में सभी प्रतिबंध पहले की तरह ही रहेंगे। बाकी शहर में सभी सरकारी ऑफिस खुलेंगे, लेकिन स्टाफ एक तिहाई ही आएंगे। उन्हें किसी आवश्यक कार्य के लिए बाहर जाने के लिए भी अब पास की जरूरत नहीं होगी।

राजस्थान के ये दो जिले हैं कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित, आज मिले इतने नए मरीज

राजधानी के इन कफ्र्यू क्षेत्रों में निजी चिकित्सक अपने क्लिनिक केवल ओपीडी के लिए जिला प्रशासन की स्वीकृति से ही खोल सकेंगे। पब्लिक ट्रांसपोर्ट भी पूरी तरह बंद रहेगा।

गौरतलब है कि अभी तक राजस्थान में सबसे ज्यादा कोरोना संक्रमित मरीज जयपुर से ही मिले हैं। यहां पर अभी तक 995 संक्रमित व्यक्ति पाएं गए हैं। इसमें दो विदेशी भी शामिल हैं। रविवार को जयपुर में 32 नए संक्रमित मरीज मिले।

May 3rd 2020, 11:55 pm

लॉकडाउन का तीसरा चरण: जानिएं आज से रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन में क्या-क्या मिलेगी छूट

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार द्वारा देश में कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए घोषित लॉकडाउन का तीसरा चरण आज से शुरू हो गया है। हालांकि सरकार ने इस बार लॉकडाउन अवधि में लोगों को शर्तों के साथ छूट दी है। कोरोना वायरस की महामारी से बचने के लिए गृह मंत्रालय ने आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 के तहत आदेश जारी कर इस बार देश को रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन में बांटकर लॉकडाउन अवधि में लोगों को राहत दी है।

देश के इस राज्य को लॉकडाउन के दौरान नहीं मिलेगी छूट, ये है बड़ा कारण

रेड जोन में सरकार ने निजी वाहन से कुछ सेवाओं के लिए देशवासियों को आवागमन की छूट दी है। हालांकि कार में ड्राइवर के अलावा केवल दो लोग ही बैठ सकेंगे। वहीं दोपहिया वाहन से केवल चालक को ही आने-जाने की अनुमति होगी।

स्पेशल इकोनॉमिक जोन और एक्सपोर्ट ओरिएंटेड यूनिट्स के साथ-साथ औद्योगिक शहरों और क्षेत्रों में कामकाज के लिए लोगों को पूरी तरह छूट प्रदान की गई है। सरकार ने मीडिया, आइटी सेवाओं, कॉल सेंटर, कोल्ड स्टोरेज, वेयरहाउसिंग सेवाओं और निजी सुरक्षा गार्ड को भी काम करने की छूट प्रदान की है।

रेड जोन के क्षेत्रों में जरूरी सामान, दवा, मेडिकल उपकरण और उनके लिए अन्य सामान बनाने वाली इकाइयां सहित पूरी सप्लाई चेन के साथ ही आइटी हाडवेयर की इकाइयों को भी छूट प्रदान की गई है। मजदूर आधारित जूट और पैकेजिंग उद्योग को भी काम करने छूट प्रदान की गई है।

सरकार ने लॉकडाउन अवधि में रेड जोन के क्षेत्रों को दी ये छूट, लोग कर सकेंगे ऐसा

वहीं रेड जोन में मिलने वाली सभी छूट ऑरेंज जोन के क्षेत्रों को भी मिल सकेेंगी। लोगों को एक जगह से दूसरी जगह जाने की अनुमति सिर्फ स्वीकृत गतिविधियों के लिए ही मिलेगी।

ग्रीन जोन्स मेंं कॉलेज, स्कूल, रेस्टोरेंट और मॉल्स को छोडक़र सभी तरह की एक्टिविटीज के लिए अनुमति दी गई है। यहां के केंटेनमेंट एरिया के अलावा बाकी क्षेत्रों में नाई की दुकान, शराब, सिगरेट, पान, गुटका और तंबाकू की दुकानों को खोलने की स्वीकृति दी गई है।

May 3rd 2020, 11:24 pm

इन तीन राशियों का आज बदल जाएगा भाग्य, इनकम में होगा इजाफा

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। आज भगवान शिवजी की तीन राशियों पर कृपा बनी रहने वाली है। जातकों के आज सपने पूरे होंगे। उन्हें व्यापार में सफलता मिलेगी। वहीं दांपत्य जीवन के हिसाब से भी आज का दिन उनके लिए बहुत ही अच्छा रहेगा।

लॉकडाउन में इस प्रकार घर पर ही बनाएं स्वादिष्ट सूजी की कचौड़ी

वृष : इस राशि के लिए आज का दिन बहुत ही अच्छा गुजरेगा। आज के दिन दांपत्य जीवन में विवाहित लोगों को बहुत ही आनंद मिलेगा। काम में भी अच्छा परिणाम प्राप्त होगा। व्यापार अच्छा चलेगा।

मिथुन: इस राशि के जातकों के लिए आज का दिन अपने परिवारजनों के साथ बहुत ही अच्छा गुजरेगा। जातकों की इनकम में इजाफा होगा। सेहत मजबूत बनेगी। जबकि अन्य कामों में भी जातकों को सफलता मिलेगी।

बिल्ली ने किया इंसानों जैसा व्यवहार, खुद के बीमार बच्चे को लेकर पहुंच गई अस्पताल, मामला जानकार हैरान रह जाएंगे आप

सिंह: इस राशि के जातकों के लिए आज का दिन इनकम के हिसाब से बहुत ही अच्छा रहेगा। जातक घर बैठकर परिवार के साथ समय बिताएंगे। वह धन को सही तरीके से निवेश करने की योजना बनाएंगे जो उनके लिए अच्छा रहेगा।

May 3rd 2020, 10:54 pm

देश के इस राज्य को लॉकडाउन के दौरान नहीं मिलेगी छूट, ये है बड़ा कारण

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए केन्द्र सरकार ने लॉकडाउन की अवधि को 17 मई तक बढ़ा दिया है। हालांकि सरकार की ओर से जोन के हिसाब से लॉकडाउन में राहत भी दी गई है, लेकिन देश का एक राज्य ऐसा ही भी जिसके किसी भी इलाके में लॉकडाउन के दौरान कोई ढील नहीं दी जाएगी।

बिल्ली ने किया इंसानों जैसा व्यवहार, खुद के बीमार बच्चे को लेकर पहुंच गई अस्पताल, मामला जानकार हैरान रह जाएंगे आप

यह राज्य है राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली। दिल्ली को केन्द्र सरकार ने रेड जोन में रखा है। लॉकडाउन के तीसरे चरण के दौरान इस राज्य के किसी भी इलाके में कोई ढील नहीं दी जाएगी।

दिल्ली सरकार बताया कि प्रदेश के सभी जिले 17 मई तक रेड जोन में ही रहेंगे। . स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने इस बात की जानकारी देते हुए बताया कि अगले दो सप्ताह तक इन सभी इलाकों में किसी प्रकार की कोई छूट नहीं दी जाएगी। गौरलतब है कि दिल्ली में संक्रमित लोगों की संख्या साढ़े तीन हजार से अधिक हो चुकी है।

May 2nd 2020, 4:28 am

लॉकडाउन में इस प्रकार घर पर ही बनाएं स्वादिष्ट सूजी की कचौड़ी

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। कोरोना वायरस के कारण घोषित लॉकडाउन के कारण इन दिनों लोगों का समय घर पर ही बीत रहा है। इस समय रेस्टोरेंट और हलवाई की दुकानें बंद हैं। इस दौरान आपका कुछ न कुछ खाने का मन कर रहा होगा। आज हम आपको घर पर ही स्वादिष्ट सूजी की कचौड़ी बनाने की आसान विधि बताने जा रह हैं। यह खाने में बहुत ही हेल्दी होती है।

बिल्ली ने किया इंसानों जैसा व्यवहार, खुद के बीमार बच्चे को लेकर पहुंच गई अस्पताल, मामला जानकार हैरान रह जाएंगे आप

सामग्री: एक कप सूजी, एक छोटी चम्मच अजवाइन, एक शिमला मिर्च, एक कटोरी आलू, हरी मटर, एक प्याज, अदरक, लाल मिर्च, चाट मसाला, गरम मसाला और स्वादानुसार नमक।

आज दिन तीन राशियों पर रहेगी शनिदेव की कृपा, पूरे होंगे सपने

विधि: पानी को नमक और अजवाइन डालकर गर्म करें। इसके बाद इसमें सूजी मिलकार हिलाते रहे। पानी सूखने के बाद इसे ठंडा होने दें।
अब आलू को अच्छे से मैशकर इसमें जीरा, अदरक और सभी सब्जियां डालकर तवे पर हल्का फ्राई करें। अब सूजी को अच्छे से गूंथ लें। इस इसके छोटे-छोटे हल्के लोई बनाकर इसमें आलू का मिश्रण भर लें। इसके बाद उन्हें तेल में सेंक लें। इस प्रकार आपकी स्वादिष्ट कचौडिय़ां बनकर तैयारी हो जाएंगी।

May 2nd 2020, 4:13 am

ऋषि कपूर की ये पांच फिल्में रही थी सबसे ज्यादा बिजनेस करने में सफल

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। अभिनेता ऋषि कपूर भले ही कैंसर से जंग जीतने में असफल रहे हो, लेकिन इस बॉलीवुड अभिनेता को उनकी अभिनय क्षमता के कारण हमेशा ही याद किया जाएगा। ऋषि कपूर ने अभिनय के दम पर दर्शकों को अपना दीवाना बनाया है।

जैकी श्रॉफ की बेटी कृष्णा ने बॉयफ्रेंड के साथ किया ऐसा, अब जमकर वायरल हो रही हैं फोटोज

इनके निधन से बॉलीवुड में सूनापन आ गया है। उन्होंने बॉलीवुड में बॉबी फिल्म से अपनी विशेष पहचान बनाई थी। इसमें उनके साथ डिंपल कपाडिय़ा नजर आ आई थी। आज हम आपको उनकी पांच सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्मों की जानकारी देने जा रह हैं।

अग्निपथ: ऋषि कपूर की सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्म अग्निपथ है। इसमें उन्होंने रऊफ लाला का किरदार निभाया था। इस फिल्म ने घरेलू सर्किट से कुल 119.98 करोड़ रुपए का बिजनेस किया था।

अब इस पूर्व भारतीय कप्तान के साथ बढ़ रही है मोनिका बेदी की नजदीकियां, रह चुकी है अंडरवर्ल्ड डॉन की गर्लफ्रेंड

हाउसफुल 2: ऋषि कपूर की इस फिल्म ने 111.79 करोड़ रुपए का बिजनेस किया था। इसमें अक्षय कुमार, रितेश देशमुख और रणधीर कपूर ने भी महत्वपूर्ण रोल निभाया था।

कपूर एंड संस: ऋषि कपूर की यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर 69.37 करोड़ रुपए का कारोबार करने में सफल रही थी। यह साल 2016 में रिलीज हुई थी।

लव आज कल: 2009 में आई इस फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर 66.56 करोड़ रुपए का बिजनेस किया था। इस फिल्म में ऋषि कपूर के साथ ही सैफ अली खान और दीपिका पादुकोण ने भी अहम भूमिका निभाई थी।

स्टूडेंट ऑफ द ईयर: साल 2012 में आई ये फिल्म 62.94 करोड़ रुपए का बिजनेस करने में सफल रही थी। इसमें ऋषि कपूर ने डीन योगेंद्र वशिष्ठ की भूमिका निभाई थी।

May 2nd 2020, 3:13 am

राजस्थान के ये दो जिले हैं कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित, आज मिले इतने नए मरीज

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। राजस्थान में कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या में लगातार इजाफा होता जा रहा है। शनिवार को प्रदेश में 12 नए कोरोना संक्रमित लोग पाए गए हैं। इससे राजस्थान में संक्रमित लोगों की कुल संख्या 2678 हो गई है।

लॉकडाउन समाप्त होने पहले ही राजस्थान सरकार ने जारी कर दी ये एडवाइजरी

शनिवार को राजधानी जयपुर में पांच नए मामले सामने आए हैं। जबकि जोधपुर में भी संक्रमित लोगों का आंकड़ा थमने का नाम नहीं ले रहा है। जोधपुर में आज दो नए मामले सामने आ चुके हैं। जबकि धौलपुर में भी दो नए मरीज मिले हैं। इसके अलावा अजमेर, चित्तौडग़ढ़ और कोटा में एक-एक कोरोना संक्रमित व्यक्ति मिला है।

जयपुर के बाद अब राजस्थान के इस जिले में तेजी से बढ़ रहे हैं कोरोना के मामले

प्रदेश में आज तीन कोरोना संक्रमित लोगों की मौत हो चुकी है। इनमें राजधानी जयपुर से 2 और जोधपुर का 1 व्यक्ति शामिल है। आज जयपुर के रामंगज और चांदपोल निवासी एक-एक व्यक्ति की मौत हुई है। जबकि मौत का तीसरा मामला जोधपुर में नागोरी गेट का है। राजस्थान में ये वायरस अभी तक 65 लोगों को मौत की नींद सुला चुका है।राजस्थान के जयपुर और जोधपुर में अभी कोरोना वायरस का संक्रमण सबसे ज्यादा है।

May 2nd 2020, 2:43 am

जैकी श्रॉफ की बेटी कृष्णा ने बॉयफ्रेंड के साथ किया ऐसा, अब जमकर वायरल हो रही हैं फोटोज

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। अभिनेता टाइगर श्रॉफ की बहन और जैकी श्रॉफ की लाडली कृष्णा श्रॉफ हमेशा सोशल मीडिया की सुर्खियों में बनी रहती है। इस समय वह अपनी फोटोज के कारण सुर्खियों में बनी हुई है। इन फोटोज में वह अपने बॉयफे्रंड के साथ एक बेहद रोमांटिक अंदाज में नजर आ रही है। उनकी ये तस्वीर सोशल मीडिया पर जमकर वायरस हो रही है।

अब इस पूर्व भारतीय कप्तान के साथ बढ़ रही है मोनिका बेदी की नजदीकियां, रह चुकी है अंडरवर्ल्ड डॉन की गर्लफ्रेंड

अभिनेता टाइगर श्रॉफ की बहन कृष्णा श्रॉफ ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर बॉयफे्रंड एबन हेम्स के साथ कुछ फोटोज को शेयर किया है। इन फोटोज में वह रोमांटिक दिखाई दे रही है। इन फोटोज में वह अपने बॉयफे्रंड एबन हेम्स को किस करती दिखाई दे रही है।

जन्मदिन विशेष: इस अभिनेता के साथ जुड़ चुका है अनुष्का शर्मा का नाम, ये बनी थी ब्रेकअप की वजह

कृष्णा श्रॉफ को इन फोटो के कारण काफी प्रतिक्रियाएं मिल रही है। इन फोटोज में कृष्णा और एबन की केमिस्ट्री शानदार दिखाई दे रही है।गौरतलब है कि जैकी श्रॉफ की बेटी कृष्णा बास्केटबॉल खिलाड़ी एबन हेम्स को डेट कर रही हैं। कृष्णा पहले भी अपनी फोटोज को शेयर करती रहती हैं।

May 2nd 2020, 2:28 am

बिल्ली ने किया इंसानों जैसा व्यवहार, खुद के बीमार बच्चे को लेकर पहुंच गई अस्पताल, मामला जानकार हैरान

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। कभी ऐसा देखने को मिल जाता है, जिसकी किसी को उम्मीद ही नहीं होती है। ऐसा ही नजारा तुर्की में भी देखने को मिला है। कोरोना वायरस के संक्रमण से बुरी तरह प्रभावित तुर्की की सोशल मीडिया पर एक बिल्ली जमकर सुर्खियां बटौर रही है। इसे देखने के बाद तो आप भी हैरान हो जाएंगे। इस बिल्ली ने कुछ ऐसा किया जिसके कारण लोगों द्वारा उसे खूब पसंद किया जा रहा है।

आज दिन तीन राशियों पर रहेगी शनिदेव की कृपा, पूरे होंगे सपने

इस्तांबुल सिटी हॉस्पिटल में एक चौंकाने वाला नजारा देखने को मिला है। यहां पर एक बिल्ली ने इमरजेंसी रूम में पहुंच सभी डॉक्टरों को चौंका दिया है। यह बिल्ली इस दौरान मुंह में अपने बच्चे को भी दबाए हुई थी। इस दौरान वह इमरजेंसी रूम के बाहर बैठ डॉक्टर्स का रास्ता भी रोकने लगी।

जन्मदिन विशेष: इस अभिनेता के साथ जुड़ चुका है अनुष्का शर्मा का नाम, ये बनी थी ब्रेकअप की वजह

इसके बाद डॉक्टरों ने बिल्ली के बच्चे की जांच की तो पाया कि वह बीमार है। इसी कारण बिल्ली सहायता मांगने के लिए अस्पताल आई है। इस दौरान इमरजेंसी रूम में उपस्थित डॉक्टर्स और नर्स बिल्ली के इस व्यवहार को देखकर हैरान हो गए।

May 2nd 2020, 1:55 am

इस टीम में विराट कोहली को नहीं मिली जगह, ये गेंदबाज जगह बनाने में रहा सफल

Samachar Jagat

खेल डेस्क। अभी कोई भी टीम बनाई जाए और उसमें भारतीय कप्तान विराट कोहली और सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा को जगह नहीं मिले तो ये थोड़ा आश्चर्य लगता है।

लॉकडाउन में छिनी भारतीय टीम से नम्बर वन की बादशाहत

पूर्व भारतीय ओपनर और कमेंटेटर आकाश चोपड़ा की अपनी जो बेस्ट विश्व टी-20 का चयन किया है इसमें इन दोनों में से किसी भी जगह नहीं दी है। आईसीसी द्वारा दिए गए चैलेंज को स्वीकारते हुए आकाश चोपड़ा ने जो टीम चुनी है उसमें भारत की ओर से केवल जसप्रीत बुमराह ही जगह बना सकी हैं।

आकाश चोपड़ा की इस टीम में पाकिस्तान के बाबर आजम और नेपाल के संदीप लेमिचाने को भी जगह मिली है। आईसीसी ने जो चैंलेंज दिया था उसके अनुसार, बेस्ट विश्व टी-20 टीम में एक देश से अधिकतम एक ही खिलाड़ी को शामिल किए जाने की शर्त थी।

अजित आगरकर को इस टीम में शामिल किए जाने से भडक़े भारतीय क्रिकेट प्रशंसक

आकाश चोपड़ा की विश्व टी-20 टीम: डेविड वॉर्नर (ऑस्ट्रेलिया), जोस बटलर (इंग्लैंड), कोलिन मुनरो (न्यूजीलैंड), बाबर आजम (पाकिस्तान), एबी डीविलियर्स (दक्षिण अफ्रीका), शाकिब अल हसन (बांग्लादेश), आंद्रे रसेल (वेस्टइंडीज), राशिद खान (अफगानिस्तान), संदीप लेमिचाने (नेपाल), जसप्रीत बुमराह (भारत), लसिथ मलिंगा (श्रीलंका)।

May 2nd 2020, 1:26 am

सरकार ने लॉकडाउन अवधि में रेड जोन के क्षेत्रों को दी ये छूट, लोग कर सकेंग ऐसा

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार ने देश में कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए एक बार फिर से लॉकडाउन की अवधि को 17 मई तक बढ़ा दिया है। लॉकडाउन का दूसरा चरण रविवार को समाप्त होने वाला था। इससे पहले ही मोदी सरकार ने दो सप्ताह के लिए लॉकडाउन को बढ़ा दिया है।

17 मई तक बढ़ा लॉकडाउन, जानिएं क्या खुलेगा, क्या नहीं

हालांकि सरकार ने इस बार लॉकडाउन अवधि में लोगों को छूट दी है। कोरोना वायरस की महामारी से बचने के लिए गृह मंत्रालय ने आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 के तहत आदेश जारी किए हैं। गृह मंत्रालय ने इस बार देश को रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन में बांटकर लॉकडाउन अवधि में लोगों को राहत दी है।

रेड जोन में मिलेंगी ये राहत: सरकार ने निजी वाहन से कुछ सेवाओं के लिए देशवासियों को आवागमन की छूट दी है। हालांकि कार में ड्राइवर के अलावा केवल दो लोग ही बैठ सकेंगे। वहीं दोपहिया वाहन से केवल चालक को ही आने-जाने की अनुमति होगी।स्पेशल इकोनॉमिक जोन और एक्सपोर्ट ओरिएंटेड यूनिट्स के साथ-साथ औद्योगिक शहरों और क्षेत्रों में कामकाज के लिए लोगों को पूरी तरह छूट प्रदान की गई है।

चीन को ये झटका देने को तैयार है भारत, पीएम मोदी के दिमाग में है ये प्लान

सरकार ने मीडिया, आइटी सेवाओं, कॉल सेंटर, कोल्ड स्टोरेज, वेयरहाउसिंग सेवाओं और निजी सुरक्षा गार्ड को भी काम करने की छूट प्रदान की है।
रेड जोन के क्षेत्रों में जरूरी सामान, दवा, मेडिकल उपकरण और उनके लिए अन्य सामान बनाने वाली इकाइयां सहित पूरी सप्लाई चेन के साथ ही आइटी हाडवेयर की इकाइयों को भी छूट प्रदान की गई है।मजदूर आधारित जूट और पैकेजिंग उद्योग को भी काम करने छूट प्रदान की गई है।

May 2nd 2020, 12:55 am

अब इस पूर्व भारतीय कप्तान के साथ बढ़ रही है मोनिका बेदी की नजदीकियां, रह चुकी है अंडरवर्ल्ड डॉन की ग

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। बॉलीवुड अभिनेत्रियों का क्रिकटरों के साथ नाम जुडऩा आम बात हो गई है। कई क्रिकेटर तो अभिनेत्रियों को अपना जीवन साथी भी बना चुके हैं। उनमें भारतीय क्रिकेट टीम के मौजूदा कप्तान विराट कोहली, युवराज सिंह और जहीर खान का नाम शामिल है। कई क्रिकेटर अभिनेत्रियों के साथ नजदीकियां बढ़ाने में लगे हुए हैं।

जन्मदिन विशेष: इस अभिनेता के साथ जुड़ चुका है अनुष्का शर्मा का नाम, ये बनी थी ब्रेकअप की वजह

अब पूर्व भारतीय क्रिकेटर मोहम्मद अजहरुद्दीन और अभिनेत्री मोनिका बेदी का नाम भी इसमें शामिल हो चुका है। मोहम्मद अजहरुद्दीन तो इससे पहले भी अभिनेत्री संगीता बिजलानी के साथ विवाह भी कर चुके हैं। हालांकि अब दोनों के बीच तलाक हो चुका है। अब मोहम्मद अजहरुद्दीन की मोनिका बेदी के साथ नजदीकियां बढ़ती जा रही है। खबरों के अनुसार दोनों इन दिनों एक दूसरे के साथ खूब टाइम स्पेंड कर रहे हैं, दोनों की दोस्ती गहरी होती जा रही है।

कैंसर को शिकस्त दे चुके हैं बॉलीवुड के ये दिग्गज

मोनिका बेदी के एक करीबी सूत्र ने एक एक वेबसाइट को इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि मोनिका पूर्व भारतीय कप्तान अजहरुद्दीन से कॉमन दोस्त संजय निरुपम के माध्यम से मिली थी। अब तो दोनों एक दूसर को अपने फे्रंड सर्कल में लेकर जाते हैं।बताया जा रहा है कि अजहरुद्दीन के बेटे असुद्दीन की शादी में बॉलीवुड अभिनेत्री मोनिका बेदी स्पेशल गेस्ट बनकर गई थी। गौरतलब है मोनिका बेदी इससे पहले अंडरवर्ल्ड डॉन अबू सलेम की गर्लफ्रेंड रह चुकी हैं।

May 2nd 2020, 12:25 am

बीस दिनों बाद सामने आए किम जोंग, अटकलों पर लगा विराम

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन के सामने आने के बाद उनके स्वास्थ्य को लेकर लगाई जा रही तमाम अटकलों पर विराम लग गया है। किम जोंग उन शुक्रवार को सार्वजनिक तौर पर लोगों के सामने आ गए।उत्तर कोरिया की सरकारी न्यूज एजेंसी ने इस बात की जानकारी दी है। कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी (केसीएनए) ने बताया कि किम जोंग उन ने 20 दिनों के बाद एक बार फिर लोगों के बीच पहुंच उनसे बातचीत की।

कोरोना वायरस के कारण 11 मई तक बढ़ा ये प्रतिबंध

प्योंगयांग के काफी नजदीक बनी एक फर्टिलाइजर फैक्ट्र्री का काम पूरा होने के मौके पर उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन वहां पर पहुंचे थे। इस मौके किम जोंग उन की बहन किम यो जोंग भी उनके साथ उपस्थित थी।उत्तर कोरिया मीडिया की ओर से किम जोंग उन के कार्यक्रम का सीधा प्रसारण भी किया था।

अब चीन ने भारत पर ही लगा दिया ये आरोप, बोल दी इतनी बड़ी बात

गौरतलब है कि किम जोंग उन के अपने दादा की जयंती पर आयोजित कार्यक्रम में उपस्थित नहीं होने के बाद उनके स्वास्थ्य को लेकर विभिन्न प्रकार के कयास लगाए जा रहे थे।

May 1st 2020, 11:55 pm

आज दिन तीन राशियों पर रहेगी शनिदेव की कृपा, पूरे होंगे सपने

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। आज शनिवार है। इसे शनिदेव का वार माना जाता है। इसी कारण आज कुछ राशियों पर शनिदेव की विशेष कृपा रहने वाली है। जातकों के सपने पूरे होंगे।

मेष: इस राशि के लिए आज का दिन बहुत ही शुभ रहेगा। जातक अपने प्रेम जीवन के सपनों को पूरा कर सकेंगे। शादीशुदा जातकों को आज के दिन दांपत्य जीवन में तनाव से मुक्ति मिलेगी। परिवार में खुशी का माहौल बना रहेगा। काम के सिलसिले में भी अच्छे परिणाम मिल सकेंगे।

मिथुन: इस राशि के जातकों के लिए दिन बहुत ही अच्छा रहेगा। शनिदेव की कृपा से जातकों की इनकम में इजाफा होगा। परिवार के साथ दिन अच्छा गुजरेगा। व्यापारी वर्ग के जातकों के लिए दिन बहुत ही अच्छा रहेगा।

कर्क: इस राशि के जातकों के लिए आज का दिन अच्छे परिणाम लेकर आएगा। काम के सिलसिले में भी जातकों को अच्छे परिणाम प्राप्त हो सकेंगे। व्यापारी वर्ग के जातकों को भी अच्छे नतीजे मिलेंगे। प्रेम जीवन के हिसाब से जातकों का दिन काफी रोमांटिक तरीके से गुजरेगा।

May 1st 2020, 11:25 pm

17 मई तक बढ़ा लॉकडाउन, जानिएं क्या खुलेगा, क्या नहीं

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। कोरोना वायरस के बढ़ते हुए मामलों को देखते हुए केन्द्र सरकार ने एक बार फिर से लॉकडाउन की अवधि को बढ़ा दिया है। इस बार मोदी सरकार ने दो सप्ताह की अवधि के लिए इसे बढ़ाया है।इसके तहत अब देश में 17 मई तक लॉकडाउन रहेगा, लेकिन सरकार ने इस बार ग्रीन और ऑरेन्ज जोन में पहले से अधिक छूट दी है।

चीन को ये झटका देने को तैयार है भारत, पीएम मोदी के दिमाग में है ये प्लान

केन्द्र सरकार ने देश में रेड जोन में 130, ऑरेंज जोन में 284 और ग्रीन जोन में 319 जिलों को शामिल किया है। गृहमंत्रालय ने इन तीनों ही जोनों के लिए अलग-अलग गाइडलाइंस बनाई है।

सभी जोन में रहेंगी ये पाबंधियां: लॉकडाउन अवधि में शाम सात बजे से सुबह सात बजे तक जरूरी सेवाओं को छोडक़र लोगों को बाहर निकलने अनुमति नहीं।65 से अधिक उम्र के बुजुर्गो और 10 साल के कम उम्र के बच्चों के साथ ही गर्भवती महिलाओं और गंभीर बीमारी से पीडि़त लोगों के घर से निकलने की अनुमति नहीं।

लॉकडाउन में रसोई गैस उपभोक्ताओं को मिली बड़ी राहत, इतना सस्ता हो गया सिलेंडर

हवाई, रेल, मेट्रो, अंतरराज्यीय बस सेवाओं का संचालन नहीं होगा। बंद रहेंगे स्कूल, कॉलेज व अन्य शैक्षिक संस्थान, होटल, रेस्टोरेंट, बार, सिनेमा हॉल, मॉल। धार्मिक, राजनीतिक, सांस्कृतिक, सामाजिक और खेलकूद से जुड़े जमावड़े पर प्रतिबंध होगा।
रेड जोन में लोगों को सीमित सेवाएं ही मिल सकेंगी।

वहीं ग्रीन और आरेंज जोन में केंटेनमेंट एरिया को छोडक़र अन्य क्षेत्रों में नाई की दुकान, शराब, सिगरेट, पान, गुटका और तंबाकू की दुकानों को खोलने इजाजत रहेगी। जबकि ग्रीन जोन में तो माल खोलने की भी अनुमति होगी।

May 1st 2020, 11:07 pm

पीएम मोदी ने की हाई लेवल मीटिंग, हो सकती है लॉकडाउन के तीसरे चरण की घोषणा

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। देश में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या में लगातार इजाफा होता जा रहा है। यह संख्या अब 35 हजार के पार हो गई है। इसी को देखते हुए अब देश में लॉकडाउन की अवधि को प्रधानमंत्री द्वारा बढ़ा दिया जाए तो किसी को आश्चर्य नहीं होना चाहिए।

चीन को ये झटका देने को तैयार है भारत, पीएम मोदी के दिमाग में है ये प्लान

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज तीन मई के बाद की स्थिति को लेकर अपने कई मंत्रियों सहित सेक्रेट्री लेवल के कई अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ हाई लेवल बैठक की है। इस बैठक में पीएम मोदी के साथ ही गृहमंत्री अमित शाह, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ विपिन रावत, रेलमंत्री पीयूष गोयल भी मौजूद थे।

गौरतलब है कि देश में लॉकडाउन के दूसरे चरण की अवधि रविवार को समाप्त होने जा रही है। इस अवधि के समाप्त होने से पहले ही आज लॉकडाउन समाप्त होने के बाद क्या करें क्या न करें, इसे लेकर बैठक में गहन चर्चा की गई।

लॉकडाउन में रसोई गैस उपभोक्ताओं को मिली बड़ी राहत, इतना सस्ता हो गया सिलेंडर

इस बैठक के बाद माना तो यह जा रहा है कि पीएम मोदी लॉकडाउन की अवधि को बढ़ाने की घोषणा कर सकते है। देश के कई राज्यों में अभी भी कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या बढ़ती जा रही है। राजस्थान की बात की जाए तो आज दोपहर तक कोरोना के 58 नए मामले सामने आ चुके हैं। इससे प्रदेश में संक्रमित लोगों की संख्या 2642 तक पहुंच चुकी है।

May 1st 2020, 6:38 am

जन्मदिन विशेष: इस अभिनेता के साथ जुड़ चुका है अनुष्का शर्मा का नाम, ये बनी थी ब्रेकअप की वजह

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। बॉलीवुड की स्टार अभिनेत्री और भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली की पत्नी अनुष्का शर्मा का आज जन्मदिन है। उनक जन्म आज ही के दिन यानी 1 मई, 1988 को अयोध्या में हुआ था। अनुष्का शर्मा और विराट कोहली ने साल 2017 में आपस में विवाह किया था। आज ये दोनों सबसे चर्चित सेलेब्रिटी कपल्स में गिने जाते हैं।

कैंसर को शिकस्त दे चुके हैं बॉलीवुड के ये दिग्गज

अनुष्का शर्मा अपने अभिनय के दम पर बॉलीवुड में विशेष पहचान बना चुकी है। अनुष्का शर्मा का विराट कोहली से पहले रणवीर सिंह के साथ भी नाम जुड़ चुका है। खबरों के अनुसार, ये दोनों बॉलीवुड कलाकार अपने करियर के शुरुआती दौर में रिलेशनशिप में रह चुके हैं।

रणवीर सिंह ने साल 2010 में अनुष्का शर्मा के साथ बैंड बाजा बारात फिल्म में अभिनय किया था। बताया जा रहा है कि आइफा अवॉड्र्स के दौरान दौरान ही दोनों के बीच दूरियां बढऩी शुरू हो गई थी। इस कार्यकम में रणवीर सिंह ने सोनाक्षी सिन्हा के साथ एक्ट किया। इस बात का अनुष्का शर्मा को बहुत ही बुरा लगा था।

अधूरी ही रह गई ऋषि कपूर की ये इच्छा, अजमेर से रहा है विशेष संबंध

इसके बाद फिल्म गोलियों की रासलीला: रामलीला के दौरान रणवीर सिंह की दीपिका पादुकोण के साथ बढ़ती नजदीयां भी अनुष्का शर्मा के साथ उनके ब्रेकअप का बड़ा कारण बना था। आज अनुष्का शर्मा विराट कोहली के साथ बहुत ही खुश नजर आ रही है।

May 1st 2020, 6:25 am

इस प्रकार की अय्याश जिंदगी जीते हैं किम जोंग, जानकर चौंक जाएंगे आप

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन इन दिनों अचानक गायब होने के कारण सुर्खियों में बने हुए हैं। उनके गायब होने के पीछे तरह-तरह के कयास लगाए जा रहे हैं। आज हम आपको उनकी अय्याश जिंदगी के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसके बारे में किसी ने भी नहीं सोचा होगा।

खुशखबरी: लॉकडाउन में जियो और वोडाफोन अपने उपभोक्ताओं को दे रही है ये ऑफर

दुनिया के सबसे खतरनाक तानाशाह किम जोंग उन के पास बम से सुरक्षित रहने वाले बंगले, निजी जेट, लाखों की घडिय़ां, महंगी कारें-यॉट, खुद का द्वीप और 2000 लड़कियों का प्लेजर स्क्वॉड मौजूद है।

यूरोप की एक न्यूज वेबसाइट ने तो उन पर उत्तरी कोरिया के लोगों से कमाए हुए पैसों को अपनी अय्याशियों में उड़ाने तक का आरोप लगाया है। द सन डॉट को डॉट यूके की ओर से प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार उत्तर कोरिया के शासक किम जोंग उन 37,867 करोड़ रुपए की संपत्ति के मालिक हैं।

सोने-चांदी की कीमतों में आ गई उम्मीद से जबरदस्त गिरावट, खरीदने का है अच्छा मौका

बताया जाता है कि किम जोंग उन ने के पास ऐसे 17 मकान और बंगले हैं जो परमाणु हमले को भी झेल सकते हैं। किम के इन बंगलों के बारे में दुनिया के देशों को भी पता नहीं है।गौरतलब है कि किम जोंग 11 अप्रैल के बाद से दुनिया की नजर में नहीं आए हैं। इस कारण उनके स्वास्थ्य को लेकर कई प्रकार के कयास लगाए जा रहे हैं।

May 1st 2020, 5:56 am

चीन को ये झटका देने को तैयार है भारत, पीएम मोदी के दिमाग में है ये प्लान

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। कोरोना वायरस के कारण दुनिया की अर्थव्यवस्था को बुरा झटका लगा है। अमेरिका तो दुनिया में कोराना वायरस फैलने के पीछे चीन को ही जिम्मेदार बता रहा है। इसी कारण दुनिया के कई देशों की कंपनियां चीन से अपना व्यापार समेटने में लगी हुई है।

लॉकडाउन में रसोई गैस उपभोक्ताओं को मिली बड़ी राहत, इतना सस्ता हो गया सिलेंडर

अब भारत इसी का फायदा उठाने की तैयारी कर रहा है। भारत द्वारा अब उन कंपनियों को अपने देश बुलाने की तैयारी की जा रही है जो कोरोना वायरस जैसी महामारी फैलने के बाद चीन में नहीं टिकना चाहती है।

ये कंपनियां अपना प्रोडक्शन बेस बदलने की तैयारियां कर रही है, जो भारत के लिए अच्छी बात साबित हो सकती है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी इशारों में जता दिया है कि वे इस दिशा में इनवेस्टमेंट्स करने को तैयार हैं।

अब अशोक गहलोत की इस मांग को मान सकती है केन्द्र सरकार

बताया जा रहा है प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के दिमाग में इस संबंध में प्लान है। पीएम मोदी के दिमाग में प्लग एंड प्ले मॉडल की योजना है। इसके माध्मय से इनवेस्टर्स अच्छी जगहों को आइडेंटिफाई करने के बाद अपना प्लांट वहां लगा सकते हैं।

May 1st 2020, 5:22 am

कैंसर को शिकस्त दे चुके हैं बॉलीवुड के ये दिग्गज

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। कैंसर के कारण पिछले दो दिनों में बॉलीवुड ने दो दिग्गज कलाकारों को गंवा दिया था। बुधवार को इरफान खान के निधन के बाद गुरुवार को ऋषि कपूर ने भी दुनिया को अलविदा बोल दिया है।

अधूरी ही रह गई ऋषि कपूर की ये इच्छा, अजमेर से रहा है विशेष संबंध

आज हम उन कलाकारों की बात करने जा रहे हैं जिन्होंने कैंसर जैसी बीमारी को भी शिकस्त दी है। यह कलाकार अब कैंसर से जंग जीतकर सामान्य जीवन बिता रहे हैं।

सोनाली बेंद्रे: बॉलीवुड की स्टार अभिनेत्री सोनाली बेंद्रे कैंसर के चौथे स्टेज पर पहुंचने के बाद भी इसे हराने में सफल रही है। सोनाली बेंद्रे आज अपने पति के साथ सामान्य जीवन बिता रही हैं।

ऋषि कपूर की संपत्ति के बारे में जानकार चौंक जाएंगे आप

मनीषा कोइराला: अपने जमाने की बॉलीवुड की स्टार अभिनेत्री मनीषा कोइराला साल 2013 में कैंसर को शिकस्त दे चुकी है।

अनुराग बासु: बॉलीवुड के दिग्गज निदेशक अनुराग बासु भी कैंसर को मात दे चुके हैं। उन्होंने साल 2004 में इस खतरनाक बीमारी को शिकस्त दी थी।

May 1st 2020, 4:40 am

लॉकडाउन में छिनी भारतीय टीम से नम्बर वन की बादशाहत

Samachar Jagat

खेल डेस्क। कोरोना वायरस के कारण दुनियाभर के कई देशों में लॉकडाउन है। इस कारण खेलों का आयोजन नहीं हो पा रहा है। इसी बीच भारतीय टीम के लिए अच्छी खबर नहीं आई है।

अजित आगरकर को इस टीम में शामिल किए जाने से भडक़े भारतीय क्रिकेट प्रशंसक

लॉकडाउन के दौरान भारत से आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में बादशाहत छिन गई है। आज जारी हुई आईसीसी की ताजा टेस्ट रैंकिंग में भारत का स्थान ऑस्ट्रेलिया ने ले लिया है। अब आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में ऑस्ट्रेलिया नम्बर वन पर आ गई है। जबकि विराट कोहली की कप्तानी वाली भारतीय तीसरे स्थान पर आ गई है। दूसरे स्थान पर न्यूजीलैंड ने कब्जा कर लिया है।

एक गरीब व्यक्ति को अपना खून दान कर टीम इंडिया के इस 35 वर्षीय बल्लेबाज ने जीता सभी का दिल

आईसीसी रैंकिंग नियम के मुताबिक 2016-17 के रिकॉर्ड को सालाना अपडेट में हटाने के बाद रैंकिंग में इस प्रकार का बदलाव देखने को मिला है।अक्टूबर 2016 के बाद टेस्ट क्रिकेट में पहली बार भारतीय टीम से नम्बर वन की रैंकिंग छिनी है।

अब ऑस्ट्रेलिया 116 रेटिंग अंकों के साथ पहले स्थान पर आ गया है। जबकि न्यूजीलैंड (115) दूसरे, भारत (114) तीसरे, इंग्लैंड (105) चौथे और श्रीलंका (91) पांचवें स्थान पर है। हालांकि भारतीय टीम आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप प्वॉइंट टेबल में पहले स्थान पर बनी हुई है।

May 1st 2020, 4:22 am

खुशखबरी: लॉकडाउन में जियो और वोडाफोन अपने उपभोक्ताओं को दे रही है ये ऑफर

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। कोरोना वायरस के कारण इस समय देश लॉकडाउन है। लॉकडाउन के दूसरे चरण की अवधि रविवार को समाप्त होने जा रही है। लॉकडाउन अवधि में देश की टेलिकॉम कंपनियां अपने उपभोक्तओं को लगातार नए ऑफर दे रही हैं। अब रिलायंस जियो और वोडाफोन ने अपने उपभोक्ताओं को प्रति दिन 2 जीबी डेटा मुफ्त देने की घोषणा की है।

ज्योतिषाचार्यों का दावा: इस माह में पूरी तरह समाप्त हो जाएगा कोरोना वायरस, इसे बताया बड़ा कारण

वोडाफोन आइडिया ने गुरुवार को पूरी तरह से फ्री रिचार्ज पैक लॉन्च किया। सात दिन की वैलिडिटी के साथ आने वाले इस पैक के लिए उपभोक्ताओं को कोई पैसे नहीं देने होंगे। हालांकि वोडाफोन आइडिया यह रिचार्ज पैक चुनिंदा उपभोक्ताओं को ऑफर कर रही है। इस पैक में सात दिन तक प्रतिदिन दिन दो जीबी डेटा और अनलिमिटेड कॉल जैसी सुविधाएं मौजूद हैं।

अच्छी खबर: भारत में लगातार कम हो रही है यह रफ्तार

वहीं रिलायंस जियो पिछले माह की 7 तारीख से अकाउंट में हो रहा क्रेडिट जियो डेटा पैक के तहत प्रतिदिन 2जीबी अतिरिक्त डेटा दे रही है। इसके तहत जियो ने अतिरिक्त डेटा को 27 अप्रैल से उपभोक्ताओं के खाते में क्रेडिट करना प्रारम्भ कर दिया है। इससे पहले भी कंपनी जियो डेटा पैक और वर्क फ्रॉम होम जैसे प्रमोशनल ऑफर के तहत प्रतिदिन दो जीबी डेटा अपने उपभोक्तओं को ऑफर कर चुकी है।

May 1st 2020, 3:52 am

सोने-चांदी की कीमतों में आ गई उम्मीद से जबरदस्त गिरावट, खरीदने का है अच्छा मौका

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। कोरोना वायरस के कारण घोषित लॉकडाउन अवधि में गुरुवार को सोने-चांदी के भावों में जबरदस्त गिरावट देखने को मिली। इसके तहत एमसीएक्स एक्सचेंज पर पांच जून 2020 के सोने के वायदा भाव में 1.35 प्रतिशत की गिरावट आई। इससे यह 613 रुपए की टूट साथ 44,933 रुपए प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ है।

ज्योतिषाचार्यों का दावा: इस माह में पूरी तरह समाप्त हो जाएगा कोरोना वायरस, इसे बताया बड़ा कारण

वहीं पांच अगस्त 2020 के सोने का वायदा भाव 567 रुपए की टूट के साथ 45,090 रुपए प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ है। वहीं चांदी की वायदा कीमतों में भी बड़ी टूट देखने को मिली। एमसीएक्स एक्सचेंज पर तीन जुलाई 2020 की चांदी की वायदा कीमत गुरुवार को 2.22 प्रतिशत या 942 रुपए की भारी गिरावट आई। इससे चांदी 41,420 रुपए प्रति किग्रा पर बंद हुई है।

अच्छी खबर: भारत में लगातार कम हो रही है यह रफ्तार

वहीं पांच मई 2020 की चांदी के वायदा भाव में 1.90 प्रतिशत की गिरावट आई। इससे यह 795 रुपए की गिरावट के साथ गुरुवार को 40,980 रुपए प्रति किग्रा पर बंद हुआ है। आज मई दिवस होने के कारण एमसीएक्स पर ट्रेडिंग बंद रहेगी।

May 1st 2020, 3:08 am

लॉकडाउन में रसोई गैस उपभोक्ताओं को मिली बड़ी राहत, इतना सस्ता हो गया सिलेंडर

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। कोरोना वायरस के कारण घोषित लॉकडाउन में कई प्रकार की समस्याओं का सामना कर रहे लोगों के लिए आज अच्छी खबर आई है। इस खबर के अनुसार, बिना सबसिडी वाला रसोई गैस सिलेंडर की कीमतों में कमी की गई है। इससे अब उपभोक्ताओं का सस्ता सिलेंडर मिल सकेगा।

अब अशोक गहलोत की इस मांग को मान सकती है केन्द्र सरकार

तेल कंपनियों की ओर से प्रति माह की पहली तारीख को गैस सिलेंडर के दामों को रिव्यू किया जाता है। इसी के तहत राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में रसोई गैस सिलेंडर 163 रुपए सस्ता हुआ है।हालांकि लागू टैक्स अलग-अलग होने के कारण राज्यों में रसोई गैस सिलेंडर के दामों में अंतर देखने को मिल सकता है।

ICMR ने दी प्लाज्मा थेरेपी के अंधाधुंध प्रयोग से बचने की सलाह, ये है बड़ा कारण

आईओसी की वेबसाइट के अनुसार, राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में इस महीने अब गैस सिलेंडर के लिए 581 रुपए देने होंगे। जबकि अप्रैल में सिलेंडर के लिए 744 रुपए चुकाए होते थे। रसोई गैस की कीमतों में कमी आने के कारण देश के 1.5 करोड़ उपभोक्ताओं को फायदा मिलेगा। इससे लॉकडाउन में उपभोक्तओं को बड़ी राहत मिलेगी।

May 1st 2020, 2:34 am

ज्योतिषाचार्यों का दावा: इस माह में पूरी तरह समाप्त हो जाएगा कोरोना वायरस, इसे बताया बड़ा कारण

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। देश में कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या 35 हजार के पार पहुंच चुकी है। हालांकि राहत की बात ये हैं कि प्रति दिन के हिसाब से मिलने वाले नए संक्रमित लोगों की संख्या में कमी आती जा रही है।

अच्छी खबर: भारत में लगातार कम हो रही है यह रफ्तार

ज्योतिषाचार्य इसे सूर्यदेव का प्रभाव ही मान रहे हैं। ज्योतिषाचार्यों की मानें तो मई माह में कोरोना वायरस 80 से 90 प्रतिशत समाप्त हो जाएगा। जबकि जून के अंत तक देश से यह पूरी तरह से खत्म हो जाएगा। उन्होंने इसका कारण भगवान सूर्यदेव को माना है।

उन्होंने माना कि प्रत्यक्ष सूर्य की स्थिति से असाध्य और महाभयानक रोगों से मुक्ति मिलती है। सूर्यदेव इस खतरनाक वायरस से लड़ाई में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। इसी के कारण तो देश में कोरोना संक्रमण के मामलों में पहले की अपेक्षा अब कम होने लगे हैं।

इन राशियों पर होगी अचानक ही धन की बारिश, ये है कारण

सूर्य मीन राशि से निकलकर अपनी उच्च राशि मेष में 13 अप्रैल से अश्विनी नक्षत्र में प्रवेश किया। अब वह 11 मई से कृतिका नक्षत्र की परिधि में भी प्रवेश कर जाएंगे। सूर्य के परिवर्तन के कारण ही मई महीने में 80 से 90 फीसदी कोरोना वायरस खत्म हो जाएगा। जबकि जून के अंत तक यह भारत से पूरी तरह से समाप्त हो जाएगा।

May 1st 2020, 2:23 am

लॉकडाउन समाप्त होने पहले ही राजस्थान सरकार ने जारी कर दी ये एडवाइजरी

Samachar Jagat

जयपुर। कोरोना संकट के कारण घोषित लॉकडाउन अवधि में प्रदेश के किसी भी व्यक्ति को परेशानी का सामना नहीं करना पड़े इसके लिए राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार अपने स्तर पर हरसंभव प्रयास कर रही है।इसी के तहत अशोक गहलोत सरकार ने औद्योगिक इकाइयों व संस्थानों के कार्मिकों व श्रमिकों के अप्रैल माह के वेतन भुगतान के लिए एडवाइजरी जारी कर दी है।

जयपुर के बाद अब राजस्थान के इस जिले में तेजी से बढ़ रहे हैं कोरोना के मामले

अतिरिक्त मुख्य सचिव उद्योग डॉ. सुबोध अग्रवाल ने इस संबंध में जानकारी दी है। उन्होंने राजस्थान सरकार की ओर से जारी एडवाइजरी के माध्यम से औद्योगिक इकाइयों व संस्थानों को अपने कार्मिकों और श्रमिकों को लॉकडाउन अवधि का बिना कटौती के डिजिटल प्लेटफार्म पर लेन-देन के माध्यम से वेतन भुगतान करने को कहा है।

एसीएस उद्योग डॉ. सुबोध अग्रवाल ने बताया कि औद्योगिक इकाइयों व संस्थानों के कार्मिकों की दैनिक आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए वेतन आदि की आवश्यकता को देखते हुए श्रमिकों व कार्मिकों के व्यापक हित में एडवाइयजरी जारी कर यह निर्देश दिए गए हैं।

राजस्थान में नहीं थम रहा है कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा, आज मिल चुके हैं इतने संक्रमित लोग

उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि पूर्व में 30 मार्च, 2020 को जारी एडवइजरी के क्रम में यह एडवाइजरी अप्रैल माह के वेतन भुगतान के लिए जारी की गई है। गौरलतब लॉकडाउन की अवधि रविवार को समाप्त होने जा रही है। हालांकि राजस्थान सरकार चरणबद्ध तरीके से लॉकडाउन में छूट देने की बात कह रही है।

May 1st 2020, 1:53 am

अच्छी खबर: भारत में लगातार कम हो रही है यह रफ्तार

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। देश में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। अब ये आंकड़ा 35 हजार के पार पहुंच चुका है। स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से आज जारी हुए ताजा आंकड़ों के अनुसार, भारत में कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या 35,043 हो चुकी है। जबकि ये खतरनाक वायरस अभी तक देश में 1,147 लोगों की जान ले चुका है।

इन राशियों पर होगी अचानक ही धन की बारिश, ये है कारण

हालांकि देश के लिए कोरोना वायरस के मामले में अच्छी खबर आ रही है। भारत में कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या डबल होने की स्पीड लगातार घट रही है। इस संबंध में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने दावा किया है कि अब देश में 11 दिन में रोगी डबल हो रहे हैं। लॉकडाउन से पहले यह अवधि केवल 3.4 दिन थी।

साड़ी में छा गई यह अभिनेत्री, दिखी अप्सरा जैसी खूबसूरत, तस्वीरें हो रही है वायरल, देखें

गौरतलब है देश में लॉकडाउन के दूसरे चरण की अवधि रविवार को समाप्त होने जा रही है। अभी तक केन्द्र की मोदी सरकार ने लॉकडाउन की अवधि को बढ़ाने के संबंध में किसी भी प्रकार का निर्णय नहीं लिया है।

May 1st 2020, 1:34 am

अधूरी ही रह गई ऋषि कपूर की ये इच्छा, अजमेर से रहा है विशेष संबंध

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। बॉलीवुड ने लगातार दो दिनों में अपने दो स्टार अभिनेताओं को खो दिया है। बुधवार को इरफान खान के निधन के एक दिन बाद ही अपने जमाने के स्टार अभिनेता ऋषि कपूर ने भी गुरुवार को 67 साल की उम्र में दुनिया को अलविदा कह दिया है।

ऋषि कपूर की संपत्ति के बारे में जानकार चौंक जाएंगे आप

अचानक निधन होने के कारण ऋषि कपूर की एक इच्छा अधूरी ही रह गई। उनकी इच्छा अपने बेटे रणबीर कपूर की शादी देखने की थी। रणबीर की आलिया भट्ट के साथ जल्द शादी होने की खबरें भी चली थी, लेकिन अभी तक दोनों की शादी नहीं हो सकी है। ऋषि कपूर बॉलीवुड में चॉकलेटी हीरो के नाम से मशहूर है। उनका जन्म 4 सितम्बर 1952 को मुंबई के चेंबूर में हुआ। ऋषि कपूर का अजमेर से खास संबंध है।

अभिनय के क्षेत्र में बादशाहत साबित करने से पहले इरफान खान को पूरी करनी पड़ी थी मां की ये शर्त

बॉलीवुड के शो मैन यानी राज कपूर के बेटे ऋषि कपूर ने अपनी प्रारम्भिक पढ़ाई कैंपियन स्कूल, मुंबई में करने के बाद उसके आगे की पढ़ाई मेयो कॉलेज अजमेर से पूरी की थी। ऋषि कपूर ने बॉलीवुड अभिनेत्री नीतू सिंह से विवाह किया था। उनके दो बच्चे रणबीर कपूर और रिधिमा कपूर हैं। जबकि भाई रणधीर कपूर और राजीव कपूर है।

May 1st 2020, 1:23 am

अजित आगरकर को इस टीम में शामिल किए जाने से भडक़े भारतीय क्रिकेट प्रशंसक

Samachar Jagat

खेल डेस्क। भारतीय तेज गेंदबाज अजित आगरकर के नाम लॉड्र्स के मैदान पर शतक लगाने की उपलब्धि दर्ज है, जिसे सचिन तेंदुलकर सहित कई महान क्रिकेटर भी हासिल नहीं कर सके हैं।

एक गरीब व्यक्ति को अपना खून दान कर टीम इंडिया के इस 35 वर्षीय बल्लेबाज ने जीता सभी का दिल

ऐसे में अजित आगरकर को पुछल्ले खराब बल्लेबाजों की ऑलटाइम इलेवन में शामिल किया जाए तो किसी को भी गुस्सा आ सकता है। ऑस्ट्रेलियाई टीवी चैनल फॉक्स क्रिकेट ने पुछल्ले खराब बल्लेबाजों की ऑलटाइम इलेवन में अजित आगरकर को भी शामिल किया है। इस टीम में अजित आगरकर का नाम देखकर भारतीय फैंस भडक़ गए हैं। इसके लिए उन्होंने फॉक्स क्रिकेट को ट्रोल करना शुरू कर दिया है।

भारत के दिग्गज तेज गेंदबाजों में शामिल रह चुके अजित आगरकर ने साल 2002 में लॉड्र्स टेस्ट में इंग्लैंड के खिलाफ नाबाद 109 रन की पारी खेली थी। इसके अलावा उन्होंने अन्तरराष्ट्रीय एकदिवसीय क्रिकेट में भी तीन अद्र्धशतक लगाए हैं। अजित आगरकर ने साल 2002 में जमशेदपुर में वेस्टइंडीज के खिलाफ केवल 102 गेंदों में 95 रन की शानदार पारी खेली थी।अजित आगरकर के नाम ही एक दिवसीय क्रिकेट में भारत की तरफ से सबसे तेज अर्धशतक लगाने का रिकॉर्ड भी दर्ज है।

इस दिग्गज क्रिकेटर का ऐलान- देश के सभी स्वास्थ्य कर्मचारियों को देगा फ्री में खाना

हालांकि अजित आगरकर के नाम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ लगातार सात पारियों में खाता भी नहीं खोल पाने का शर्मनाक रिकॉर्ड भी दर्ज है। शायद इसी आधार पर ऑस्ट्रेलियाई टीवी चैनल फॉक्स क्रिकेट ने पुछल्ले खराब बल्लेबाजों की ऑलटाइम इलेवन में अजित आगरकर को भी शामिल किया है।

टीम: क्रिस मार्टिन (न्यूजीलैंड), कोर्टनी वॉल्श (वेस्टइंडीज), ग्लेन मॅक्ग्राथ (ऑस्ट्रेलिया), मोंटी पानेसर (इंग्लैंड), अजित आगरकर, जसप्रीत बुमराह (भारत), फिल टफनेल (इंग्लैंड), ब्रूस रीड (ऑस्ट्रेलिया), डेवोन मैल्कम (इंग्लैंड), हैनरी ओलोंगा और पोमी म्बांग्वा (जिम्बाब्वे)।

May 1st 2020, 1:04 am

अब अशोक गहलोत की इस मांग को मान सकती है केन्द्र सरकार

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। केन्द्र सरकार द्वारा घोषित लॉकडाउन के दूसरे चरण की अवधि रविवार को समाप्त होने जा रही है। इससे पहले ही केन्द्र सरकार ने देश के अलग-अलग जगहों पर फंसे प्रवासी मजदूरों, पर्यटकों, विद्यार्थियों आदि की आवाजाही की अनुमति दे दी है।

ICMR ने दी प्लाज्मा थेरेपी के अंधाधुंध प्रयोग से बचने की सलाह, ये है बड़ा कारण

इसके बाद राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मोदी सरकार से प्रवासी मजदूरों, पर्यटकों और विद्यार्थियों अपने-अपने राज्य लाने ले जाने के लिए विशेष ट्रेन चलाने की मांग थी।

अशोक गहलोत की इस मांग का देश के छह राज्य पंजाब, तेलंगाना, केरल, कर्नाटक, बिहार और झारखंड ने समर्थन किया था। अब केन्द्र सरकार इस मांग पर विचार कर रही है। राज्य सरकारों की केन्द्र के साथ हुई बात से इस प्रकार के संकेत मिल रहे हैं।

उद्धव ठाकरे की कुर्सी पर मंडरा रहे हैं संकट के बादल, ये है बड़ा कारण

इससे पहले केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने सभी राज्य और केंद्रशासित प्रदेश को फंसे हुए लोगों को उनके गृह राज्यों में भेजने और दूसरी जगहों से अपने नागरिकों को लाने के लिए एक मानक प्रॉटोकॉल तैयार करने का निर्देश दिया था।

इसके बाद अशोक गहलोत ने कहा था कि लम्बी दूरी वाले राज्यों से बसों के माध्यम से लोगों को लाने ले जाने में परेशानी का सामना करना पड़ेगा। इसी के तहत उन्होंने विशेष ट्रेनें चलवाने की केन्द्र सरकार से मांग की थी।

May 1st 2020, 12:34 am

16 वर्ष की उम्र में कुछ ऐसी दिखती थी सनी लियोन, तस्वीरें देखकर नहीं होगा यकीन

Samachar Jagat

मेरे प्यारे दोस्तों, आज के जमाने में बॉलीवुड हो या फिर फिल्मी जगत हर जगत में बहुत सारे जाने-माने कलाकार आ चुके हैं. जो अपनी एक्टिंग और खूबसूरती से एक-दूसरे को टक्कर देने में अव्वल आ रहे हैं .दोस्तों बॉलीवुड में बहुत सारी अभिनेत्रियां हैं जो एक एक्टिंग और खूबसूरती दोनों में सब को मार देती है. आज के इस पोस्ट में हम आप लोगों को बॉलीवुड की बेहद ही खूबसूरत अभिनेत्री की तस्वीर दिखाने वाले हैं जिसमें वह काफी ज्यादा अलग नजर आ रही है .तस्वीरें देखकर आपको थोड़ा हैरानी भी होगा. अगर आप भी जानना चाहते हैं कि उनकी तस्वीरें कैसी लगती है तो हमारी इस पोस्ट को अंत तक अवश्य पढ़िए.

तो आइए जानते हैं विस्तार से और देखते हैं उनकी तस्वीरें......................

दोस्तों, सबसे पहले हम आप लोगों को बता दे कि सनी लियोन बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री के सबसे लोकप्रिय और हॉट अभिनेत्रियों में से एक है. जी हां दोस्तों जैसा कि आप सभी इनके बारे में जानते ही होंगे आपको बताते चले कि इनका जन्म 13 मई 1981 को सर्निया कनाडा में हुआ था और फिलहाल उनकी उम्र 38 वर्ष है.

आपको बताते चले कि इनका नाम यानी कि पूरा नाम करनजीत कौर वोहरा है. वह रियल लाइफ में शादीशुदा है. सनी ने साल 2011 में डेनियल वेबर से शादी किया था. आप सभी जानते ही होंगे कि सनी ने दो जुड़वा बच्चे को जन्म दिया है और उन्होंने एक बच्ची को गोद भी लिया हुआ है.

97

सनी सिर्फ दिखने में खूबसूरत नहीं बल्कि वह दिल से भी काफी ज्यादा अच्छी है उनकी गोद ली हुई बेटी का नाम निशा है. वह अपनी बेटी को काफी ज्यादा प्यार करती है उनका नाम तो आप जान ही गए होंगे उनका लालन-पालन हुआ अपने बच्चे की तरह ही कर रही है.

दोस्तों, आज के जमाने में शनि को कौन नहीं जानता है हर कोई जानता है वह बॉलीवुड की हॉट सींस के लिए काफी ज्यादा मशहूर है. दिखने में वह किसी अप्सरा से कम नहीं है आपको बता दें कि जब वह छोटी थी तो बहुत ही खूबसूरत नजर आती थी जैसा कि आप देख सकते हैं कि वह किसी ज्यादा खूबसूरत नजर आ रही है.

दोस्तों, हमें नीचे कमेंट बॉक्स में अपनी राय जरूर दें और हां कृपया करके लाइक, फॉलो, कमेंट और शेयर करना ना भूले. धन्यवाद !

May 1st 2020, 12:23 am

जयपुर के बाद अब राजस्थान के इस जिले में तेजी से बढ़ रहे हैं कोरोना के मामले

Samachar Jagat

जयपुर। राजस्थान में कोरोना वायरस का संक्रमण बहुत ही तेजी से फैलता जा रहा है। गुरुवार को बारां से भी मामला सामने आने के बाद प्रदेश में कोरोना वायरस का संक्रमण अब तक 33 में 29 जिलों में पहुंच चुका है।

राजस्थान में नहीं थम रहा है कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा, आज मिल चुके हैं इतने संक्रमित लोग

गुरुवार को एक बार फिर से राजस्थान में कोरोना वायरस के बड़ी संख्या में मामले आए हैं। यहां पर कल 146 कोरोना के नए मामले सामने आए। जोधपुर से रिकॉर्ड संख्या में मरीज मिले हैं। यहां पर गुरुवार को ही 97 मरीज मिले हैं।

पीएम की वीसी के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लॉकडाउन हटाने को लेकर दिए ये संकेत

जबकि दूसरे स्थान पर राजधानी जयपुर रहा। जयपुर में 29 नए मरीज मिले। इनके अलावा कोटा से पांच, अजमेर से चार, चित्तौडग़ढ़ से तीन, अलवर, बांसवाड़ा और टोंक में दो-दो, बारां और धौलपुर से एक-एक संक्रमित पाया गया है।अभी तक जयपुर से सबसे अधिक 911 मामले सामने आए हैं। जबकि दूसरे स्थान पर जोधपुर (557) है।

इससे राजस्थान में कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या बढक़र 2584 हो गई है। गुरुवार को राजस्थान में कोरोना वायरस ने दो लोगों की जान ली। इनमें से एक मामला जयपुर से तो दूसरा चित्तौड़ से हैं।

May 1st 2020, 12:23 am

इन राशियों पर होगी अचानक ही धन की बारिश, ये है कारण

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। देश में लोगों द्वारा राशियों को विशेष महत्व दिया जाता है। लोग राशि के हिसाब से ही दिन की शुरुआत करना पसंद करते हैं। आज तीन राशियों के लिए दिन बहुत ही अच्छा रहने वाला है। पैसों के हिसाब से दिन बहुत ही अच्छा रहेगा।

साड़ी में छा गई यह अभिनेत्री, दिखी अप्सरा जैसी खूबसूरत, तस्वीरें हो रही है वायरल, देखें

मेष: इस राशि के जातकों के लिए दिन बहुत ही विशेष रहने वाला है। लोगों को पारिवारिक जीवन में सुख की अनुभूति होगी। वहीं मानसिक तनाव में भी कमी देखने का मिलेगी।

वृष: इस राशि के जातकों का अपनी तेज बुद्धि और कार्यकुशलता के कारण दिन बहुत ही अच्छा गुजरेगा। किसी पुरानी हॉबी के कारण इनकम मेें भी इजाफा होगा। जातकों को दांपत्य जीवन में तनाव से मुक्ति मिल सकेगी। प्रेम जीवन के हिसाब से भी दिन अच्छा रहेगा।

16 वर्ष की उम्र में कुछ ऐसी दिखती थी सनी लियोन, तस्वीरें देखकर नहीं होगा यकीन

कन्या: इस राशि के जातकों के लिए आज का दिन लाभकारी साबित होगा। इनकम में इजाफा होगा। प्रेम संबंधों के हिसाब से भी दिन बहुत ही शुभ रहने वाला है। काम के सिलसिले में भी लोगों को अच्छे परिणाम प्राप्त होंगे। जातकों पर अचानक ही धन की बारिश हो सकती है।

May 1st 2020, 12:23 am

ऋषि कपूर की संपत्ति के बारे में जानकार चौंक जाएंगे आप

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। बॉलीवुड के स्टार अभिनेता ऋषि कपूर का 67 साल की उम्र में गुरवार को निधन हो गया है। ऋषि कपूर को अभिनय कला विरासत में मिली थी। उनका पूरा परिवार फिल्मों से जुड़ा हुआ है। खानदानी रईस होने के कारण वह अपने बेटे रणबीर कपूर के लिए अरबों की संपत्ति छोडक़र गए हैं।

अभिनय के क्षेत्र में बादशाहत साबित करने से पहले इरफान खान को पूरी करनी पड़ी थी मां की ये शर्त

एक बार तो उनकी संपत्ति के बारे में जानकर आप चौंक ही जाएंगे। बताया जा रहा है कि ऋषि कपूर की कुल संपत्ति करीब 300 करोड़ रुपए है। लगभग 123 फिल्मों में अभिनय कर चुके ऋषि कपूर की अपने कॅरियर के चरम पर वार्षिक आय 20 करोड़ रुपए थी। उनकी कमाई के अलावा ऋषि के पास लगभग सौ करोड़ रुपए की संपित्त है।

बॉलीवुड अभिनेता इरफान खान का निधन, इस कारण हमेशा किया जाएगा याद

बॉलीवुड का ये स्टार अभिनता फिल्म निर्माता और निर्देशक तो था ही साथ ही वह विभिन्न व्यावसायिक उद्यमों में हिस्सेदारी रखता था। उनके अलावा वह विज्ञापनों के माध्यम से कमाई करते थे। अपने पिता की फिल्म मेरा नाम जोकर से फिल्मी करियर शुरू करने वाले ऋषि कपूर की 36 फिल्में सफल रही हैं।

May 1st 2020, 12:23 am

कोरोना वायरस को लेकर फर्जी खबरें चलाने पर ओवैसी को आया गुस्सा

Samachar Jagat

कोरोना वायरस संकट के बीच ही अफवाहों का बाजार गर्म है. तबलीगी जमात से जुड़े कई फर्जी पोस्ट वायरल हैं. समाचार चैनलों के मशहूर ऐंकरों से लेकर समाचार चैनलों ने सोशल मीडिया पर खूब अफवाहें भी फैलाईं. लेकिन पुलिस ने इसे फर्जी बताया और महाराष्ट्र में तो कई समाचार चैनलों पर फर्जी खबर प्रसारित करने और एक धर्म विशेष के खिलाफ एजंडा चलाने के लिए मुकदमा भी दर्ज किया गया है. इस तरह की अफवाह फैलाने वालों पर सरकार की चुप्पी भी सवाल खड़े कर रही है क्योंकि माना जा रहा है कि भाजपा आईटी सेल इस तरह की फर्जी खबरों को परोसने में लगा है. बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी भाजपा आईटी सेल पर बिना नाम लिए निशाना साधा था. हालांकि सोशल मीडिया पर ही इन खबरों की सच्चाई भी तलाश कर इसका विरोध भी हो रहा है. चैनलों में बैठ ऐंकरों का रवैया किस तरह का है, यह इसी से समझा जा सकता है कि एक चैनल के ऐंकर ने तो तबलीगी जमात को तालिबानी जमात तक कह डाला. उन्हें जब टोका गया तो वे साफ मुकर गए. इसी तरह की खबरों से देश का माहौल बिगड़ रहा है. ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन प्रमुख और सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने मुसलमानों को बदनाम करने के लिए फर्जी खबर चलाने का आरोप लगाया.

असदुद्दीन ओवैसी ने भी ट्वीट करके भाजपा पर जोरदार निशाना साधा. ओवैसी का कहना है कि लॉकडाउन और कोरोना वायरस की आलोचना से बचने के लिए ऐसा प्रयास किया जा रहा है. असदुद्दीन ओवैसी ने ट्वीट कर कहा कि बिना योजना बनाए लागू किए गए लॉकडाउन और कोविड-19 से नौसिखियों की तरह निपटने की कोशिशों की आलोचना से बचने का मिलाजुला प्रयास किया जा रहा है. भाजपा के प्रचारकों को मालूम होना चाहिए कि वे व्हॉट्सऐप फॉरवर्ड के ज़रिए कोरोना वायरस को नहीं हरा सकते. मुस्लिमों को बलि का बकरा बनाना कोरोना वायरस की दवा नहीं है, न ही यह पर्याप्त टेस्टिंग का विकल्प हो सकता है.

तबलीगी जमात के मामले के बाद से ऐसे मामले भी देखने को मिल रहे हैं, जिनमें कुछ लोग धार्मिक अतिवादिता को बढ़ावा दे रहे हैं. इस संबंध में निर्देशक और लेखक मिलाप जावेरी ने हाल ही में एक ट्वीट किया है, जो खूब सुर्खियां बटोर रहा है. मिलाप जावेरी ने ट्वीट किया कि सभी मुसलमान आतंकवादी नहीं हैं. सभी हिंदू कट्टरपंथी नहीं हैं. सभी मनुष्य परिपूर्ण नहीं हैं. लेकिन हम सभी को एक दूसरे का सम्मान करने की जरूरत है. हमें इस वायरस के खिलाफ लड़ाई में धर्म को बीच में लाने से रोकना चाहिए. हम भारतीय हैं. हम इंसान हैं. आइए हम भारत और दुनिया के लिए एक साथ लड़ाई लड़ें. (राजनीतिक-सामाजिक मुद्दों पर सटीक विशलेषण के लिए पढ़ें और फॉलो करें).

April 8th 2020, 9:18 am

आईसीयू में पड़ा था ताला, एंबुलेंस में तड़प रही थी महिला

Samachar Jagat

इसे अस्पताल प्रशासन की लापरवाही भले कहा जाए लेकिन इसने मानवता को शर्मसार कर डाला है. अस्पताल की चूक ने एक महिला की मौत हो गई. अस्पताल से लेकर पूरा प्रशासन अब मामले को रफा-दफा करने में जुटा है. देश में कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे की वजह से मेडिकल इमरजेंसी जैसा माहौल है. लेकिन इस माहौल के बावजूद बड़ी चूक सामने आई जब आईसीयू में ताला लटका मिला. इंसानियत को शर्मसार करने वाला वाकया शायद ही कहीं देखा गया हो, वह भी तब जब अस्पतालों को हर समय हालात से निपटने के लिए सरकार का खास निर्देश है. जिला प्रशासन ने अब मामले का संज्ञान लेकर अस्पताल के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी है.

मध्‍य प्रदेश में कोरोना के सबसे ज्‍यादा मरीज इंदौर में हैं मगर उज्‍जैन से भी सात पॉजिटिव केस सामने आए हैं. ऐसे में प्रशासन को पूरी तरह चौकन्‍ना रहना चाहिए कि इंदौर जैसे हालात उनके जिले में ना हों. लेकिन व्‍यवस्‍थाओं की पोल खुल गई. सरकारी अस्‍पताल में वेंटिलेटर नहीं मिला तो यहां की एक बुजुर्ग महिला को निजी अस्‍पताल ले जाया गया. इन्‍टेंसिव केयर यूनिट (आईसीयू) में एडमिट नहीं किया जा सका क्‍योंकि उसके दरवाजे पर ताला पड़ा था. चाबी किसी स्‍टाफ के पास नहीं थी. इस दौरान महिला की हालत खराब होती चली गई. ताला तोड़ा गया. डॉक्‍टरों ने कोशिश की, मगर महिला की जान नहीं बचा सके.

लेकिन इन हालात में करीब आधा घंटे तक महिला मरीज एम्बुलेंस में ही आखिरी सांसें गिनती रही. आखिरकार कुछ देर बाद ही 55 साल की लक्ष्मी बाई की मौत हो गई. कोरोना वायरस से लड़ने और उसे हराने के संकल्प को लेकर शासन प्रशासन और देशवासी एक दिखाई दे रहे हैं लेकिन इस बीच उज्जैन के आर गार्डी मेडिकल कालेज से जो तस्वीरें सामने आई हैं वह शर्मसार और हैरान कर देने वाली हैं जिसके कारण एक महिला की मौत हो गई. यह मामला उज्जैन का है जहां 55 साल की लक्ष्मी बाई को सांस लेने में तकलीफ और ब्लड प्रेशर बढ़ा होने के कारण पहले परिवार वाले माधव नगर अस्पताल लेकर गए जहां पर महिला को भर्ती कर लिया गया. यहां देर रात में करोना संक्रमण का संदेह होने पर लक्ष्मी बाई को आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज भेज दिया गया. मेडिकल कॉलेज में आईसीयू के गेट पर ताला लगा मिला.

करीब आधे घंटे तक महिला बिना वेंटिलेटर के एंबुलेंस में ही अपनी आखिरी सांसें गिनती रही और महिला के परिजन आईसीयू खुलने का इंतजार करते रहे. मेडिकल कॉलेज के कर्मचारियों ने बड़ी मशक्कत के बाद आईसीयू का ताला खोला और महिला का इलाज शुरू किया लेकिन इस बीच ही समय पर इलाज नहीं मिलने के करण महिला ने दम तोड़ दिया. इसकी खबर मिलने के बाद उज्जैन के कलेक्टर शशांक मिश्रा ने कार्रवाई करते हुए माधव नगर अस्पताल प्रभारी डॉ महेश परमट और सिविल सर्जन डॉक्टर आरपी परमार को हटा दिया है. वहीं सीएमएचओ अनुसिया गवली ने अस्पताल प्रबंधन पर भी कार्रवाई की बात कही है. लेकिन इस घटना ने साबित कर दिया के मेडिकल इमरजंसी के हालात में भी हम मरीजों के साथ किस तरह से व्यवहार कर रहे हैं. (राजनीतिक-सामाजिक मुद्दों पर सटीक विशलेषण के लिए पढ़ें और फॉलो करें).

April 8th 2020, 9:18 am

कोरोना की दवा समझकर अल्कोहल पीने से ईरान में छह सौ लोगों की मौत

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। कोरोना वायरस का संक्रमण दुनिया में लगातार बढ़ता ही जा रहा है। इस वायरस के कारण अभी तक 14 लाख से अधिक लोग संक्रमित हो चुके हैं, जबकि 80 हजार से अधिक लोगों की इसने जान ले ली है।

अब अमेरिका ने विश्व स्वास्थ्य संगठन पर ही कर दी ये कार्रवाई

इसी बीच ईरान से एक चौंकाने वाला मामला सामने आ है। यहां पर कोरोना वायरस की दवा समझकर नीट अल्कोहल पीने से छह सौ लोगों की मौत हो गई है। यहां पर तीन हजार लोगों को जहरीला अल्होकल पीने से बीमार होने पर अस्पताल में भर्ती करवाया गया था।

ईरान के प्रवक्ता घोलम हुसैन इस्माइली ने इस बात की जानकारी देते हुए बताया कि लोगों ने कोरोना वायरस की दवा समझकर नीट अल्कोहल पी लिया था, इसके बाद बड़ी संख्या में लोग बीमार हो गए। इस दौरान उन्होंने बताया कि यह अल्कोहल पीने से मौतों का आंकड़ा काफी बड़ा है। यह अल्कोहल अब लोगों के लिए जानलेवा साबित हो रहा है।

जवाबी कार्रवाई की धमकी देने वाले डोनाल्ड ट्रंप ने अब पीएम मोदी के बारे में बोल दी ये बड़ी बात

इस मामले में अभी तक ईरान में कई लोगों को हिरासत में लिया गया है। इस देश में अभी तक कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 62 हजार से अधिक हो गई है। जबकि जबकि करीब 3800 लोगों की मौत हो गई है।

April 8th 2020, 6:44 am

आवश्यक वस्तुओं की जमाखोरी रोकने के लिए अब केन्द्र सरकार ने राज्यों को दिए ये निर्देश

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार ने अब कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए पूरे देश में लागू लॉकडाउन में रोजमर्रा के आवश्यक सामानों की जमाखोरी और ब्लैक मार्केटिंग पर रोक लगाने के लिए राज्यों को अपने यहां एसेंशियल कमोडिटी एक्ट लागू करने का निर्देश दिया है।

केन्द्र सरकार इन स्थानों से हटा सकती है लॉकडाउन, पीएम मोदी इस दिन लेेंगे बड़ा फैसला!

केन्द्र सकार ने सभी राज्यों के मुख्य सचिवों को इस संबंध में निर्देश दिए हैं। इस एक्ट में जरूरी वस्तुओं की जमाखोरी करने वालों को सात साल तक की सजा का प्रावधान है।

कोरोना जांच को लेकर अब सुप्रीम कोर्ट ने कही ये बात

गौरतलब है कि लॉकडाउन के दौरान आटा, दाल, बेसन और खाने के तेल की सप्लाई बाधित होने से इनकी कीमतों में इजाफा देखा जा रहा है। इसके कारण गरीब जनता को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इसी को देखते हुए मोदी सरकार ने राज्यों के मुख्य सचिवों को पत्र लिखकर आवश्यक वस्तुओं की जमाखोरी और ब्लैक मार्केटिंग पर रोक लगाने के लिए आवश्यक कदम उठाने का निर्देश दिया है।

April 8th 2020, 6:44 am

अब लॉकडाउन को लेकर यूपी की पूर्व सीएम मायावती ने बोल दी ये बड़ी बात

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। कोरोना वायरस के संक्रमण से लोगों को बचाने के लिए घोषित 21 दिनों का लॉकडाउन 14 अप्रेल के बाद हटेगा या नहीं, इसको लेकर केन्द्र की नरेन्द्र मोदी ने अभी तक कोई निर्णय लिया है। अब उत्तरप्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने भी इस संबंध में ट्वीट किया है। बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) की प्रमुख मायावती ने सोशल मीडिया पर केन्द्र और राज्य सरकारों से लोगों की रोजी-रोटी को ध्यान में रखकर आगे का फैसला करने की बात कही है।

केन्द्र सरकार इन स्थानों से हटा सकती है लॉकडाउन, पीएम मोदी इस दिन लेेंगे बड़ा फैसला!

उन्होंने आज ट्वीट करते हुए लिखा कि देश में कोरोना के बढ़ते घातक प्रकोप मामले में केन्द्र व राज्य सरकारों को पूरे तालमेल से काम करने के साथ ही देश की 130 करोड़ जनता की रोजी-रोटी व उनके व्यापक हित को ध्यान में रखकर ही अगला फैसला लेने की जरूरत है। बीएसपी, सरकार के ऐसे सर्वजन हिताय के फैसलों का जरूर स्वागत करेगी।

देश में कोरोना के बढ़ते घातक प्रकोप मामले में केन्द्र व राज्य सरकारों को पूरे तालमेल से काम करने के साथ ही देश की 130 करोड़ जनता की रोजी-रोटी व उनके व्यापक हित को ध्यान में रखकर ही अगला फैसला लेने की जरूरत है। बीएसपी, सरकार के ऐसे सर्वजन हिताय के फैसलों का जरूर स्वागत करेगी।

— Mayawati (@Mayawati) April 8, 2020

कोरोना जांच को लेकर अब सुप्रीम कोर्ट ने कही ये बात

इससे पहले पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने यूपी के बीएसपी विधायकों से भी पार्टी के सभी सांसदों की तरह अपनी विधायक निधि से कम से कम 1-1 करोड़ रुपए अतिजरूरतमन्दों की मदद हेतु देने की अपील की थी।

April 8th 2020, 6:44 am

जल्द क्रिकेट शुरू नहीं होने पर बीसीसीआई को उठाना पड़ेगा इतने हजार करोड़ रुपए का नुकसान!

Samachar Jagat

खेल डेस्क। कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की बढ़ती हुई संख्या को देखते हुए आईपीएल का अप्रैल तो क्या मई में शुरू होना भी अब तो लगभग असंभव नजर आ रहा है। अगर इस साल कोरोना वायरस के कारण इंडियन प्रीमियर लीग का 13वां संस्करण शुरू नहीं हो पता है तो भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड को बड़ा नुकसान उठाना पड़ेगा।

जन्मदिन विशेष: गावस्कर, सचिन और द्रविड़ भी नहीं तोड़ सके दिलीप वेंगसरकर का ये रिकॉर्ड

बीसीसीआई के सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, अगर आईपीएल रद्द होता है और जल्द अन्तरराष्ट्रीय क्रिकेट शुरू नहीं हो पाता है फिर भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड को 2 हजार करोड़ का नुकसान होगा। फिर बोर्ड के नुकसान की भरपाई खिलाडिय़ों का वेतन काटकर की जाएगी। इस कटौती में अंतरराष्ट्रीय और घरेलू दोनों क्रिकेटर शामिल होंगे।

सचिन तेंदुलकर ने नौ साल बाद किया ये बड़ा खुलासा

गौरतलब है कि आईपीएल का 13वां सीजन 29 मार्च से शुरू होना था, लेकिन कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए इसे इसे 15 अप्रैल तक के लिए स्थगित कर दिया गया है।

April 8th 2020, 4:59 am

सलमान खान को मिल गया इतने हजार श्रमिकों का खाता विवरण, अब कर रहे हैं ऐसा

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। कोरोना वायरस से प्रभावित लोगों की सहायता के लिए अभी तक बॉलीवुड के कई कलाकार सामने आ चुके हैं। जहां बॉलीवुड के खिलाड़ी अक्षय कुमार ने 25 करोड़ रुपए का दान दिया है। वहीं बॉलीवुड के सुल्तान सलमान खान ने फिल्म उद्योग के 25,000 श्रमिकों का खर्च वहन करने का वादा किया था।

अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद बढ़ीं बॉलीवुड सिंगर कनिका कपूर की मुश्किलें

अब सलमान खान ने इस श्रमिकों की सहायता करना भी प्रारम्भ कर दिया है। बॉलीवुड के दबंग सलमान खान को फिल्म उद्योग से जुड़े 16 हजार श्रमिकों का खाता विवरण प्राप्त हो चुका है। इसके बाद सलमान ने पैसे ट्रांसफर करना शुरू कर दिया है, अब जल्द ही इन सभी श्रमिकों को पैसे मिलना शुरू हो जाएगा।

कनिका कपूर की चौथी रिपोर्ट में आया ये परिणाम, बॉलीवुड सिंगर ने कही ये बात

फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इंडिया सिने एम्प्लॉइज ने 19 हजार श्रमिकों से खाता विवरण प्राप्त किया था। इसमें से तीन हजार कामगार पहले ही यशराज फिल्म्स से पांच हजार रुपए की सहायता प्राप्त कर चुके हैं। फेडरेशन ने बाकी बचे श्रमिकों का विवरण सलमान खान को भेज दिया है।

April 8th 2020, 4:59 am

केन्द्र सरकार इन स्थानों से हटा सकती है लॉकडाउन, पीएम मोदी इस दिन लेेंगे बड़ा फैसला!

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। देश में 14 अप्रैल के बाद लॉकडाउन हटेगा या नहीं, ये अभी तक तय नहीं हो पाया है। देश में कोराना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच अब इस संंबंध में केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार ही बड़ा फैसला लेगी।अब माना जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राज्यों के मुख्यमंत्रियों और केंद्र शासित प्रदेशों के प्रशासकों और लेफ्टिनेंट गवर्नर से संवाद के बाद ही लॉकडाउन पर कोई फैसला लेेंगे।

कोरोना जांच को लेकर अब सुप्रीम कोर्ट ने कही ये बात

जो जानकारी सामने आ रही है उसके अनुसार पीएम मोदी शनिवार को देश के विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्रियों, प्रशासकों और लेफ्टिनेंट गवर्नर्स से वीडियो कॉफे्रंसिंग के माध्यम से संवाद करेंगे। मोदी सरकार लॉकडाउन को चरणबद्ध तरीके से हटाना चाहती है। सरकार देश के ऐसे स्थानों से लॉकडाउन को हटा सकती है जहां से कोरोना वायरस के मामले नहीं आ रहे हैं।

खुशखबरी: भारतीय कंपनी चार महीने में शुरू करेगी वैक्सीन का मानव परीक्षण

हालांकि देश के कई राज्य अभी लॉकडाउन को हटाने के पक्ष में दिखाई नहीं दे रहे हैं। कई राज्यों में कोरोना वायरस के कारण स्थिति अच्छी नहीं है। यहां पर इस वायरस से संक्रमित लोगों को आंकड़ा लगातार बढ़ता ही जा रहा है।

April 8th 2020, 4:59 am

कोरोना जांच को लेकर अब सुप्रीम कोर्ट ने कही ये बात

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। देश में निजी लैब्स में कोरोना वायरस की जांच के लिए पैसे नहीं लगेंगे। चीन से फैली इस खतरनाक बीमारी की जांच को लेकर निजी लैब्स द्वारा वसूले जा रहे 4,500 रुपए के खिलाफ दायर एक याचिका पर सुनवाई करते हुए उच्चतम न्यायालय ने इस बात को स्पष्ट किया है। देश के शीर्ष कोर्ट ने स्पष्ट कर दिया है कि जांच के लिए पैसे नहीं लगेंगे।

खुशखबरी: भारतीय कंपनी चार महीने में शुरू करेगी वैक्सीन का मानव परीक्षण

उच्चतम न्यायालय ने सुनवाई के दौरान कहा कि निजी लैब को कोरोना वायरस की जांच के लिए पैसे लेने की अनुमति नहीं होनी चाहिए। कोर्ट ने इस संबंध में आदेश पारित करने की भी बात कही है। हालांकि कहा गया कि परीक्षणों के लिए सरकार से पैसे लेने का मैकेनिज्म बनाया जा सकता है।

राजस्थान सहित इन दस राज्यों में आज हो सकती है बारिश

पिछले माह ही भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद ने मान्यता प्राप्त निजी लैब्स को कोराना वायरस की जांच करने की स्वीकृति दी थी। इसी दौरान जांच की कीमत 4,500 रुपए तय की गई थी। गौरतलब है कि भारत में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों का आंकड़ा लगातार बढ़ता ही जा रहा है।

April 8th 2020, 3:43 am

अब अमेरिका ने विश्व स्वास्थ्य संगठन पर ही कर दी ये कार्रवाई

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। दुनिया के सबसे शक्तिशाली देश अमेरिका कोरोना वायरस के कारण बेहाल हो गया है। इस खतरनाक वायरस के कारण 24 घंटों में ही लगभग दो हजार लोगों की मौत हो गई है।

जवाबी कार्रवाई की धमकी देने वाले डोनाल्ड ट्रंप ने अब पीएम मोदी के बारे में बोल दी ये बड़ी बात

जॉन होपकिंस यूनिवर्सिटी से मिली जानकारी के अनुसार अब अमेरिका में कोरोना वायरस से मरने वाले लोगों की संख्या 12021 हो गई है। अब इस वायरस से संक्रमित होने वाले लोगों की संख्या अमेरिका में चार लाख के करीब पहुंच गई है।इसी बीच अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कोरोना वायरस की सही समय पर चेतावनी नहीं देने का आरोप लगाते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन के फंडिंग पर रोक लगा दी है।

डोनाल्ड ट्रंप ने विश्व स्वास्थ्य संगठन पर दुनियाभर में जारी कोरोना महामारी को लेकर चीन केंद्रीत होने का आरोप गया है। ट्रंप ने कहा कि हम डब्ल्यूएचओ को दी जानी धनराशि को रोकने जा रहे हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति ने डब्ल्यूएचओ पर कोरोना से निपटने में गलत सलाह देने का भी आरोप लगाया है।

अब इंसानों से जानवरों में फैला कोरोना वायरस! इस देश में आया नया मामला

गौरतलब है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन की ओर से सबसे ज्यादा पैसा अमेरिका की ओर से ही दिया जाता है। अब अमेरिका द्वारा ये बड़ा कदम उठाना डब्ल्यूएचओ के लिए चिंता का कारण बन गया है।

April 8th 2020, 2:42 am

राजस्थान में अब इतना पहुंच चुका है कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों का आंकड़ा

Samachar Jagat

जयपुर। राजस्थान में कोरोनो वायरस से संक्रमित लोगों का आंकड़ा लगातार बढ़ता ही जा रहा है। ये आंकड़ा आज 348 पहुंच गया है।प्रदेश में आज सुबह कोरोना वायरस से संक्रमित पांच नए मामले सामने आए हैं। इन पांच नए लोगों में से तीन जयपुर के रामगंज और घाटगेट इलाके से और एक-एक बीकानेर और बांसवाड़ा से सामने आया है।

कोरोना वायरस की जंग में जेके लोन के डॉक्टर को मिली ये बड़ी सफलता

जयपुर में आज मिले तीनों व्यक्ति पहले संक्रमित मिल चुके लोगों के संपर्क में आने से कोरोना पॉजिटिव हुए हैं। राजस्थान में यह आंकड़ा बहुत ही तेजी से बढ़ता जा रहा है। मंगलवार को प्रदेश में 42 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले थे। चीन से फैले इस खतरनाक वायरस की चपेट में अभी तक राजस्थान के 22 जिले आ चुके हैं।

अब जयपुर में ऐसे लोगों के खिलाफ होगी सख्त कार्रवाई, कलेक्टर ने जारी किए आदेश

अभी तक राजस्थान की राजधानी जयपुर में सबसे ज्यादा 111 व्यक्ति कोरोना वायरस से संक्रमित मिल चुके हैं। वहीं जोधपुर में 66, भीलवाड़ा में 27, झुंझुनूं में 23, टोंक में 20, बीकानेर में 15, जैसलमेर में 14, चूरू में 11, बांसवाड़ा और कोटा में दस-दस, भरतपुर में आठ, दौसा में छह, डूंगरपुर, अजमेर और अलवर में पांच-पांच, उदयपुर में चार, प्रतापगढ़ और पाली में दो-दो, तथा करौली, नागौर, धौलपुर और सीकर में एक-एक संक्रमित मिल चुका है।कोरोना से संक्रमित लोगों को आंकड़ा बढऩे से प्रदेश सरकार बहुत ही चिंतित नजर आ रही है। सरकार अभी लॉकडाउन को हटाने के मुड में दिखाई नहीं दे रही है।

April 8th 2020, 2:25 am

केवल पांच सैकेंड में ही व्यक्ति का पूरा शरीर सेनेटाइज्ड कर देगी ये मशीन, एक रुपए से भी कम आएगी लागत

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। राजस्थान के जोधपुर में एक ऐसी मशीन तैयार कर ली गई है जो केवल केवल पांच सैकेंड में ही व्यक्ति का पूरा शरीर सेनेटाइज्ड कर देगी। इसमें लागत भी एक रुपए से कम ही आएगी।

कोरोना वायरस की जंग में जेके लोन के डॉक्टर को मिली ये बड़ी सफलता

इस मशीन को जोधपुर के इंजीनियर नकुल चौधरी ने जुगाड़ कर 40 हजार रुपए में तैयार किया है। पांच गुणा पांच फीट चौड़ाई एवं आठ फीट लम्बाई की इस मशीन को चौधरी ने अब जोधपुर स्थित मथुरादास माथुर अस्पताल को भेंट कर दिया है। प्लास्टिक से कवर इस मशीन में 12 फव्वारें लगाए गए हैं।

अब जयपुर में ऐसे लोगों के खिलाफ होगी सख्त कार्रवाई, कलेक्टर ने जारी किए आदेश

इस मशीन में व्यक्ति के घुसते ही पांच सैकेंड के लिए हाइपो क्लोराइड युक्त पानी के फव्वारे प्रारम्भ हो जाते हैं। इससे व्यक्ति का पूरा शरीर कुछ सैकंडों में ही सेनटाइज्ड हो जाता है। आधे हार्सपावर की इस मशीन को जांच के लिए एमडीएम अस्पताल जोधपुर में निशुल्क लगाया है। आगामी एक दो दिन परीक्षण होने के बाद नई मशीनें बनाने का कार्य प्रारम्भ किया जाएगा।

April 8th 2020, 1:55 am

डोनाल्ड ट्रंप की धमकी के बाद विपक्ष सरकार के साथ खड़ा दिखा

Samachar Jagat

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की भारत को धमकी का मामला तूल पकड़ गया है. ट्रंप की चेतावनी से भाजपा सकते में है तो विपक्ष हमलावर. सोशल मीडिया पर भी इसे लेकर बहसें हो रहीं हैं. ट्वीटर पर तो यह टाप पर ट्रेंड भी करने लगा था. कांग्रेस ने तो सरकार पर हमला बोला है, राष्ट्रीय लोक समता पार्टी व आप ने भी इस पर कड़ा एतराज जताया. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने मलेरिया की दवा को लेकर जवाबी कार्रवाई वाले डोनाल्ड ट्रंप के बयान की पृष्ठभूमि में कहा कि सरकार दूसरे देशों की मदद करे, लेकिन भारतीय नागरिकों के लिए जरूरी दवाएं उपलब्ध रहनी चाहिए. उन्होंने ट्रंप पर परोक्ष रूप से निशाना साधते हुए यह भी कहा कि मित्रता का मतलब जवाबी कार्रवाई नहीं होता है. राहुल गांधी ने ट्वीट किया कि मित्रता जवाबी कारवाई नहीं होती. भारत को जरूरत के इस समय में सभी देशों की मदद करनी चाहिए, लेकिन जीवनरक्षक दवाएं भारतीय नागरिकों के लिए उचित मात्रा में पहले उपलब्ध होनी चाहिए. ट्रंप ने भारत से हाइड्रोक्सी क्लोरोक्वीन की मांग दोहराते हुए कहा है कि अगर भारत इस दवा की आपूर्ति करता है तो ठीक, वरना हम जवाबी कार्रवाई कर सकते हैं.

अमेरिका में कोरोना वायरस का कहर तेजी से फैल रहा है. इस बीच, अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारत से कोरोना के मरीजों के इलाज में इस्तेमाल हो रही मलेरिया रोधी दवा हाइड्रोक्सी क्लोरोक्वाइन की आपूर्ति की मांग करते हुए चेतावनी दी थी कि भारत आपूर्ति नहीं करता है तो हम इसका जवाब देंगे. ट्रंप के इस बयान पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री शशि थरूर ने निशाना साधा है. थरूर ने ट्रंप को जवाब देते हुए अपने ट्वीट में लिखा कि वैश्विक मामलों में दशकों के अपने अनुभव में मैंने किसी राष्ट्राध्यक्ष या सरकार को दूसरे देश की सरकार को इस तरह खुलेआम धमकी देते हुए नहीं सुना. मिस्टर राष्ट्रपति. भारत में जो हाइड्रोक्सी क्लोरोक्वाइन बनाती है वह हमारी घरेलू आपूर्ति के लिए है. यह आपके लिए आपूर्ति का विषय तब बनेगा जब भारत इस दवा को आपको बेचने का फैसला करता है.

राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के प्रमुख और पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने ट्वीट किया और कहा कि सरकार को ट्रंप की धमकी से डरना नही चाहिए. मोदी जी देश की 130 करोड़ जनता आपके साथ है. स्वदेशी दवाओं पर पहला हक देशवालों का है. कुशवाहा ने प्रधानमंत्री को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की सलाह मानने को कहा. उन्होंने कहा कि कोरोना की संकट से उबरने में सोनिया गांधी की सलाह समय की जरूरत है. इस पर अमल करना चाहिए.

ट्रंप ने ब्रीफिंग के दौरान वाइट हाउस में कहा कि भारत अमेरिका की अच्छी बातचीत चल रही है और मुझे ऐसा कोई कारण नहीं दिखता कि भारत अमेरिका के दवा के ऑर्डर पर रोक जारी रखेगा. उन्होंने कहा था कि मैंने रविवार सुबह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात की और मैंने कहा था कि अगर आप हाइड्रोक्सी क्लोरोक्वीन की आपूर्ति को मंजूरी देते हैं तो हम आपके इस कदम की सराहना करेंगे. अगर वे दवा की आपूर्ति की अनुमति नहीं देते हैं तो भी ठीक है, लेकिन हां, वे हमसे भी इसी तरह की प्रतिक्रिया की उम्मीद रखें.

इस बीच दूसरे देशों में दवाओं के निर्यात को लेकर केंद्र सरकार ने मंगलवार को कहा है कि भारत उन देशों को कोरोना वायरस से बचाव की दवाएं भेजेगा जो इस महामारी के कारण बुरी तर‍ह प्रभावित हैं. विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता ने कहा कि महामारी के मानवीय पहलुओं के मद्देनजर यह निर्णय लिया गया है. भारत अपने सभी पड़ोसी देशों, जो हमारी क्षमताओं पर निर्भर हैं, को उचित मात्रा में पैरासिटामोल और हाइड्रॉक्सी क्लोरोक्वाइन की आपूर्ति करेगा. हम उन देशों में भी दवाओं की आपूर्ति करेंगे, जो कोरोनावायरस की महामारी से बुरी तरह प्रभावित हुए हैं.

ट्रंप की धमकी पर टीवी अभिनेत्री कविता कौशिक ने भी टिप्पणी की है. टेलीविजन की दबंग पुलिस अफसर चंद्रमुखी चौटाला यानी कविता कौशिक ने ट्वीट करते हुए लिखा कि मैं कह रही हूं, यह ब्रॉकली समोसा के कारण हुआ है. उन्हें निहारी और कोरमा देना चाहिए था, फिर देखते दोस्ती. कविता कौशिक के इस ट्वीट पर लोग मजेदार प्रतिक्रियी दे रहे हैं. पिछले महीने, भारत ने हाइड्रोक्सीलक्लोरोक्वीन के निर्यात पर रोक लगा दी थी जब ऐसी खबरें आईं कि कोविड-19 मरीजों का इलाज कर रहे स्वास्थ्य कर्मियों को संक्रमण से बचाने के लिए इस दवा का इस्तेमाल किया जा सकता है. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने कहा कि भारत का रुख हमेशा से यह रहा है कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय को एकजुटता व सहयोग दिखाना चाहिए. इसी नजरिए से हमने अन्य देशों के नागरिकों को उनके देश पहुंचाया है. (राजनीतिक-सामाजिक मुद्दों पर सटीक विशलेषण के लिए पढ़ें और फॉलो करें).

April 8th 2020, 1:55 am

होनी को कोई नहीं टाल सकता, अप्रैल से दिसंबर तक बुलंदियों को छू रहा इन 5 राशियों का नसीब

Samachar Jagat

सबसे पहले ऊपर दिए गए पीले रंग के बटन को दबाकर हमें फॉलो जरूर कीजिएगा वह सभी राशियां नीचे दी गई है।

आपकी मुलाकात अपने सपनों के साथी से हो सकती है, आपको किसी अप्रत्याशित व्यक्ति से उपहार भी मिल सकता है, आप कार्यक्षेत्र में कुछ बढ़िया कर सकते हैं, आप नए विचारों से परिपूर्ण रहेंगे और आप जिन कामों को करने के लिए चुनेंगे, वे आपको उम्मीद से ज़्यादा फ़ायदा देंगे, आपके पास अपनी सेहत और लुक्स से जुड़ी चीज़ों को सुधारने के लिए पर्याप्त समय होगा।

व्यापार को मजबूती देने के लिए आप कोई अहम कदम उठा सकते हैं, जिसके लिए आपका कोई करीबी आपकी आर्थिक मदद कर सकता है, पारिवारिक ज़िम्मेदारियों का बोझ बढ़ेगा, लेकिन आप उन्हें अच्छे से संभाल लेंगे, प्रेम के दृष्टिकोण से यह समय उत्तम है, आपके सहकर्मी आपको अधिक समझने की कोशिश करेंगे, जरूरी कार्यों में परिवार वालो का सहयोग प्राप्त होता रहेगा, जीवन में तरक्की मिलने से परिवार में खुशी का माहौल बना रहेगा, आप खुद को सेहतमंद महसूस करेंगे।

स्टूडेंट्स के लिए समय बेहतरीन रहने वाला है, आपको अपने करियर में सकारात्मक परिणाम मिलेंगे, लवमेटस के बीच कटुता दूर होगी और रिश्तें में मधुरता आएगी, आपके द्वारा आरंभ किया गया नया कार्य फायदेमंद साबित होगा, शेयर बाजार में निवेश करने पर आपको फायदा हो सकता है, पति-पत्नी के बीच अच्छे संबंध स्थापित होंगे, सरकारी नौकरी में पदोन्नति के योग नजर आ रहे हैं।

जिन भाग्यशाली राशियों के बारे में हम बात कर रहे हैं वह मेष, धनु, सिंह, तुला और कर्क राशि के जातक हैं, आप सभी भक्त धन की देवी मां लक्ष्मी की कृपा पाने के लिए कमेंट में सच्चे मन से "जय मां लक्ष्मी" अवश्य लिखें, आपकी हर मनोकामना पूर्ण होगी।

April 8th 2020, 1:42 am

700 साल बाद माँ काली खोलने वाली है अपनी तीसरी आंख, इन 4 राशियों को मिलेगा ढेर सारा पैसा

Samachar Jagat

सच्ची श्रद्धा और सच्चे मन से सबसे पहले ऊपर दिए गए पीले रंग के फॉलो बटन को दबाकर हमें फॉलो जरूर करें।

आपका पारिवारिक जीवन सुखद बना रहेगा, जीवनसाथी का पूरा साथ मिलेगा, अपने व्यक्तित्व के दम पर आप समाज के कुछ लोगों को अपने फेवर में कर लेंगे, इसका आपको भविष्य में पूरा फायदा मिलेगा, आपका ध्यान अपने लक्ष्य पर बना रहेगा, विद्यार्थियों का मन पढ़ाई में लगा रहेगा, लवमेटस एक दूसरे के भावनाओं की कद्र करेंगे, जिससे रिश्ते और मजबूत होंगे, आपको अचानक से बड़ा धन लाभ होगा।

संतान पक्ष से आपको कोई खुशखबरी मिलेगी, वर्क फ्रॉम होम कर रहे लोगों को अपना काम पूरा करने के लिए थोड़ी अधिक मेहनत करनी पड़ेगी, घर के कार्यों में परिवार के लोगों का सहयोग प्राप्त होता रहेगा, महिलाओं के लिए यह समय राहतपूर्ण रहने वाला है, आप अपने व्यापार को बढ़ाने का प्लान बनायेंगे, परिवार में माता-पिता का सहयोग सबसे अधिक मिलेगा।

आपके जीवन में आने वाले सभी प्रकार के कष्टों का निवारण होगा, बस आप सभी लोगों को ईश्वर में अपनी श्रद्धा बनाए रखनी है, आपके ज्यादातर कार्य आसानी से पूरे हो जाएंगे, आपको अपने कार्यस्थल पर कई ऐसे अवसर प्राप्त हो सकते हैं, जो लोग नौकरी करते हैं उन्हें कार्यक्षेत्र से कोई बड़ा कार्य करने को मिल सकता है, पारिवारिक खुशी आपको प्राप्त होगी, स्नेही जनों से बेहतर मुलाकात होगी, आपकी सेहत अच्छी बनी रहेगी।

दोस्तों हम जिन भाग्यशाली राशियों के बारे में बात कर रहे हैं वह वृषभ, तुला, कुंभ, और कन्या राशि के जातक हैं, अगर आप भी माँ काली की कृपा पाना चाहते हैं तो सच्चे मन से "जय माँ काली" अवश्य लिखें।

April 8th 2020, 1:42 am

शनिदेव लिख चुके हैं 6 राशियों के भाग्य में राजयोग, अप्रैल माह में अचानक मिलेगा सच्चा प्यार

Samachar Jagat

सच्ची श्रद्धा और सच्चे मन से सबसे पहले ऊपर दिए गए पीले रंग के फॉलो बटन को दबाकर हमें फॉलो जरूर करें।

इन राशि वाले लोगों को शनिदेव की कृपा से अपने कामकाज में सफलता मिलने की पूरी संभावना बन रही है, जो लोग कुंवारे हैं उनको विवाह का अच्छा प्रस्ताव मिल सकता है, पढ़ाई-लिखाई में आपका अधिक मन लगेगा, आपके द्वारा किए गए पुराने निवेश का लाभ अब आपको मिल सकता है, आप अपने करियर में नए कीर्तिमान स्थापित करेंगे, आप अपने प्यार को प्रपोज कर सकते है, जिसमें आपको सफलता अवश्य प्राप्त होगी, काम-धंधे में वृद्धि होगी और फालतू ख़र्चों पर लगाम रहेगी।

अब किए गए कामों से आपको भविष्य में फायदा होगा, घर पर अलग-अलग पकवान का आनंद उठाएंगे, किस्मत का पूरा साथ बना रहेगा, आपको घर पर ही कुछ नयी चीज सिखने को मिलेगी, आपकी आर्थिक स्थिति में सुधार आएगा, दाम्पत्य जीवन में खुशियाँ आएँगी, जीवनसाथी से खुशखबरी मिलने से परिवार में ख़ुशी का माहौल बनेगा, आप अपने परिवार की जिम्मेदारियों को पूरा करने में सफल होंगे।

कोई खास काम टलने से थोडा परेशान होंगे, कुछ सवालों में आपका मन उलझ रहेगा, जीवनसाथी के साथ रिश्तें अच्छे बने रहेंगे, बच्चें बाहर जाने की जिद्द करेंगे, बेहतर होगा घर पर ही उनके साथ समय बितायें, बड़े उद्योगपतियों के साथ साझीदारी का व्यवसाय फ़ायदेमंद रहेगा, आप अपने व्यक्तिगत काम में बेहतर तरीके से सुधार कर सकते हैं।

वह भाग्यशाली लोग कर्क, मीन, कुम्भ, मेष, कन्या और मिथुन राशि वाले हैं। दोस्तों अगर आपकी राशि इन राशियों में शामिल है तो नीचे कमेंट बॉक्स में "जय शनिदेव" अवश्य लिखें, जिससे शनिदेव आपके सभी दुख, दर्द और कष्टों का विनाश करेंगे।

April 8th 2020, 1:42 am

जवाबी कार्रवाई की धमकी देने वाले डोनाल्ड ट्रंप ने अब पीएम मोदी के बारे में बोल दी ये बड़ी बात

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। मोदी सरकार द्वारा मानवीय हित में हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन के निर्यात की अनुमति देने के बाद अब अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के भारत को लेकर सुर बदल गए हैं। अब डोनाल्ड ट्रंप ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ की है।

अब इंसानों से जानवरों में फैला कोरोना वायरस! इस देश में आया नया मामला

दुनिया के सबसे शक्तिशाली देश अमेरिका में कोरोना वायरस ने हाहाकार मचा रखा है। यहां पर कोरोना वायरस की चपेट में तीन लाख से अधिक लोग आ चुके हैं। ऐसे में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारत से हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा की मांग की थी। भारत सरकार इस दवा के निर्यात पर पहले ही रोक लगा चुकी है। इसके बाद भारत द्वारा यह दवाई नहीं देने पर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने जवाबी कार्रवाई की धमकी भी दी थी।

बड़ा दावा: इस दवाई से केवल 48 घंटे में समाप्त किया जा सकता कोरोना वायरस!

अब भारत द्वारा इस दवा के निर्यात पर रोक हटाने के बाद ट्रंप के सुर बदल गए हैं। गौरतलब है कि भारत में एंटी-मलेरिया ड्रग कोरोना वायरस के इलाज में बहुत ही महत्वपूर्ण साबित हो रही है। भारत इस दवा का सबसे बड़ा निर्यातक देश है। इसी के तहत दुनिया के कई देशों ने भारत से इस दवा की मांग की थी।

April 8th 2020, 1:25 am

कोरोना वायरस की जंग में जेके लोन के डॉक्टर को मिली ये बड़ी सफलता

Samachar Jagat

जयपुर। चीन से फैला कोरोना वायरस दुनिया के लिए बड़ी परेशानी का कारण बना हुआ है। दुनिया भर में 13 लाख से अधिक लोग इस वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। कोरोना वायरस की जंग में डॉक्टर और मेडिकल स्टाफ महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। इसी बीच जयपुर के जेकेलोन हॉस्पिटल के सहायक प्रोफेसर को सस्ती पीपीआई किट बनाने में सफला मिली है।

अब जयपुर में ऐसे लोगों के खिलाफ होगी सख्त कार्रवाई, कलेक्टर ने जारी किए आदेश

जेके लोन अस्पताल के अधीक्षक डॉ अशोक गुप्ता के निर्देशन में चौमू निवासी डॉ. योगेश यादव ने एक पर्सनल प्रोटेक्शन किट (पीपीई) किट बनाई है, जो बाजार में बिक रही किट से तीन गुना तक सस्ती होगी। इस किट को एसएमएस मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ. सुधीर भंडारी ने मंगलवार को जनता को समर्पित भी कर दिया है।

जयपुर के रामंगज को लेकर अब लिया गया ये निर्णय

डॉ. योगेश यादव ने बताया कि यह किट आरामदेह, किफायती और सुविधाजनक होने के साथ मानकों पर भी खरी उतरी है। इसे मेटेरियल नॉन टोक्सिक, नॉन वो वन क्लाथ एवं गर्वमेंट अपवर्ड प्लास्टिक के सह मिश्रण से बनाया गया है। इस किट में वायरस, बैक्टीरिया, रक्त व अन्य बॉडी फ्लूड, बायोलॉजिकल हेजार्डस मेटेरियल अंदर प्रवेश नहीं कर सकते हैं।

April 8th 2020, 1:12 am

खुशखबरी: भारतीय कंपनी चार महीने में शुरू करेगी वैक्सीन का मानव परीक्षण

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। कोरोना वायरस के कारण अभी तक दुनियाभर में 13 लाख से अधिक लोग संक्रमित चुके हैं। अमेरिका और चीन सहित दुनिया के सभी देश अभी इस बीमारी का तोड़ ढूंढऩे में लगे हैं। हालांकि अभी तक किसी भी देश को पर्याप्त सफलता नहीं मिल सकी है।

जयपुर के रामंगज को लेकर अब लिया गया ये निर्णय

इसी बीच भारत से अच्छी खबर सामने आ रही है। एक रिपोर्ट के अनुसार, हैदराबाद की वैक्सीन कंपनी भारत बायोटेक आगामी चार महीनों में विकसित किए गए वैक्सीन का ह्यूमन ट्रायल प्रारम्भ कर देगी।

अभी तक कंपनी द्वारा विकसित की गई इस वैक्सीन का एनिमल ट्रायल चल रहा है। एक रिपोर्ट के अनुसार ये भारतीय कंपनी इस टीके की टेस्टिंग विस्कॉन्सिन-मैडिसन एंड वैक्सीन डेवलपर फ्लुजन यूनिवर्सिटी के सहयोग से अमेरिका में भी करावा रही है।

जयपुर की एक मस्जिद में छिप कर बैठे थे तब्लीगी जमात के 12 लोग, पुलिस ने की ये कार्रवाई

बताया जा रहा है कि यह साल समाप्त होने से पहले कोरोना वायरस का ये टीका उपयोग के लिए उपलब्ध हो सकता है। भारतीय कंपनी द्वारा कोरोफ्लू नाम का ये टीका नेजल ड्रॉप के रूप में तैयार किया है। इसके तहत टीके की केवल एक बूंद नाक में डाली जाएगी।

April 8th 2020, 12:42 am

अब जयपुर में ऐसे लोगों के खिलाफ होगी सख्त कार्रवाई, कलेक्टर ने जारी किए आदेश

Samachar Jagat

जयपुर। जयपुर जिले में अब कोरोना संक्रमण के लक्षण वाले एवं कोरोना पीडि़तों के सम्पर्क में होने के बावजूद स्वास्थ परीक्षण नहीं कराने वाले व्यक्तियों के खिलाफ नियमानुसार सख्त कार्यवाही की जाएगी।

जयपुर के रामंगज को लेकर अब लिया गया ये निर्णय

गुलाबी नगर जयपुर में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की बढ़ती संख्या को देखते हुए जिला कलेक्टर डॉ.जोगाराम ने इस संबंध में सख्त आदेश जारी किए हैं। जिला कलेक्टर जोगाराम द्वारा ये आदेश ;द राजस्थान एपिडेमिक डिजीज एक्ट, 1957, ; द डिजास्टर मैनेजमेंट एक्ट 2005 एवं चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की अधिसूचना के आधार पर कोरोना संक्रमण की रोकथाम एवं स्थितियों के प्रबन्धन के लिए प्रसारित किए गए हैं।

इसके तहत क्वारन्टाइन सेन्टर में प्रशासन एवं चिकित्सा विभाग की निगरानी में रखे गए व्यक्तियों द्वारा मेडिकल प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने पर भी सख्त कार्यवाही की जाएगी।

जयपुर की एक मस्जिद में छिप कर बैठे थे तब्लीगी जमात के 12 लोग, पुलिस ने की ये कार्रवाई

कलेक्टर के आदेशों के अनुसार, चिकित्सकीय जांच की अवधि के दौरान गलत आचरण, नियम विरूद्ध कृत्य किए जाने पर भी नियमानुसार सख्त कार्रवाई की जाएगी।इसके अलावा अब जयपुर में फर्जी तरीके से सरकारी सहायता प्राप्त करने वालों, बिना औचित्य एवं परिस्थिति पास जारी करने का आवेदन वालों के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी।

April 8th 2020, 12:10 am

मोदी सरकार 15 मई तक इन संस्थाओं को बंद रखने का कर सकती है फैसला, जीओएम ने की सिफारिश

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। देश में कोरोना वायरस के संक्रमण की वर्तमान स्थिति को देखते हुए केन्द्र की मोदी सरकार द्वारा 15 मई तक सभी शैक्षणिक संस्थाओं को बंद रखने और लोगों की सहभागिता वाली सभी धार्मिक गतिविधियों पर रोक लगा सकती है।

डोनाल्ड ट्रंप ने भारत को चेताया तो राजनीति गरमाई

कोरोना वायरस से निपटने के लिए गठित मंत्रियों के समूह ने इसी प्रकार की सिफारिश की है।आधिकारिक सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, मंत्री समूह ने कहा कि केन्द्र सरकार चाहे तो कोरोना वायरस के कारण घोषित 21 दिनों के लॉकडाउन को आगे बढ़ाए या नहीं, लेकिन शैक्षणिक तथा धार्मिक गतिविधियों पर 15 मई तक रोक लगानी चाहिए।

जमालपुर रेल कारखाना के इंजीनियरों का कमाल, महज दस हजार में बनाया वेंटिलेटर

देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता वाले जीओएम की बैठक में यह निर्णय कर लिया है कि 14 अप्रैल के बाद कम से कम चार सप्ताह तक धार्मिक केंद्रों, शापिंग मॉल और शैक्षणिक संस्थानों को सामान्य गतिविधि शुरू करने की अनुमति नहीं प्रदान की जा सकती है।

बताया जा रहा है कि जीओएम की इस बैठक में गृह मंत्री अमित शाह, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण भी शामिल थे। इससे पहले देश के कई राज्य लॉकडाउन की अवधि को बढ़ाने पर अपनी सहमति जता चुके हैं।
देश में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। ये आंकड़ा अब चार हजार के पार पहुंच चुका है।

April 8th 2020, 12:10 am

जयपुर की एक मस्जिद में छिप कर बैठे थे तब्लीगी जमात के 12 लोग, पुलिस ने की ये कार्रवाई

Samachar Jagat

जयपुर। तब्लीगी जमात के लोगों के कारण देश में कोरोना वायरस ने विकराल रूप ले लिया है। इन लोगों की वजह से ही ये खतरनाक वायरस देश के कई हिस्सों में फैल चुका है।

तब्लीगी जमात के लोग अपनी जांच करवाने के स्थान पर छिपते हुए नजर आ रहे हैं। अब राजस्थान में जयपुर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए परकोटे के रामगंज इलाके की एक मस्जिद से तब्लीगी जमाम से जुड़े 12 लोगों को पकड़ा है।

लॉकडाउन के 13वें दिन राजस्थान में मिले कोरोना वायरस के इतने नए मरीज, अब इन अस्पतालों में होगा इलाज

बताया जा रहा है जयपुर पुलिस ने मस्जिद से जिन 12 लोगों को हिरासत में लिया हे वे सभी कर्नाटक के रहने वाले हैं। ये भी लोग दिल्ली के निजामुद्दीन में हुए कार्यक्रम के बाद ही जयपुर आए थे।

पुलिस और प्रशासन द्वारा लगातार तब्लीगी जमातियों से छिपने के स्थान पर आगे बढक़र अपनी जांच कराने का आग्रह के बावजूद ये ये सभी लोग मस्जिद के बाहर से ताला लगवाकर अंदर रह रहे थे।

ईंधन के लिए लकड़ी बीनने गई महिला के साथ हुआ ऐसा, जानने के बाद कांप उठेगी रूह

बताया जा रहा है कि एक स्थानीय मौलवी ने इन्हें मस्जिद में रखा था।गौरतलब है कि राजस्थान में तब्लीगी जमातियों के कारण कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या में इजाफा हुआ है।

April 8th 2020, 12:10 am

जयपुर के रामंगज को लेकर अब लिया गया ये निर्णय

Samachar Jagat

जयपुर। राजस्थान की राजधानी जयपुर का रामगंज क्षेत्र अभी कोरोना का हॉटस्पॉट बना हुआ है। प्रदेश के सबसे ज्यादा कोरोना वायरस से संक्रमित लोग इसी स्थान से मिले हैं। राजस्थान में कल तक कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों का आंकड़ा 343 तक पहुंच चुका था। इसमें से 106 तो जयपुर में ही मिले हैं। जयपुर से मिलने वाले रोगियों में 98 रामगंज इलाके के ही हैं।

जयपुर की एक मस्जिद में छिप कर बैठे थे तब्लीगी जमात के 12 लोग, पुलिस ने की ये कार्रवाई

रामगंज क्षेत्र में कोरोना वायरस संक्रमित लोगों की बढ़ती संख्या को देखते हुए प्रशासन द्वारा जल्द से जल्द यहां पर दो हजार से अधिक रेण्डम सैम्पल कराए जाएंगे। ऊर्जा विभाग के प्रमुख शासन सचिव अजिताभ शर्मा ने रामगंज क्षेत्र में कोरोना संक्रमण की स्थिति की समीक्षा करते हुए इस प्रकार के निर्देश दिए हैं।

लॉकडाउन के 13वें दिन राजस्थान में मिले कोरोना वायरस के इतने नए मरीज, अब इन अस्पतालों में होगा इलाज

अजिताभ शर्मा ने जयपुर शहर के परकोटे से बाहरी क्षेत्र में पॉजिटिव मिले सभी व्यक्तियों के सैकण्डरी कॉन्टेक्ट की 100 प्रतिशत सैम्पलिंग कराने के भी निर्देश दिए। साथ ही शहर की क्वारेंटाइन फेसिलिटीज के प्रबन्धन की भी समीक्षा कर आवश्यक निर्देश प्रदान किए।

April 8th 2020, 12:10 am

राजस्थान सहित इन दस राज्यों में आज हो सकती है बारिश

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। देश में मौसम एक बार फिर से करवट ले रहा है। गर्मी के बीच ही अभी कई राज्यों में बारिश होने का अनुमान व्यक्त किया जा रहा है। आज राजस्थान सहित देश के कई राज्यों में बेमौसम बारिश हो सकती है।

मोदी सरकार 15 मई तक इन संस्थाओं को बंद रखने का कर सकती है फैसला, जीओएम ने की सिफारिश

कोरोना की महामारी के बीच मौसम भी देशवासियों के लिए परेशानी का कारण बना हुआ है। मंगलवार को भी राजस्थान की राजधानी जयपुर में कई स्थानों पर बहुत ही हल्की बारिश देखने को मिली थी।

उनके अनुसार आज राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, जम्मू-कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में हल्की से तेज भी हो सकती है।

लॉकडाउन के 13वें दिन राजस्थान में मिले कोरोना वायरस के इतने नए मरीज, अब इन अस्पतालों में होगा इलाज

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में आज शाम तेज बारिश हो सकती है। वहीं दक्षिण आंतरिक कर्नाटक, केरल, आंतरिक तमिलनाडु और उत्तरी तटीय आंध्र प्रदेश में भी इसी प्रकार की बारिश होने की संभावना व्यक्ति की गई है। राजस्थान में अब गर्मी का असर धीरे-धीरे दिखाई देने लगा है।

April 8th 2020, 12:10 am

साप्ताहिक भविष्यवाणी: 9 अप्रैल से 15 अप्रैल तक कैसा रहेगा आपका नसीब,जानिए अपनी राशि का हाल

Samachar Jagat

सबसे पहले ऊपर दिए गए पीले रंग के बटन को दबाकर हमें फॉलो जरूर कीजिएगा वह सभी राशियां नीचे दी गई है.

मेष, सिंह, धनु राशि :

अपने सब विचारों को एक साथ रखकर सोचें,इससे जो निष्कर्ष निकलेगा ,उससे आपको स्थितियों से निपटने में काफी मदद मिलेगी ǀ अपने आप को उन चीजों में ना फंसने दें जिनमे आप विश्वास नही रखते ǀ इन्हें छोड़कर आगे बढ़ जाएँ ǀइधर –उधर की हांकना आपकी आदत नही है ,लेकिन कई बार आपको ना चाहते हुए भी यह करना पड़ता है ǀ क्षणिक आवेग में बहकर कोई निर्णय न करें। यह आपके बच्चों के हितों को हानि पहुँचा सकता है। आप आसानी से पैसे इकट्ठा कर सकते हैं- लोगों को दिए पुराने कर्ज़ वापिस मिल सकते हैं- या फिर किसी नयी परियोजना पर लगाने के लिए धन अर्जित कर सकते हैं। रिश्तेदारों के साथ अपने संबंधों को फिर तरोताज़ा करने का दिन है। आपको अपनी ओर से सबसे अच्छा बर्ताव करने की ज़रूरत है, क्योंकि आपके प्रिय का मूड बहुत अनिश्चित होगा।

वृष, कन्या, मीन राशि : 

आप काफी व्यस्त तो हैं लेकिन इसके कारण अपनी एक्सरसाइज को न छोड़ें ǀ जिम में नयी मशीन पर मेहनत करके देखें ǀ आप फिटनेस के साथ साथ अपनी सुरक्षा के लिए भी करते या मार्शल आर्ट सीख सकते हैं ǀ अगर मार्शल आर्ट सीखने की योजना बनाते हैं तो अपनी रूटीन एक्सरसाइज को कुछ दिन के लिए छोड़ दें,नियमित जिम कार्यक्रम फिर उसके बाद शुरू करें ǀ आपका मन ऑफिस के काम में नहीं लगेगा। आपके मन में कोई दुविधा होगी जो आपको एकाग्र नहीं होने देगी। बेवजह की उलझनों से दूर होकर आप किसी मंदिर, गुरुद्वारे या किसी भी धार्मिक स्थल पर अपना खाली समय बिता सकते हैं। आपका जीवनसाथी आपकी सेहत के प्रति असंवेदनशील हो सकता है।

मिथुन, तुला, कुंभ राशि : 

आप इस समय शांति में नहीं हैं। आपके दिल और दिमाग के बीच एक निरंतर युद्ध है की किस तरह से नैतिक और तार्किक रूप से सही निर्णय लिया जाये । अपने दिल की बात सुने और अपने मन को शांत करने के लिए कुछ करे । अपने आप को एक नई जिम्मेदारी सौपे । अगर आप बिना सोच के खर्च करेंगे तो आपको वित्तीय परेशानी हो सकती है।मौज-मस्ती और मनपसंद काम करने का दिन है। कोई पुराना मित्र आपसे आर्थिक मदद मांग सकता है और यदि आप उसकी आर्थिक मदद करते हैं तो आपके आर्थिक हालात थोड़े तंग हो सकते हैं। दोस्तों का साथ राहत देगा। आपकी शोहरत बढ़ेगी और आप आसानी से दूसरे लिंग के लोगों को अपनी तरफ़ आकर्षित करेंगे।

कर्क, वृश्चिक, मकर राशि :

शारीरिक व्यायाम और वज़न घटाने की कोशिशें आपके रूप-रंग को निखारने में फ़ायदेमंद साबित होंगी। इस बात में सावधानी बरतें कि आप किसके साथ आर्थिक लेन-देन कर रहे हैं। बच्चों के साथ विवाद मानसिक दबाव का कारण बन सकता है – ख़ुद को एक बिन्दु से ज़्यादा तनाव में न डालें, क्योंकि कुछ मसले तभी सही रहते हैं जब उनमें दख़ल न दिया जाए। एक-तरफ़ा इश्क़ के चक्कर में अपना वक़्त बर्बाद न करें। किसी के साथ नयी परियोजना या भागीदारी वाले व्यवसाय को शुरू करने से बचें। आपको ऐसी जगहों से महत्वपूर्ण बुलावा आएगा, जहाँ से आपने इसकी कभी कल्पना भी न की हो।साझीदारी और व्यापार में हिस्सेदारी वग़ैरह से दूर रहें। सामाजिक और धार्मिक समारोह के लिए बेहतरीन दिन है। आप महसूस करेंगे कि शादीशुदा ज़िन्दगी आपके लिए वाक़ई ख़ुशनसीबी लेकर आई है।

कमेंट बॉक्स में श्री साई बाबा लिखे ताकि आपकी सभी मनोकामना पूरी हो सके धन्यवाद //

यह लेख पसंद आए तो नीचे दिये गए पीले बटन को दबाकर हमे फॉलो जरूर करे //

April 7th 2020, 8:23 pm

9 अप्रैल की सुबह तक अचानक से पलट जाएगी इन राशियों की तकदीर, मिलेगी बड़ी सफलता

Samachar Jagat

सबसे पहले ऊपर दिए गए पीले रंग के बटन को दबाकर हमें फॉलो जरूर कीजिएगा वह सभी राशियां नीचे दी गई है.

मेष, सिंह, धनु राशि :

दिन अपनी प्रतिभा दिखाने के लिए बिलकुल सही है आप सामान्य से अधिक आक्रामक और दृढ व्यवहार करेंगे ǀइससे आसपास के लोगों को आश्चर्य होगा ǀ उन्हें शायद आपके बारे में अपनी राय बदलने पर भी मजबूर होना पड़े ǀ लेकिन उनके आश्चर्य की भावना से आपको जरुरी मौका मिल जाएगा ,इस अवसर का फायदा उठाने से न चूकें ǀ आप ख़ुद को सुकून में और ज़िंदगी का लुत्फ़ उठाने के लिए सही मनोदशा में पाएंगे। ग्रह नक्षत्रों की चाल आपके लिए अच्छी नहीं है, दिन आपको अपने धन को बहुत सुरक्षित रखना चाहिए। दिन आपको जो खाली समय मिलने वाला है, उसका भरपूर लाभ लें और अपने परिवार के साथ कुछ प्यार भरे पल गुज़ारें। सम्हल कर दोस्तों से बात करें, क्योंकि दिन दोस्ती में दरार पड़ने की आशंका है।

वृष, कन्या, मीन राशि : 

आप शारीरिक और मनोविज्ञानिक दोनों ही दृष्टियों से खुद को बहुत अच्छी स्थिति में पायेंगे ǀआपकी मानसिकता में उठान आपके काम में साफ़ दिखाई देगा ǀआप अपनी सेहत का बहुत अच्छे से ध्यान रख रहे हैं थोडा सा और अधिक ध्यान रखें और बोरियत से बचने के लिए कोई फिटनेस कार्यक्रम ज्वाइन कर लें ǀचलते या टहलकद्मी करते हुए किसी को साथ ले लें,आपको अच्छा लगेगा ǀ अगर आप कार्यक्षेत्र में बेहतर करना चाहते हैं तो अपने काम में आधुनिकता लाने की कोशिश करें। इसके साथ ही नई तकनीक से अपडेटेड रहें। उन लोगों से मेलजोल बढ़ाने से बचें जिनके साथ आपका वक्त खराब होता है। जीवनसाथी यह जता सकता है कि आपके साथ रहने का क्या-क्या ख़ामियाज़ा उसे भुगतना पड़ रहा है।

मिथुन, तुला, कुंभ राशि : 

 दिन आपके लिए व्यस्त रहने की संभावना है क्यों की आपकी उपस्थिति अलग अलग दिशाओं में वांछनीय होगी , हालांकि अपने व्यक्तिगत विकास के लिए आप अधिक से अधिक समय समर्पित करने की कोशिश करे । ऑनलाइन परीक्षाओं या प्रमाणपत्र के लिए ऑनलाइन कुछ मार्गदर्शन की तलाश करें। आपको खर्चो की तुलना में अधिक बचत पर ध्यान देना होगा ।अपने विचारों को सकारात्मक रखें, क्योंकि आपको ‘डर’ नाम के दानव का सामना करना पड़ सकता है। नहीं तो आप निष्क्रिय होकर इसका शिकार हो सकते हैं। दिन ऐसी चीज़ों को ख़रीदने के लिए बढ़िया है, जिनकी क़ीमत आगे चलकर बढ़ सकती है। विवाद, मतभेद और दूसरों की आपमें कमियाँ निकालने की आदत को नज़रअन्दाज़ करें। रोमांस के लिए अच्छा दिन है। 

कर्क, वृश्चिक, मकर राशि :

जेवर और एंटीक में निवेश फ़ायदेमंद रहेगा और समृद्धि लेकर आएगा। बच्चों का स्कूल से जुड़ा काम पूरा करने के लिए मदद देने का वक़्त है। अचानक हुई रोमांटिक मुलाक़ात आपके लिए उलझन पैदा कर सकती है। संभावना है कि आपके और आपके जीवनसाथी के बीच तनाव और बढ़ सकता है। इससे बचाव न करने की स्थिति में इसके दूरगामी परिणाम अच्छे नहीं होंगे। अपने व्यक्तित्व और रंग-रूप को बेहतर बनाने का कोशिश संतोषजनक साबित होगी।अगर आप कोई नया व्यवसाय या योजना शुरू करने की सोच रहे हैं तो जल्दी ही फ़ैसला करें, क्योंकि आपके सितारे महरबान हैं। जो आप करना चाहते हैं, उस ओर क़दम बढ़ाने में घबराएँ नहीं। तनाव से भरा दिन, जब नज़दीकी लोगों से कई मतभेद उभर सकते हैं। आप अपने जीवनसाथी के प्यार की गर्माहट महसूस कर सकते हैं।

कमेंट बॉक्स में श्री साई बाबा लिखे ताकि आपकी सभी मनोकामना पूरी हो सके धन्यवाद //

यह लेख पसंद आए तो नीचे दिये गए पीले बटन को दबाकर हमे फॉलो जरूर करे //

April 7th 2020, 8:23 pm

कमल हासन का प्रधानमंत्री पर हमला, असहाय व कमजोर लोगों की फिक्र करने को कहा

Samachar Jagat

दक्षिण भारत के मशहूर अभिनेता और नई सियासी पार्टी मक्कल नीधि माईयम का गठन करने वाले कमल हासन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लॉकडाउन पर भी सवाल उठाया और उनके दूसरे फैसलों पर भी. सोमवार को उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिख कर लॉकडाउन को अव्यवहारिक फैसला बताया और कहा कि केंद्र सरकार को चार महीने का समय मिला था, कोरोना वायरस से लड़ाई की तैयारी के लिए. लेकिन सरकार ऐसा नहीं कर पाई और अचनाक चार घंटे में लॉकडाउन का फैसला कर लिया. जबकि ऐसा करने से पहले किसी तरह की योजना नहीं बनाई गई और न ही इसके नतीजों का आकलन किया गया था. कमल हासन ने अपनी लंबी चिट्ठी में देश के कामगारों, गरीबों, वंचितों से जुड़े मुद्दे को उठाया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सोच पर भी सवाल उठाया है और कहा है कि आपने उन तमाम लोगों की चिंता नहीं की जो बालकनियों में दीया जलाने में सक्षम नहीं हैं. सच भी है यह. दरअसल भारत में लॉकडाउन का सबसे ज्यादा और सीधा असर अगर किसी पर पड़ रहा है तो वे दिहाड़ी पर काम करने वाले प्रवासी मजदूर हैं.

पिछले दिनों तस्वीरें हमने देखीं हैं कि किस तरह से लॉकडाउन के बाद लोगों पर आजीविका का संकट खड़ा हो गया और वह दूसरे राज्यों से पैदल ही अपने घरों को निकल पड़े. हाल ही में 3,196 निर्माण श्रमिकों (कंस्ट्रक्शन वर्कर्स) पर किए गए एक सर्वे में यह बात सामने आई है कि लॉकडाउन के बाद से 92.5 फीसद मजदूर एक से तीन सप्ताह तक अपना काम खो चुके हैं. द इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, लॉकडाउन के दौरान गैर-सरकारी संगठन 'जन साहस फाउंडेशन' ने उत्तर और मध्य भारत के श्रमिकों के बीच टेलीफोनिक सर्वे से कुछ महत्वपूर्ण निष्कर्ष निकाले हैं. पहला इनमें 42 फीसद मजदूरों ने बताया कि उनके पास दिनभर के लिए राशन नहीं बचा है. सर्वे में पता चला है कि अगर लॉकडाउन 21 दिनों से ज्यादा का रहा तो 66 फीसदी मजदूर एक सप्ताह से अधिक अपने घरेलू खर्चों का प्रबंध नहीं कर पाएंगे. कमल हासन ने इन मुद्दों को अपने पत्र में उठाया है.

कमल हासन ने लिखा कि मैं यह पत्र देश के एक जिम्मेदार लेकिन निराश नागरिक के तौर पर आपको लिख रहा हूं. 23 मार्च को आपको लिखे अपने पहले पत्र में, मैंने सरकार से आग्रह किया था कि इस मुश्किल घड़ी में वह उन असहाय, कमजोर और आश्रित लोगों को अपनी नज़रों से ओझल न होने दे, जो हमारे समाज के अनाम नायक रहे हैं. अगले ही दिन, राष्ट्र ने एक सख्त और तत्काल लॉकडाउन की आपकी घोषणा सुनी, जो लगभग नोटबंदी जैसी थी. मैं हतप्रभ ज़रूर हुआ, लेकिन मैंने आप पर, अपने चुने नेता पर भरोसा किया, जिसके प्रति हम यह विश्वास रखना चाहते थे, कि वे हमसे अधिक जानकार हैं. पिछली बार जब आपने नोटबंदी की घोषणा की थी, तब भी मैंने आप पर भरोसा किया था, लेकिन समय ने साबित किया कि मैं गलत था और आप एकदम ग़लत थे.

कमल हासन ने लिखा है कि यह सही है कि आप अभी भी देश के चुने हुए नेता हैं, और आपके अलावा सभी 130 करोड़ भारतीय भी इस संकट में आपके हरेक दिशानिर्देश का पालन करेंगे. आज, शायद विश्व का कोई दूसरा ऐसा नेता नहीं है, जिसके पास इस तरह का जनसमर्थन हो. आप जो बोलते हैं, जनता अनुसरण करती है. आज पूरा देश एकजुट है और उसने आपके कार्यालय पर अपना विश्वास बनाए रखा है. आपने देखा होगा, कि जब आपने स्वास्थ्य के लिए नि:स्वार्थ भाव से और अथक परिश्रम करने वाले अनगिनत स्वास्थ्यकर्मियों की सराहना करने के लिएक देशवासियों का आह्वान किया, तो सबने उनके लिए ताली बजाई और जयजयकार की. हम आपकी इच्छाओं और आदेशों का पालन आगे भी करेंगे, लेकिन हमारे इस अनुपालन को हमारी अधीनता के रूप में नहीं समझा जाना चाहिए. अपने लोगों के नेता के रूप में मेरी खुद की भूमिका मुझे अपने मन की बात कहने और आपके तरीकों पर सवाल उठाने के लिए मजबूर करती है. अगर मेरी बातों में शिष्टाचार की कोई कमी महसूस हो, तो कृपया माफ करेंगे.

मेरा सबसे बड़ा डर यह है, कि नोटबंदी की वही गलती फिर से बड़े पैमाने पर दोहराई जा रही है. नोटबंदी ने गरीबों की बचत और आजीविका को सर्वाधिक नुकसान पहुंचाया. आपका यह अनियोजित लॉकडाउन भी हमारे जीवन और आजीविका दोनों पर एक घातक प्रभाव डालने जा रहा है. गरीबों के पास उनका ख़याल रखने के लिए आज सिवाय आपके कोई भी नहीं है. एक तरफ आप अधिक विशेषाधिकार प्राप्त लोगों से रोशनी का तमाशा आयोजित करने के लिए कह रहे हैं, तो दूसरी तरफ़ गरीब आदमी की दुर्दशा खुद एक शर्मनाक तमाशा बन गई है. जिस समय आपकी दुनिया के लोगों ने अपनी बालकोनियों में तेल के दीये जलाए थे, गरीब अपनी अगली रोटी सेंकने के लिए काम भर तेल के लिए संघर्ष कर रहे थे.

कमल हासन ने आगे लिखा कि राष्ट्र के नाम अपने अंतिम दो संबोधनों से आप उन लोगों को शांत करने की कोशिश कर रहे थे, जो इन हालात में आवश्यक भी है, लेकिन इसके अलावा भी बहुत कुछ ऐसा है, जिसे किया जाना निहायत जरूरी है. मनोचिकित्सा की यह तकनीक उस विशेषाधिकार सम्पन्न वर्ग की चिंताओं का समाधान कर सकती है, जिसके पास खुशी ज़ाहिर करने के लिए अपनी बालकोनी है. लेकिन उन लोगों के बारे में क्या, जिनके सिर पर छत भी नहीं है.

उन्होंने कहा कि मुझे यकीन है कि आप केवल बालकोनी वाले लोगों के लिए एक बालकोनी सरकार नहीं चलाना चाहते होंगे और न ही पूरी तरह से उन गरीबों की अनदेखी करना चाहते होंगे, जो हमारे समाज, हमारी समर्थन प्रणाली की सबसे बड़ी आधार संरचना तैयार करते हैं, जिस पर हमारा मध्य-वर्ग और सम्पन्न वर्ग अपने जीवन का निर्माण करता है. यह सही है कि गरीब आदमी कभी भी फ्रंट पेज की खबर नहीं बन पाता, लेकिन प्राणशक्ति और जीडीपी-राष्ट्र निर्माण के दोनों पक्षों में उसके योगदान को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता. राष्ट्र में उसकी बहुमत हिस्सेदारी है. इतिहास ने साबित कर दिया है, कि जड़ों को नष्ट करने के किसी भी प्रयास से अन्तत: शीर्ष ही कमज़ोर होता है. यहां तक ​​कि विज्ञान भी इससे सहमति ही जताएगा !

यह पहला संकट है, पहली महामारी जो समाज के शीर्ष तल पर प्रस्फुटित हुई है, और उसका प्रसार सबसे ऊपर से नीचे की तरफ़ हुआ है. लेकिन आपको देख कर ऐसा लगता है महोदय कि आप सबसे नीचे की आबादी को छोड़ कर ऊपर वालों को ही राहत देने का हर संभव प्रयास कर रहे हैं. लाखों-लाख दिहाड़ी मजदूर, घरेलू कामगार, रेहड़ी-पटरी विक्रेता, ऑटो-रिक्शा व टैक्सी चालक और असहाय प्रवासी कामगार इस उम्मीद में सारी तक़लीफ़ें सहन कर रहे हैं कि इस लंबी सुरंग के दूसरे छोर पर प्रकाश की कोई किरण ज़रूर होगी. पर हम केवल एक पहले से ही सुसंगठित मध्य-वर्गीय क़िले को और अधिक सुरक्षित करने का प्रयास कर रहे हैं.

कमल हासन ने कहा कि महोदय मुझे गलत मत समझिए, मैं यह सुझाव नहीं दे रहा हूं कि हम मध्यम वर्ग या किसी एक वर्ग की उपेक्षा करें. वास्तव में, मैं इसके ठीक विपरीत सुझाव दे रहा हूं. मैं चाहता हूं कि आपको हर एक किले को सुरक्षित करने के लिए और अधिक प्रयास करना चाहिए और यह सुनिश्चित करना चाहिए कि कोई भी भूखा न सोए. कोविड-19 को और अधिक शिकार की तलाश रहेगी, लेकिन हम उसके लिए गरीबों की भूख (एच), थकावट (ई) और अभाव (डी) से एक उपजाऊ खेल का मैदान बना रहे हैं. एचईडी- 20 एक ऐसी बीमारी है जो दिखने में छोटी लगती है, लेकिन कोविड-19 की तुलना में वह कहीं अधिक घातक है. कोविड-19 के जाने के बाद भी इसका प्रभाव लंबे समय तक महसूस किया जाएगा.

जब कभी ऐसा महसूस होता है कि हमारे पास इस फिसलन की रफ़्तार को थाम लेने का मौका है, हर बार आप अपने आपको एक सुरक्षित ढलान पर फिसलने देते हैं, और उस मौके को एक उत्साही चुनावी-शैली के अभियान में बदल देते हैं. हर बार यही प्रतीत होता है कि आप अपनी सुविधा से जिम्मेदारीपूर्ण व्यवहार को जनसामान्य के ऊपर और पारदर्शिता को राज्य सरकारों के ऊपर टाल रहे हैं. आपके बारे में ऐसी धारणा का निर्माण आप स्वयं कर रहे हैं, ख़ासकर उन लोगों के बीच जो भारत के वर्तमान और भविष्य को बेहतर बनाने के लिए अपनी बुद्धिजीविता का सर्वोत्तम उपयोग करते हुए काम करने में समय बिताते हैं. मुझे खेद है अगर मैंने यहां बुद्धिजीवी शब्द के इस्तेमाल से आपको नाराज़ किया हो, क्योंकि मुझे पता है कि आप और आपकी सरकार को यह शब्द कतई पसंद नहीं है. लेकिन मैं पेरियार और गांधी का अनुयायी हूं, और मुझे पता है कि वे पहले बुद्धिजीवी थे. यह वह बुद्धि है, जो सभी के लिए धार्मिकता, समानता और समृद्धि का मार्ग चुनने में मार्गदर्शन करती है.

केवल उत्तेजक और फ़र्जी प्रचार के माध्यम से येन केन प्रकारेण लोगों के उत्साह को जीवित रखने के आपके रुझानों की वजह से ही शायद उन ज़रूरी कार्रवाइयों की अनदेखी करने की आपकी मंशा दृढ़ हुई है, जिनसे वास्तव में बहुत-सी जानें बचाई जा सकती थीं. महामारी के इस लंबे दौर में, जब पूरे देश में कानून और व्यवस्था को दुरुस्त रखना बेहद अहम कार्यभार था, आपका तंत्र देश के विभिन्न हिस्सों में अज्ञानी और मूर्ख लोगों की सभाओं और जमावड़ों को रोकने में विफल रहा. आज वे भारत में महामारी के प्रसार के सबसे बड़े केंद्र बन गए हैं. इस लापरवाही के कारण जितने लोग जान गंवाने वाले हैं, उन सभी लोगों के लिए कौन जिम्मेदार होगा.

डब्ल्यूएचओ को दिये गए चीनी सरकार के आधिकारिक बयान के अनुसार, आठ दिसंबर को कोरोना के संक्रमण का पहला मामला दर्ज किया गया था. भले ही आपने इस तथ्य को स्वीकार किया हो, कि दुनिया को स्थिति की गंभीरता को समझने में बहुत समय लगा, फरवरी की शुरुआत तक, पूरी दुनिया को पता चल चुका था कि यह वायरस एक अभूतपूर्व कहर बरपाने ​​वाला है. भारत में पहला मामला 30 जनवरी को सामने आया था. हमने देखा था कि इटली में क्या हुआ था. फिर भी, हमने समय रहते उनसे सबक लेकर कोई सबक नहीं सीखा. जब हम अंततः अपनी नींद से जागे, तो आपने चार घंटे के भीतर 130 करोड़ लोगों के पूरे देश को लॉकडाउन करने का फ़रमान सुना दिया. आपके पास पूरे चार महीने की नोटिस अवधि थी, जबकि देश की इतनी विशाल आबादी के लिए मात्र चार घंटे की नोटिस अवधि! दूरदर्शी नेता वे होते हैं, जो समस्याओं के गंभीर होने से बहुत पहले उसके समाधान पर काम करते हैं.

मुझे यह कहते हुए खेद है महोदय, कि इस बार आपकी दृष्टि विफल रही. इसके अलावा, आपकी सरकार और उसके सहयोगियों की सारी शक्ति किसी भी प्रतिक्रिया या रचनात्मक आलोचना का मुंहतोड़ जवाब देने में ख़र्च हो रही है. राष्ट्रीय हितों को ध्यान में रखने वाली और देश की बेहतरी चाहने वाली जो भी आवाजें कहीं से उठती हैं, उन्हें फ़ौरन कुचलने और बदनाम कर देने के लिए आपकी ट्रोल आर्मी पिल पड़ती है, और ऐसी आवाज़ों को राष्ट्र-विरोधी करार दे दिया जाता है. आज मैंने यह हिम्मत कर ली है कि जिसको कहना हो मुझे राष्ट्र-विरोधी कह ले. परिमाणात्मक रूप से इस तरह के विशाल संकट के लिए अगर आम आबादी तैयार नहीं है, तो इसके लिए उसको दोषी नहीं ठहराया जा सकता. इसके लिए सिर्फ़ और सिर्फ़ आपको दोषी ठहराया जा सकता है. लोग अपने लिए सरकार चुनते और उसका ख़र्च उठाते ही इसीलिए हैं कि वह उनके जीवन को सुरक्षित और सामान्य बनाये रखे.

इस परिमाण की घटनाओं को दो कारणों से इतिहास में दर्ज किया जाएगा, पहला कारण वह तबाही (बीमारी और मृत्यु) है, जो वे अपने मूल स्वभाव के कारण पैदा करती हैं. दूसरा कारण यह है कि वह मनुष्यों की प्राथमिकताओं पर कैसा दीर्घकालिक प्रभाव डालते हैं और किस तरह के सामाजिक-सांस्कृतिक बदलाव लाते हैं. मैं अपने समाज को एक ऐसे प्रकोप से त्रस्त होते देख कर बहुत दुखी हूं, जो प्रकृति द्वारा हमारी तरफ़ उछाले गए किसी भी दूसरे वायरस के प्रकोप से बहुत अधिक खतरनाक और दीर्घजीवी है.

महोदय, यह समय उन आवाजों को सुनने का है, जो वास्तव में सरोकार रखती हैं. मुझे उनकी परवाह है. यह सभी सीमाओं को तोड़ देने और हर एक से यह स्पष्ट आह्वान करने का समय है कि वे आपके साथ आयें और मदद का हाथ बढ़ाएं. भारत की सबसे बड़ी क्षमता इसकी मानवीय क्षमता है, और हमने अतीत में बड़े-बड़े संकटों को पार किया है. हम इसे भी पार कर लेंगे, लेकिन इसे इस तरह से पार किया जाना चाहिए ताकि सभी एक साथ आएं और इसमें पक्षपात के लिए कोई जगह न हो. कमल हासन ने अपने पत्र का अंत करते हुए लिखा कि हम नाराज अवश्य हैं, लेकिन हम अब भी आपके साथ हैं. कमल हासन के इस पत्र के सियासी मतलब निकाले जा रहे हैं. (राजनीतिक-सामाजिक मुद्दों पर सटीक विशलेषण के लिए पढ़ें और फॉलो करें).

April 7th 2020, 8:23 pm

सोनिया गांधी ने कोरोना वायरस से लड़ने के लिए प्रधानमंत्री को दिए सुझाव

Samachar Jagat

देश कोरोना वायरस के संकट से जूझ रहा है. संक्रमण के खतरे को देखते हुए केंद्र सरकार ने देश में लॉकडाउन का एलान किया था. खतरा लगातार बढ़ रहा है. मरीजों की तादाद में भी इजाफा हो रहा है और जान गंवाने वालों की तादाद भी बढ़ रही है. वैसे सैकड़ों लोग इस संक्रमण को हराने मे कामयाब भी रहे हैं. कोरोना वायरस से मुकाबले के लिए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कुछ सुझाव दिए हैं. उन्होंने सरकारी विज्ञापन बंद करने, दिल्ली में 20,000 करोड़ रुपए के सौंदर्यीकरण अभियान को टालने और अधिकारियो-मंत्रियों का विदेश दौरा रद्द करने और पीएम केयर्स फंड की राशि को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत फंड में स्थानांतरित करने का सुझाव दिया है. यह चिट्ठी ऐसे समय लिखी गई जब हाल ही में प्रधानमंत्री मोदी ने विपक्षी दलों के नेताओं से फोन पर बात की थी और कोरोना संकट के संबंध में सुझाव मांगे थे. सांसदों का वेतन तीस फीसद कम करने के केंद्रीय मंत्रिमंडल के निर्णय का समर्थन करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष ने पांच ठोस सुझाव दिए हैं. उन्होंने उम्मीद जताई है कि प्रधानमंत्री इस पर अमल करेंगे.

सोनिया ने अपने पहले सुझाव में, सरकार व सरकारी उपक्रमों के मीडिया विज्ञापनों- टेलीविज़न, प्रिंट वऑनलाइन विज्ञापनों- पर दो साल के लिए रोक लगाने के लिए कहा. उन्होंने कहा कि यह पैसा कोरोना वायरस से उत्पन्न संकट से जूझने में लगाया जाए. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार मीडिया विज्ञापनों पर हर साल लगभग 1,250 करोड़ रुपए खर्च करती है. इसके अलावा, सरकारी उपक्रमों व सरकारी कंपनियां का विज्ञापनों पर खर्च की जाने वाली सालाना राशि इससे भी अधिक है. .

सोनिया गांधी ने 20,000 करोड़ रुपए की लागत से बनाए जा रहे सेंट्रल विस्टा ब्यूटीफिकेशन व कंस्ट्रक्शन प्रोजेक्ट को स्थगित किया जाए. मौजूदा स्थिति में विलासिता पर किया जाने वाला यह खर्च फजूल है. मुझे विश्वास है कि संसद मौजूदा भवन से ही अपना संपूर्ण कार्य कर सकती है. ऐसे संकट के समय में इस खर्च को टाला जा सकता है. उन्होंने यह भी कहा कि भारत सरकार के खर्च के बजट (वेतन, पेंशन एवं सेंट्रल सेक्टर की योजनाओं को छोड़कर) में भी इसी अनुपात में तीस फीसद की कटौती की जानी चाहिए. यह तीस फीसद रकम (लगभग ढाई लाख करोड़ रु. प्रतिवर्ष) प्रवासी मजदूरों, श्रमिकों, किसानों, एमएसएमई और असंगठित क्षेत्र में काम करने वालों को सुरक्षा चक्र प्रदान करने के लिए आबंटित की जाए. सोनिया गांधी ने यह भी सुझाव दिया कि राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, केंद्रीय मंत्रियों, मुख्यमंत्रियों, राज्य के मंत्रियों व नौकरशाहों की सभी विदेश यात्राओं को स्थगित किया जाए. केवल देशहित के लिए की जाने वाली आपातकालीन व अत्यधिक आवश्यक विदेश यात्राओं को ही प्रधानमंत्री अनुमति दें. 

सोनिया ने पीएम केयर्स फंड की संपूर्ण रकम को ‘प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत फंड' में स्थानांतरित करने की बात भी कही है. इससे इस राशि के आवंटन व खर्चे में एफिशियंसी, पारदर्शिता, जिम्मेदारी तथा ऑडिट सुनिश्चित हो पाएगा. जनता की सेवा के फंड के वितरण के लिए दो अलग-अलग मद बनाना मेहनत व संसाधनों की बर्बादी है. पीएम-एनआरएफ में लगभग 3800 करोड़ रु. की राशि (वित्तवर्ष 2019 के अंत तक) बिना उपयोग के पड़ी है. यह फंड व ‘पीएम-केयर्स' की राशि को मिलाकर उपयोग में लाकर, समाज में हाशिए पर रहने वाले लोगों को तत्काल खाद्य सुरक्षा प्रदान किया जाए. 

उन्होंने कहा कि अब विधायिका और सरकार का लोगों के विश्वास व भरोसे पर खरा उतरने का समय आ गया है. देश के समक्ष उत्पन्न हुई कोविड-19 की चुनौतियों से निपटने में हमारा संपूर्ण सहयोग आपके साथ है. सोनिया गांधी के दिए गए इस सुझाव पर फराह खान अली (Farah Khan Ali) ने ट्वीट किया है और लिखा कि बहुत ही सही आइडिया.' फराह खान अकसर सोशल मीडिया पर बहुत ही बेबाकी के साथ अपनी राय रखती हैं, और इस वजह से उन्हें कई बार ट्रोल भी किया जाता है, लेकिन वे अपनी बात रखने से पीछे नहीं हटती हैं. इस तरह इस बार भी उन्होंने सोनिया गांधी के इस विचार को एकदम सही ठहराया है. (राजनीतिक-सामाजिक मुद्दों पर सटीक विशलेषण के लिए पढ़ें और फॉलो करें).

April 7th 2020, 8:23 pm

भविष्यवाणी : 09 अप्रैल से 29 अप्रैल तक,क्या कहते है आपके भाग्य के सितारे

Samachar Jagat

सबसे पहले ऊपर दिए गए पीले रंग के बटन को दबाकर हमें फॉलो जरूर कीजिएगा वह सभी राशियां नीचे दी गई है.

मेष, सिंह, धनु राशि :

अच्छा निर्णय अनुभव से आता है, और अक्सर अनुभव खराब निर्णय का परिणाम होता है। एक बड़ी खरीद के लिए आपको ध्यान देने की आवश्यकता है। अपने विचारों को शेयर करें और प्रियजनों द्वारा दी गई सलाह को सुनें। व्यापारिक समझौते के लिए यह एक अच्छा समय है। धन सम्बन्धी मामले आपको परेशान करेंगे। इन मामलों से उबरने के लिए आपको किसी खास व्यक्ति की ज़रूरत पड़ सकती है। अपने जीवन में आई समस्याओं को हल करने की कोशिश करें। भाग्य आपका साथ अवश्य देगा। स्वार्थ से रिश्तों को बनाने की जितनी मर्ज़ी कोशिश करें किंतु वो रिश्ते कभी भी नहीं बनते।तथ्यात्मक यह सब अच्छा नहीं होगा, बस धैर्य रखने की जरुरत है और चीजे धीरे-धीरे ठीक होनी शुरू हो जाएंगी ।

वृष, कन्या, मीन राशि : 

आपको आपकी पसंदीदा कंपनी के साथ अनुबंध या टाई अप का अवसर प्राप्त हो सकता है। धन के नुकसान से बचने के लिए इसे सोच समझ कर खर्च करें। अगर आपका व्यापार आपके अनुरूप नहीं चल रहा है तो समझ लें की आपको अपना दृष्टिकोण बदलने की ज़रूरत है। पैसा आपकी चिंता का मुख्य विषय है। भविष्य में आप अपने आर्थिक लाभ के लिए नए साधनों को खोज लेंगे। पूरी तैयारी के साथ कमर कस लें क्योंकि आपके चाहने वालों को आपसे बहुत उम्मीदें हैं। समस्याओं को हल करें, इससे आपका तनाव भी कम होगा। मेहनत शरीर को मजबूत बनाती है और कठिनाईयां मन को मजबूत करती हैं।आप खर्चीले साबित हो सकते है ! आपकी अवचेतन अवस्था आध्यात्मिक संदेशो के द्वारा निर्देशित हो सकती है जिस में आप फस सकते हो , सुझाव व् उपायों में कोई खराबी नहीं है ,परन्तु अपनी बचत को खाली कर के नहीं । 

मिथुन, तुला, कुंभ राशि : 

आपके पास ख़ुद के लिए पर्याप्त समय होगा, तो मौक़े का फ़ायदा उठाएँ और अच्छी सेहत के लिए पैदल सैर पर जाएँ। दिन भर भले ही आप धन को लेकर जूझते रहें लेकिन शाम के वक्त आपको धन लाभ हो सकता है। शाम को रसोई के लिए ज़रूरी चीज़ों की ख़रीदारी आपको व्यस्त रखेगी। आप इश्क़ की चाशनी ज़िन्दगी में घुलती हुई महसूस करेंगे। बड़े उद्योगपतियों के साथ साझीदारी का व्यवसाय फ़ायदेमंद रहेगा। आपके दिमाग में कोई अद्भुत विचार आएगा और आपको इसे हाथोहाथ केवल इसीलिए रद्द नही क्र देना चाहिए क्योंकि आपको इसका हो पाना मुश्किल लग रहा है ǀ बड़ा सोचने और ऊँचाइयों को छूने का दिन है ǀ ऐसा करने के लिए आपको बाधाओं की सूची बनाकर अच्छी योजना बनानी अहि और आप पायेंगे कि परेशानियों से खुद-ब-खुद समाधान नजर आने लगेंगे ǀ

कर्क, वृश्चिक, मकर राशि :

घर से बाहर निकलकर आप खुली हवाओं में टहलना पसंद करेंगे। आपका मन शांत होगा जिसका फायदा आपको पूरे दिन मिलेगा। इस बात की प्रबल सम्भावना है कि आपके आस-पास के लोग आप दोनों के बीच मतभेद पैदा करने का प्रयास करेंगे। अत: बाहरी लोंगों के कहने पर अमल करना ठीक नहीं होगा।आपको किसी बुजुर्ग मित्र या सम्बन्धी के स्वास्थ्य को लेकर चिंतित हैं इसीलिए यह समय उनके संपर्क में रहने के लिए बिलकुल ठीक है |इसी तरह ,आपको अपने बच्चों के स्वास्थ्य को लेकर भी सावधान रहना होगा |आप खाने की महता को महसूस कर पायेंगे और संतुलित खाने अपनाने की दिशा में पहला कदम उठाएंगे |इससे आपके और आपके परिवार की सामान्य सेहत में काफी सुधार होगा |

कमेंट बॉक्स में श्री साई बाबा लिखे ताकि आपकी सभी मनोकामना पूरी हो सके धन्यवाद //

यह लेख पसंद आए तो नीचे दिये गए पीले बटन को दबाकर हमे फॉलो जरूर करे //

April 7th 2020, 8:23 pm

डोनाल्ड ट्रंप ने भारत को चेताया तो राजनीति गरमाई

Samachar Jagat

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विपक्ष के निशाने पर हैं. कोरोना वायरस के खतरों के बीच नरेंद्र मोदी के परम मित्र और अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारत को चेताया तो विपक्ष ने सरकार पर सवाल उठाया और दोस्ती पर भी. ट्रंप ने जिस लहजे में बात की उसने सरकार को भी असहज किया और नरेंद्र मोदी को भी. ट्रंप का लहजा भारत को अपमानित करने वाला रहा इसलिए सरकार पर ज्यादा सवाल उठ रहे हैं. फरवरी में डोनाल्ड ट्रंप की भारत यात्रा पर मोदी ने उनकी दोस्ती के कसीदे पढ़े थे. अब मोदी ने उस दोस्ती को सवालो में खड़ा कर डाला है. दुनिया भर में कोरोना वायरस से दहशत है.

अमेरिका में भी कोरोना वायरस का कहर तेजी से फैल रहा है. वहां कोरोना संक्रमण के अब तक तीन लाख से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं. इस बीच अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारत से कोरोना के मरीजों के इलाज में इस्तेमाल हो रही मलेरिया रोधी दवाई हाइड्रोक्सी क्लोरोक्वाइन के निर्यात पर लगी रोक को हटाने की मांग की है. ट्रंप ने संकेत दिया है कि भारत हाइड्रोक्सी क्लोरोक्वीन के निर्यात पर लगे पाबंदी को हटा कर अमेरिका को इस दवा की आपूर्ति नहीं करता है तो वह इसका जवाब दे सकते हैं. ट्रंप ने कहा कि अगर मोदी मलेरिया की दवा भेजते हैं तो अच्छा रहेगा, लेकिन अगर नहीं भेजते हैं तो जवाबी कार्रवाई हो सकती है. इस धमकी ने सरकार को सकते में डाला और विपक्ष को सरकार पर हमला करने का मौका दे डाला.

ट्रंप ने कोरोना वायरस टास्कफोर्स ब्रीफिंग के दौरान वाइट हाउस में कहा कि भारत अमेरिका के साथ अच्छा कर रहा है और मुझे ऐसा कोई कारण नहीं दिखता कि भारत अमेरिका के दवा के ऑर्डर पर रोक जारी रखेगा. उन्होंने कहा कि मैंने रविवार सुबह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात की थी और मैंने कहा था कि अगर आप हाइड्रोक्सी क्लोरोक्वाइन की आपूर्ति को मंजूरी देते हैं तो हम आपके इस कदम की सराहना करेंगे. अगर वे दवा की आपूर्ति की अनुमति नहीं देते हैं तो भी ठीक है, लेकिन हां, वे हमसे भी इसी तरह की प्रतिक्रिया की उम्मीद रखें.

इससे पहले भी अमेरिका कोरोना मरीजों के इलाज के लिए भारत से इस दवा की मांग कर चुका है. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शनिवार को बताया है कि उन्होंने कोरोना वायरस से लड़ने के लिए भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात की है और उनसे हाइड्रोक्सी क्लोरोक्वाइन दवाई देने के गुजारिश की है ताकि कोरोना वायरस के मरीजों का इलाज किया जा सके. अमेरिका के राष्ट्रपति ने कहा कि फोन पर भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात की है और भारत इस दवा की सप्लाई अमेरिका में सप्लाई के लिए गंभीर है. इस बीच राष्ट्रपति ट्रंप यह भी बताने से नहीं झिझके कि वह खुद भी इस दवा को खाएंगे. कोरोना वायरस महामारी से पैदा हुई स्थिति से निपटने पर मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ शनिवार को विस्तृत बातचीत की. दोनों नेताओं ने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में भारत-अमेरिका साझेदारी की पूरी ताकत का उपयोग करने का संकल्प लिया. भारत ने कोरोना के खतरे को देखते हुए इस दवा के निर्यात पर पाबंदी लगा रखी है. (राजनीतिक-सामाजिक मुद्दों पर सटीक विशलेषण के लिए पढ़ें और फॉलो करें).

April 7th 2020, 8:23 pm

जमालपुर रेल कारखाना के इंजीनियरों का कमाल, महज दस हजार में बनाया वेंटिलेटर

Samachar Jagat

कोरोना वायरस के खतरों से देश जूझ रहा है. देश में अस्पतलों में पीपीई किट की मांग तो बढ़ी ही है, वेंटिलेटर की जरूरत भी बढ़ी है. मरीजों के लिए वेंटिलेटर की मांग में भी तेजी आई है. राहत की खबर इस बीच बिहार से आई है. संक्रमण के संकट के दौर में बिहार के जमालपुर रेल कारखाना ने वेंटिलेटर तैयार किया है. ऐसा करने वाला वह देश का पहला रेल कारखाना बन गया है. खास बात यह है कि इस वेंटिलेटर की लागत महज दस हजार रुपए ही है. पूर्व रेलवे के महाप्रबंधक और रेल मंत्रालय को इसकी जानकारी दी गई है.

देश में कोरोना के बढ़ते मरीजों केा देखते हुए वेंटिलेटरों की जरूरत भी बढ़ रही है. लेकिन वेंटिलेटर कम तो हैं हीं, महंगे भी हैं. इसे देखते हुए जमालपुर रेल कारखाना के इंजीनियर आगे आए हैं. वहां के टीटीएस (टूल एंड टेंपलेट शॉप) में सिर्फ 48 घंटे में वेंटिलेटर तैयार करने कर लिया गया. कारखाना के चौदह तकनीशियनों की टीम ने यह काम पूरा किया. उनका हौसला मुख्‍य कारखाना प्रबंधक सुदर्शन विजय और डिप्टी मैनेजर प्रेम प्रकाश बढ़ाते रहे.

पूर्व रेलवे के महाप्रबंधक सुनीत शर्मा ने बताया कि जल्द ही वेंटिलेटर की कोलकाता के किसी अस्पताल में जांच कराई जाएगी. इसके बाद इसपर आगे काम किया जाएगा. रेलकर्मियों ने बताया कि वेंटिलेर के संबंध में रेल मंत्री पीयूष गोयल को सूचना दे दी गई है. बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार को भी इसकी जानकारी दी गई है. रेलवे बोर्ड से स्‍वीकृति मिलने के बाद वेंटिलेटर का बड़े पैमाने पर निर्माण किया जाएगा. चार दिन में एक वेंटिलेटर तैयार हो जाएगा.

बिहार के जमालपुर में रेल कारखाना की स्‍थापना आठ फरवरी 1862 को की गई थी. तब यह एशिया का सबसे बड़ा रेल कारखाना था. इस कारखाने से ही देश का पहला भाप इंजन निकला था. इसी कारखाने में देश का पहला रेल क्रेन भी बनाया गया था. लेकिन भाप इंजन की उपयोगिता समाप्‍त होने के साथ इस कारखाना में काम कम होता गया. जमालपुर रेल कारखाने में केवल रेल संबंधी निर्माण ही नहीं किए गए हैं. देश की जरूरतों के मुताबिक इसने रेल के अलावा अन्‍य चीजें भी बनाई हैं. दूसरे विश्‍वयुद्ध के दौरान यहां बम बनाए गए थे. अब कारखाने के इंजीनियरों ने वेंटिलेटर बना कर अपनी उपयोगिता साबित की है. (राजनीतिक-सामाजिक मुद्दों पर सटीक विशलेषण के लिए पढ़ें और फॉलो करें).

April 7th 2020, 8:23 pm

अप्रैल माह में आने वाली है प्यार की लहर, 9 अप्रैल के दिन प्रेम सुख मिलेगा या नहीं

Samachar Jagat

सबसे पहले ऊपर दिए गए पीले रंग के बटन को दबाकर हमें फॉलो जरूर कीजिएगा वह सभी राशियां नीचे दी गई है.

मेष, सिंह, धनु राशि :

आपके दिमाग में अब प्यार रोमांस का जादू छाया हुआ है और अगर आप अकेले हैं तो अब आप गंभीरता से कोई रोमांटिक पार्टनर ढूँढना शुरू करेंगे | अगर आप पहले से किसी के साथ हैं तो यह सही समय है कि आप इस सम्बन्ध को अगले स्तर पर ले जाने या इसे ख़तम करने के बारे में सोचें| इनमें से किसी भी स्थिति में ,सम्बन्ध के मामले में बड़े बदलावों की संभावना है |स्वास्थ्य आपके प्रेम जीवन पर एक टोल लेने जा रहा है। आप काफी समय से एक भव्य इशारा या एक प्रमुख रोमांटिक छुट्टी की योजना बना रहे होंगे। आपने विस्तृत योजनाएँ बनाई हैं, जो आपकी सामान्य दिनचर्या के बिल्कुल विपरीत है, लेकिन अचानक स्वास्थ्य संबंधी समस्या गंभीर अनुपात मान सकती है।

वृष, कन्या, मीन राशि : 

अब समय आ गया है कि आप अपने पार्टनर के साथ बैठकर उन सारे मुद्दों को सुलझा लें जो अबी हाल फिलहाल दोनों को परेशान करते आ रहे हैं | ये बातें आप दोनों की भावनाओं और एक दुसरे के प्रति समर्पण को लेकर हो सकती हैं | यह सामान्य से दिखने वाले घरेलू मुददों के बारे में भी हो सकती हैं जिसे आप दोनों नजरंदाज कर रहे हो |सच बात यह है कि अब आप दोनों को मिलकर ही कोई कदम उठाना होगा |यह एक बीमारी हो सकती है या यह एक दुर्घटना हो सकती है जिसमें एक गंभीर चोट और यहां तक ​​कि आपातकालीन कक्ष का दौरा भी हो सकता है। स्वास्थ्य समस्या आपके या आपके साथी के लिए नहीं हो सकती है, लेकिन यह निश्चित रूप से आपके इतने करीब किसी को भी शामिल करेगी कि आपको अपनी योजनाओं को फिर से बनाना होगा।

मिथुन, तुला, कुंभ राशि : 

आपका साथी आपको आश्चर्य चकित कर सकता है । लालसा और अकेलेपन का अंत होगा । आप अपने रिश्ते में एक कदम आगे की और बढ़ना चाहते है , लेकिन अपने साथी के साथ इस बारे में विचार विमर्श कर लें क्यों की ये साझा है । जल्दबाजी करने से बचे क्यों की ये प्यार आपको अपनी मेहनत और अकथ प्रयासों के कारण मिला है । आपके साथी के इर्द गिर्द कुछ साजिश की बू आ रही है । यह आपके लिए एक कठिन विकल्प हो सकता है, लेकिन यह आपके साथी के लिए एक कठिन ब्रेक होने जा रहा है, जिसने इस इशारे में बहुत उम्मीद लगा रखी है।यह आवश्यक है कि आप यह पहचानें कि आपके साथी के लिए इशारे का एक विशेष अर्थ है और अंतिम समय में रद्द करना एक विनाशकारी प्रभाव डाल सकता है। आपकी अपनी चिंताएँ होंगी, लेकिन आप अपने साथी की आहत भावनाओं की अनदेखी नहीं कर सकते।

कर्क, वृश्चिक, मकर राशि :

ग्रहों की स्थिति के कारण आपके सम्बन्ध में कुछ उलझन का समय चल रहा है | पिछले कई दिनों में बहुत सारी घटनाएं हुई हैं और आपने रक्षात्मक रुख अपना लिया है जिससे आप केवल अपना सर नीचा करके शांति बनाये रखना चाहते हैं | हालाँकि ,यही वो समय है जब आपको अपने रिश्ते की गहराई को जानने के लिए अधिक आक्रामक रुख अपनाने की जरुरत है |आपका साथी आपके भव्य इशारे का इंतजार कर रहा है। यह आपके साथी के लिए वास्तव में और भी महत्वपूर्ण है कि आपको विश्वास करने के लिए क्या नेतृत्व किया गया है। यह स्वास्थ्य संबंधी हस्तक्षेप इतनी अच्छी तरह से नहीं चल रहा है और आप कुछ समय के लिए डॉग हाउस में रहने की उम्मीद कर सकते हैं।

कमेंट बॉक्स में श्री साई बाबा लिखे ताकि आपकी सभी मनोकामना पूरी हो सके धन्यवाद //

यह लेख पसंद आए तो नीचे दिये गए पीले बटन को दबाकर हमे फॉलो जरूर करे //

April 7th 2020, 8:23 pm

तबलीगी जमात मरकज का मामला पहुंचा सुप्रीम कोर्ट

Samachar Jagat

तबलीगी जमात को लेकर देश भर में एक अलग तरह का माहौल बनाने में देश के मीडिया के घराने लगे हैं. ज्यादातर चैनलों में इसे लेकर बहस चल रही है. चर्चा के केंद्र में तबलीगी जमात और निजामुद्दीन का मरकज है. तबलीगी जमात को लेकर तरह-तरह की अफवाहें फैल रही हैं. सोशल मीडिया पर फर्जी वीडियो जारी किए जा रहे हैं. इस पूरे खेल में दिल्ली सरकार और दिल्ली पुलिस की भूमिका भी सवालों में है. लोगों को अपने-अपने घरों में भेजने के लिए मरकज ने प्रशासन और दिल्ली सरकार के अधिकारियों से गुहार लगाई थी लेकिन न तो पुलिस ने मदद की और न ही दिल्ली सरकार के अधिकारियों ने. अब तबलीगी जमात का मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है. जमीयत-उलमा-ए-हिंद ने निज़ामुद्दीन मरकज मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की है.

याचिका में कहा गया है कि मीडिया के एक वर्ग में इस मामले का सांप्रदायिकरण किया जा रहा है. याचिका में कहा गया है कि इससे भारत के पूरे मुसलिम समुदाय का जीने का अधिकार प्रभावित हो रहा है. याचिका में केंद्र सरकार को निर्देश देने को कहा गया है कि वह मीडिया में इस तरह की फर्जी खबरों को रोकने के लिए कदम उठाए. याचिका में यह भी कहा गया है कि सरकार ऐसी फर्जी खबरें चलाने वाले मीडिया के वर्ग की पहचान करे और उसके खिलाफ कार्रवाई करे.

देश में लॉकडाउन के बावजूद निजामुद्दीन मरकज स्थित मुख्यालय में पिछले हफ्ते तबलीगी जमात के 2,300 से ज्यादा सदस्यों के रहने की बात सामने आने के बाद देश भर में इनकी पहचान करने की कवायद शुरू की गई थी. निजामुद्दीन मरकज में पिछले महीने हुए धार्मिक आयोजन में देश-विदेश से कम से कम नौ हजार लोगों ने हिस्सा लिया था. केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को पत्र लिख कर उन सभी से कोविड-19 के मरीजों के इलाज में महत्वपूर्ण मेडिकल ऑक्सीजन की निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित करने को कहा है, साथ ही इस दौरान सामाजिक दूरी बनाए रखने और स्वच्छता पर भी ध्यान देने को कहा है.

उधर केंद्रीय गृह मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने सोमवार को बताया कि केन्द्र और राज्य सरकारों के निजामुद्दीन मरकज के कार्यक्रम में शामिल तबलीगी जमात के सदस्यों की पहचान करने के लिए चलाए गए व्यापक अभियान के बाद जमात के सदस्यों और उनके संपर्क में आए पच्चीस हजार से ज्यादा लोगों को देश के विभिन्न हिस्सों में कोरेंटाइन किय गया है. गृह मंत्रालय की संयुक्त सचिव पुण्य सलिला श्रीवास्तव ने पत्रकारों से कहा कि हरियाणा के पांच गांवों को सील कर दिया गया है और निवासियों को आइसोलेशन में रखा गया है क्योंकि तबलीगी जमात के विदेशी सदस्य वहां ठहरे थे. उन्होंने कहा कि तबलीगी जमात के कुल 2,083 विदेशी सदस्यों में से 1,750 सदस्यों को अभी तक काली सूची में डाला जा चुका है. (राजनीतिक-सामाजिक मुद्दों पर सटीक विशलेषण के लिए पढ़ें और फॉलो करें).

April 7th 2020, 7:25 am

भविष्यवाणी : 8 अप्रैल से 24 अप्रैल तक,क्या कहते है आपके भाग्य के सितारे

Samachar Jagat

सबसे पहले ऊपर दिए गए पीले रंग के बटन को दबाकर हमें फॉलो जरूर कीजिएगा वह सभी राशियां नीचे दी गई है.

मेष, सिंह, धनु राशि :

आप इस वक़्त अलौकिक घटनाओं से प्रभावित रहेंगे ǀआप अपना दिन किसी रहस्यमयी मुद्दे की खोजबीन में बिताना चाहते हैं और कोई रहस्यमयी फिल्म या उपन्यास देख/पढ़ सकते हैं ǀआप किसी रहस्य पर से पर्दा उठाने का फैसला भी ले सकते हैं या किसी स्थिति/व्यक्ति के बारे में और अधिक जानने की कोशिश करेंगे ǀहालंकि,आपको यह सब करते हुए सावधान रहना होगा ǀ अगर आपको लगता है कि आपका लवमेट आपकी बातों को समझ नहीं पाता तो उनके साथ वक्त बिताएं और अपनी बातों को स्पष्टता के साथ उनके सामने रखें। नई शुरू की परियोजनाएँ उम्मीद के मुताबिक़ परिणाम नहीं देंगी। लोग आपके बारे में क्या सोचते हैं आपको इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ेगा। बल्कि आप खाली समय में किसी से मिलना जुलना भी पसंद नहीं करेंगे और एकांत में आनंदित रहेंगे। वैवाहिक जीवन में सब कुछ अच्छा महसूस होगा।

वृष, कन्या, मीन राशि : 

दिन कोई नया स्वस्थ्य सम्बन्धी कार्यक्रम शुरू करने के लिए बहुत अच्छा है |अपने खाने का विशेष ध्यान रखें और से नियमित रूप से एक्सरसाइज शुरू करें जिसकी आप हाल –फिलहाल उपेक्षा करते आ रहें हैं | आपको यह समझना बहुत जरूरी है कि अच्छी मानसिक सेहत के लिए स्वस्थ शरीर का होना बहुत आवश्यक है |नयी योग क्लास में हिस्सा लें या दूसरी रिलैक्स करने वाली तकनीक अपनाएँ ,आपके जीवन में अब इनकी खासी आवश्यकता है |अपने जीवनसाथी के मामले में ग़ैर-ज़रूरी टांग अड़ाने से बचें। अपने काम-से-काम रखना बेहतर रहेगा। कम-से-कम दख़ल दें, नहीं तो इससे निर्भरता बढ़ सकती है। आपका धन आपके काम तभी आता है जब आप फिजूलखर्ची करने से खुद को रोकते हैं ये बात आपको अच्छी तरह से समझ में आ सकती है। बुज़ुर्ग और परिवार के सदस्य स्नेह देंगे और ख़याल रखेंगे।

मिथुन, तुला, कुंभ राशि : 

आपका ध्यान भटकने की संभावना है , हालाँकि आपका कार्य जमा होता जा रहा है, लेकिन आपका ध्यान अनुत्पादक गतिविधियों में लिप्त रहेगा , लेकिन फिर भी आपको आराम करने का अवसर नहीं मिल पायेगा क्योंकि जागरूकता और चिंता हमेशा आपके मन पर हावी रहेगी की आपका कार्य अभी अधूरा है । आपका लंबित कार्य जमा होता रहेगा जो की आपकी कार्य प्रणाली की दिनचर्या पर एक दीर्घकालिक प्रभाव डाल सकता है ।दोस्तों का रुख़ सहयोगी रहेगा और वे आपको ख़ुश रखेंगे। बिना किसी की मदद के भी आप धन कमा पाने में सक्षम हो सकते हैं बस आपको खुद पर विश्वास करने की जरुरत है। बच्चे आपको घरेलू काम-काज निबटाने में मदद करेंगे। प्यार के मामले में आप ग़लत समझे जा सकते हैं। काम में पेशेवर रवैया आपको सराहना दिलाएगा। 

कर्क, वृश्चिक, मकर राशि :

कुछ दिलचस्प पढ़कर थोड़ी दिमाग़ी कसरत करें। आर्थिक तौर पर सिर्फ़ और सिर्फ़ एक स्रोत से ही लाभ मिलेगा। ज़रूरत से ज़्यादा जज़्बाती होना आपका दिन बिगाड़ सकता है- ख़ास तौर पर तब जब आप अपने प्रिय को किसी और के साथ थोड़ा ज़्यादा दोस्ताना मिज़ाज का होते हुए देखेंगे। आपके पास अपनी क्षमताओं को दिखाने के मौक़े होंगे। आपको ऐसी जगहों से महत्वपूर्ण बुलावा आएगा, जहाँ से आपने इसकी कभी कल्पना भी न की हो।यात्राओं से तुरंत लाभ तो नहीं होगा, लेकिन इसके चलते अच्छे भविष्य की नींव रखी जाएगी। मुमकिन है कि महरी या काम वाली बाई की तरफ़ से कोई परेशानी खड़ी हो, जिससे आपके व आपके जीवनसाथी को तनाव संभव है।

कमेंट बॉक्स में श्री गणेश लिखे ताकि आपकी सभी मनोकामना पूरी हो सके धन्यवाद //

यह लेख पसंद आए तो नीचे दिये गए पीले बटन को दबाकर हमे फॉलो जरूर करे //

April 6th 2020, 11:33 pm

कर्मों का फल जरूर मिलता है, 08 से 20 अप्रैल तक इन 5 राशियों के पास आएगा खूब पैसा और प्यार

Samachar Jagat

सच्ची श्रद्धा और सच्चे मन से सबसे पहले ऊपर दिए गए पीले रंग के फॉलो बटन को दबाकर हमें फॉलो जरूर करें।

आपके सोचे हुए सभी कार्य पूरे हो सकते हैं, आपको बहुत ही जल्द बड़ी कामयाबी मिल सकती है, व्यापार में लाभ के मौके मिलेंगे, साझेदारी के कार्यों से बड़ा धन लाभ होगा, आय के क्षेत्र में लगातार वृद्धि की संभावना है, परिवार में हंसी-ख़ुशी का माहौल निर्मित होगा, आपको जीवनसाथी का पूरा-पूरा सहयोग मिलेगा, आपकी कलम की ताकत बड़े से बड़े शत्रु को भी परास्त करने का काम करेगी।

कोर्ट-कचहरी के मामले में भी सब कुछ आपके पक्ष में रहेगा, आपके द्वारा आरंभ किया गया नया कार्य फायदेमंद साबित होगा, पति-पत्नी के बीच अच्छे संबंध स्थापित होंगे, सरकारी नौकरी में पदोन्नति के योग नजर आ रहे हैं, इस समय आपको अचानक कोई बड़ी लॉटरी लग सकती है, जिससे आपके पास धन की कभी कोई कमी नहीं रहेगी, आपके परिवार में बहुत सारी खुशियों का आगमन होगा।

आपके जीवन में आने वाली सभी परेशानियों का अंत होगा, स्वास्थ्य का विशेष ख्याल रखें, कोरोना आपको छू भी नहीं पाएगा, आपको अपने जीवन में सफलता अवश्य मिलेगी, आपकी अधूरी मनोकामनाएं निश्चित तौर पर पूरी होंगी, आपके जीवन में खुशहाली दस्तक देने वाली है, सब्र का फल मीठा होता है, आपके जीवन के बदलाव आपके लिए बेहद आनंददायक रहेंगे।

वे भाग्यशाली राशियां मेष, धनु, सिंह, कन्या और वृषभ राशि के जातक हैं, आप सभी भक्त गण देवी मां लक्ष्मी की कृपा पाने के लिए कमेंट में सच्चे मन से "जय मां लक्ष्मी" अवश्य लिखें, आपकी हर मनोकामना पूर्ण होगी।

April 6th 2020, 11:33 pm

अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ सख्ती से निपटने के संकेत दिए उद्धव ठाकरे ने

Samachar Jagat

देश में कोरोना वायरस के खतरों के बीच ही अफवाहों का बाजार भी गर्म है. अफवाह फैलाए जा रहे हैं. अफवाहों की वजह से लोगों में दहशत भी है और गुस्सा भी. सोशल मीडिया पर लगातार लोगों के खिलाफ धार्मिक भावनाओं को भड़काने वाले पोस्ट डाले जा रहे हैं. जिनका सच्चाई से कोई लेना-देना नहीं है. इस तरह के पोस्ट डालने का मकसद सिर्फ विवाद खड़ा करना है. महाराष्ट्र सरकार ने इस तरह की अफवाहों पर लगाम लगाने के लिए सख्ती के संकेत दिए हैं. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने राज्य के लोगों के लिए वीडियो संदेश जारी किया है.

उन्होंने कहा कि सोलापुर की आराध्या में अपने जन्मदिन के अवसर पर कोरोना के लिए मुख्यमंत्री रिलीफ फंड में दान देकर उत्तम उदाहरण प्रस्तुत किया है. होटल ताज और ट्राइडेंट ने डॉक्टरों ले रहने की जगह दी है. अभिनेता शाहरुख खान ने भी अपने दफ्तर की जगह दी है. मदद के लिए बहुत से लोग आगे आ रहे हैं. उद्धव ठाकरे ने अफवाह फैलाना वालों की खबर ली है और सख्त लहजे में उन्हें चेताया है. उद्धव ने फर्ज वीडियो फैलाने वालों पर सख्ती के संकेत देते हुए कहा कि समाज के कुछ घातक वायरस भी हैं, इसलिए मैं उनको बताना चाहता हूं कि कोविड-19 से तो मैं अपनी जनता को बचा लूंगा, लेकिन उसके बाद तुम्हें मुझसे कोई नहीं बचा पाएगा. इसलिए कृपया कर गलत वीडियो न साझा करें.

उद्धव ठाकरे ने कहा कि हमने मुंबई में जांच केंद्र बढ़ाया है. इसलिए मरीजों की संख्या बढ़ती हुई दिख रही है, लेकिन 51 लोग ठीक भी हुए हैं. दुर्भाग्य से कुछ लोगों की मौत हो गई है. लेकिन वे बुजुर्ग थे, बीमार थे. कहने का मतलब यह कि हम सभी को अपने घर परिवार में बुजुर्गों का विशेष ख्याल रखना है. उनसे विशेष दूरी बनाएं. अगली सूचना तक राज्य में कोई भी धार्मिक, राजनीतिक समारोह का आयोजन की इजाजत नहीं दी जाएगी. उद्धव ने कहा कि महाराष्ट्र में करीब पांच लाख मजदूरों (दूसरे राज्यों के और कुछ महाराष्ट्र के भी) के रहने, खाने की व्यवस्था की जा रही है. मैं अपेक्षा करता हूं कि दूसरे राज्य के मुख्यमंत्री उनके यहां महाराष्ट्र के कोई लोग फंसे हों तो उनका ख्याल रखें. महाराष्ट्र के लोगों को भी आवाहन है कि राज्य के बाहर उन्हें कोई तकलीफ है तो मुख्यमंत्री कार्यालय को सूचित करें. 

ठाकरे ने कहा कि हम सिर्फ कोविड-19 के इलाजों के लिए अस्पताल बढ़ा रहे हैं. मेरी विनती है कि जिसे भी कोरोना के लक्षण हो वे सिर्फ कोरोना टेस्ट होने वाले केंद्रों में ही जाएं. सामान्य अस्पतालों में नहीं. सिंगापुर के प्रधानमंत्री ने कहा है कि अगर घर से बाहर जाना जरूरी हो तो एन-90 मास्क की जरूरत नहीं. अगर मास्क नहीं हो तो घर पर रखे स्वच्छ कपड़े से अपने नाक मुहं सब ढंक कर जाएं. बाहर जाते समय अंतर बनाएं तभी कोरोना को दूर रख पाएंगे. मेरा खुद से ज्यादा आप लोगों पर भरोसा है. मुझमें आत्मविश्वास तो है ही. हम छत्रपति शिवाजी महाराज की भूमि से हैं. डरते नही हैं लड़ते हैं और जीतते हैं.(राजनीतिक-सामाजिक मुद्दों पर सटीक विशलेषण के लिए पढ़ें और फॉलो करें).

April 6th 2020, 11:33 pm

कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में हिस्सा लेते दक्षिण भारतीय सुपर स्टार

Samachar Jagat

दक्षिण भारतीय सितारे कोरोना वायरस से लड़ाई में अपनी हिस्सेदारी लगातार बंटा रहे हैं. मुंबई सिनेमा जगत जब सिर्फ प्रवचन देने में लगा था, तब दक्षिण भारतीय सितारे आगे आए थे और जंग में अपना योगदान दिया था. नयनतारा दक्षिण भारतीय सिनेमा की सुपर स्टार हैं. वे भी अब कोरोना वायरस से जंग के लिए अपना योगदान दिया है. नयनतारा ने दक्षिण की फिल्मों के कर्मचारी संघ को बीस लाख रुपए का दान दिया है. फिल्म उद्योग में ऐसे हजारों लोग हैं जो दिहाड़ी मजदूरी करते हैं लेकिन लॉकडाउन के कारण उनका रोजगार छिन गया है. इसके लिए अब सितारे उनकी मदद के लिए सामने आ रहे हैं. नयनतारा ने अपना कर्तव्य निभाते हुए उन लोगों के लिए दान दिया है.

नयनतारा से पहले साउथ फिल्म इंडस्ट्री के डेली वर्कर्स को रजनीकांत,विजय सेतूपति, सूर्या और कई कलाकारों ने दान दिया था. अब इस सूची में नयनतारा का नाम शामिल हो गया है. यूं कुछ दिन पहले अमिताभ बच्चन ने फिल्म फेडरेशन के एक लाख सदस्यों को एक महीने का मुफ्त राशन देने का एलान किया था. तेलुगू सिनेमा के सुपरस्टार अलु अर्जुन ने अपने इंस्टाग्राम पर एक वीडियो शेयर किया है और डोनेशन का ऐलान किया है. अलु अर्जुन ने अपने ट्वीट में लिखा है कि कोविड-19 महामारी ने कई जिंदगियों को रोक कर रख दिया है. इस मुश्किल दौर में मैं मैं आंध्र प्रदेश, तेलंगाना और केरल के लोगों के लिए एक करोड़ पच्चीस लाख रुपए दान कर रहा हूं. मैं आशा करता हूं कि हम मिलकर लड़ेंगे और इस महामारी को जल्द ही खत्म कर देंगे. घरों में रहें.

रजीनकांत मदद करने वाले पहले अभिनेता थे जिन्होंने दिहाड़ी मजदूरों की मदद के लिए पचास लाख रुपए दिए. पवन कल्याण, राम चरण समेत कई अन्य दक्षिण भारतीय फिल्मी हस्तियों ने भी आर्थिक मदद की घोषणा की है. तेलुगू सुपरस्टार महेश बाबू ने आंध्र प्रदेश और तेलंगाना मुख्यमंत्री राहत कोष में एक करोड़ रुपए की रकम दी है. पवन कल्याण ने भी ट्वीट करके कहा है कि वे प्रधानमंत्री राहत कोष में भी एक करोड़ रुपए देंगे. राम चरण ने भी प्रधानमंत्री कार्यालय और तेलंगाना व आंध्र प्रदेश की सरकारों को सत्तर लाख रुपए देने का एलान किया है. प्रभास ने चार करोड़ रुपए दिए हैं. 

भारत में कोरोना वायरस से अब तक 111 लोगों की मौत हो चुकी है और 4067 इसके संक्रमण के शिकार हुए हैं, ठीक होने वाले मरीजों की संख्या 232 है. पिछले 24 घंटे की बात करें तो इस दौरान 32 लोगों की मौत हुई है और 693 नए मामले सामने आए हैं. कोरोनावायरस के बढ़ते मामले को देखते हुए देश में 21 दिनों के लिए लॉकडाउन जारी है जो 14 अप्रैल तक चलेगा. देश में कोरोना फैलने से रोकने के लिए हर संभव कोशिश की जा रही है. (राजनीतिक-सामाजिक मुद्दों पर सटीक विशलेषण के लिए पढ़ें और फॉलो करें).

April 6th 2020, 11:33 pm

भाजपा आईटी सेल पर ममता बनर्जी ने झूठ फैलाने का लगाया आरोप

Samachar Jagat

कोरोना वायरस के बढ़ते खतरों के बीच ही भाजपा और तृणमूल कांग्रेस में ठन गई है. पहले राहत के नाम पर भाजपा ने बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधा था. बंगाल में कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी खुद सड़कों पर उतरी हुईं हैं. लोगों को जागरूक करने के लिए वे हर स्तर पर काम कर रहीं हैं. इससे भाजपा की परेशानी बढ़ी है. भाजपा नेताओं ने ममता बनर्जी सरकार पर राहत में भेदभाव का आरोप भी लगाया था और कहा था कि सरकार लोगों को राहत बांटने में लगे भाजपा नेताओं को परेशान कर रही है. पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने पत्राकारों से कहा था कि भाजपा नेताओं को लॉकडाउन के बहाने सड़कों पर निकल कर लोगो को राहत देने की इजाजत सरकार नहीं दे रही है. अब ममता बनर्जी ने भाजपा और उसके आईटी सेल पर झूठ और पाखंड फैलाने का आरोप लगाया है.

पत्रकारों से बात करते हुए ममता बनर्जी ने भाजपा के आईटी सेल पर निशाना साधा और कहा कि कोरोना वायरस के खिलाफ हम पूरी ताकत के साथ लड़ाई लड़ रहे हैं. लेकिन राज्य के स्वास्थ्य विभाग के खिलाफ कथित तौर पर फर्जी खबरें फैलाई जा रहीं हैं. मुख्यमंत्री ने संकट की इस घड़ी में ओछी राजनीति से भाजपा को बचने की सलाह दी. भाजपा आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने ट्वीट कर बंगाल सरकार पर कोरोना वायरस से संबंधित आंकड़ों को छुपाने का आरोप लगाया था. इसके बाद ही बनर्जी का बयान आया है.

हालांकि मुख्यमंत्री ने भाजपा या मालवीय का नाम नहीं लिया. बनर्जी ने कोविड-19 से निपटने के तहत नीति निर्माण संस्था वैश्विक सलाहकार बोर्ड के गठन की भी घोषणा की. यह संस्था बंगाल में इस महामारी के खात्मे के लिए नीति तैयार करने में राज्य सरकार की मदद करेगी. नोबेल पुरस्कार विजेता अभिजीत बनर्जी बोर्ड के सदस्य होंगे. ममता ने कहा एक पार्टी का आईटी सेल बंगाल के स्वास्थ्य विभाग को बदनाम करने के लिए फर्जी खबरों को इस्तेमाल कर रहा है. हमारे डॉक्टर और स्वास्थ्यकर्मी बीमारी से निपटने के लिए बेहतर काम कर रहे हैं. यह ओछी राजनीति का समय नहीं है. हमने संकट से निपटने को लेकर केंद्र सरकार की कमियों पर कभी ध्यान नहीं दिया.'

उन्होंने कहा कि वे बर्तन बजाकर और पटाखे फोड़कर राजनीति करने के इच्छुक होंगे, लेकिन हम नहीं हैं. बंगाल में फिलहाल कोविड-19 के 61 मामले दर्ज किए गए हैं. सोमवार शाम को स्वास्थ्य मंत्रालय ने आंकड़े जारी किए जिनके अनुसार कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या 4281 पर पहुंच गई है. अब तक इस खतरनाक वायरस की वजह से 111 लोगों की मौत हो चुकी है. इसके अलावा 319 लोग इस वायरस के संक्रमण से ठीक हो चुके हैं. कोरोनावायरस के बढ़ते मामले को देखते हुए देश में 21 दिनों के लिए लॉकडाउन जारी है जो 14 अप्रैल तक चलेगा. (राजनीतिक-सामाजिक मुद्दों पर सटीक विशलेषण के लिए पढ़ें और फॉलो करें).

April 6th 2020, 11:33 pm

बुरा समय हुआ समाप्त, 08 अप्रैल हनुमान जयंती से शुरू होंगे इन 6 राशियों के अच्छे दिन

Samachar Jagat

सच्ची श्रद्धा और सच्चे मन से सबसे पहले ऊपर दिए गए पीले रंग के फॉलो बटन को दबाकर हमें फॉलो जरूर करें।

आपको अपने जीवन में अनेक बड़े बदलाव देखने को मिलेंगे, आपके ऊपर पवनपुत्र हनुमान की कृपा दृष्टि सबसे अधिक बनी रहेगी, हनुमान जी का नाम लेकर आप जो भी कार्य करेंगे, उस कार्य में आपको सफल होने से कोई नहीं रोक सकता है, आपको अपने घर में सबसे ज्यादा माता पिता का सपोर्ट मिलेगा, जिससे आप समाज में अपनी अलग पहचान बनाने में कामयाब रहेंगे, छात्रों को करियर के क्षेत्र में नए-नए अवसर मिलेंगे।

आपको व्यापार के क्षेत्र में अचानक धन लाभ होने की पूरी संभावना नजर आ रही है, नौकरी पेशा लोगों को प्रमोशन के योग नजर आ रहे, आपको अपनी मेहनत से धन लाभ होगा, परिवार में सबके साथ आपके रिश्ते अच्छे बने रहेंगे, आपको अपने जीवनसाथी से भरपूर सुख और सहयोग मिलेगा, अगर आप इस दौरान अपने खर्चों पर कंट्रोल रखेंगे, तो आपकी आर्थिक स्थिति ठीक बनी रहेगी।

आपके इनकम सोर्स बेहतर बने रहेंगे, आपकी सैलरी में बढ़ोतरी हो सकती है, आपकी संतान पढ़ाई-लिखाई के मामले में आगे रहेगी, आने वाले समय में बेरोजगारों को रोजगार के उचित अवसर मिलने के योग हैं, कारोबार से जुड़े हुए लोगों का समय बेहतर रहेगा, नौकरी के क्षेत्र में परिस्थितियां आपके पक्ष में रहने वाली है, अविवाहित लोगों के घर में विवाह के नए-नए प्रस्ताव आएंगे, परिवार में खुशियों का माहौल बना रहेगा।

जिन भाग्यशाली राशियों के बारे में हम बात कर रहे हैं वह धनु, मकर, मेष, सिंह, मिथुन और तुला राशि के जातक हैं, आप सभी भक्त लोग भगवान हनुमान को प्रसन्न करने के लिए कमेंट में सच्चे मन से "जय हनुमान" अवश्य लिखें, आपकी हर मनोकामनाएं जल्द ही पूर्ण होंगी।

April 6th 2020, 11:33 pm

08 अप्रैल हनुमान जयंती और पूर्णिमा का विशेष संयोग, इन 5 राशियों के सच होंगे अधूरे सपने

Samachar Jagat

सच्ची श्रद्धा और सच्चे मन से सबसे पहले ऊपर दिए गए पीले रंग के फॉलो बटन को दबाकर हमें फॉलो जरूर करें।

व्यापार-व्यवसाय को आगे बढ़ाने का प्रयास करेंगे, घर में सुख, समृद्धि और धन आएगा, आप समाज में नया करके दिखा सकते हैं, जिससे हर जगह आपकी प्रशंसा होगी, आय को बढ़ाने के लिए नए साधनों को खोजेंगे, नौकरी वर्ग के लोगों की आय में वृद्धि होगी, आपके द्वारा किए गए सभी कार्य पूरे हो सकते हैं, तरक्की के साथ साथ आमदनी में बढ़ोत्तरी होगी, आपके जीवन में आने वाली सभी प्रकार की परेशानियों का अंत होगा।

जीवन में माता-पिता का सुख बना रहेगा, धन के साथ ही आपकी आयु में भी वृद्धि होगी, साथ ही सरकारी कार्यों में आपको लाभ मिलेगा, करियर के क्षेत्र आप इस दौरान बहुत धैर्यवान रहेंगे, भाई-बहनों से आपको मनचाहा सहयोग मिलेगा, साथ ही आप अपनी बातों को दूसरों के सामने खुलकर रख पायेंगे, आप अपनी बोली से अपने सारे कामों को बनाने में सफल रहेंगे, साथ ही आपकी कलम आपकी ताकत बनी रहेगी।

आपको हर जगह मान-सम्मान मिलेगा, शिक्षा में भी अच्छा परिणाम मिलेगा, बड़े बुजूर्ग से किसी काम के सिलसिले में सलाह लेना न भूले, दूसरों पर विश्वास हानि देगा, भौतिक सुख-सुविधाओं पर खर्चा हो सकता है, किसी भी तरह का निवेश करने से पहले सलाह कर लें, बिजनेस में कुछ अच्छे मौके भी मिल सकते हैं, तन मन से फुर्ती और ताजगी का अनुभव कर पाएंगे।

जिन भाग्यशाली राशियों के बारे में हम बात कर रहे हैं वह मीन, कन्या, वृश्चिक, कुंभ और सिंह राशि के जातक हैं, आप सभी भक्त लोग बजरंगबली जी को प्रसन्न करने के लिए कमेंट में सच्चे मन से "जय हनुमान" अवश्य लिखें।

April 6th 2020, 11:33 pm

इंतजार का फल मीठा होता है, 14 अप्रैल के बाद बुलंदियों को छू रहा है सिर्फ 3 राशियों का नसीब

Samachar Jagat

सच्ची श्रद्धा और सच्चे मन से सबसे पहले ऊपर दिए गए पीले रंग के फॉलो बटन को दबाकर हमें फॉलो जरूर करें।

इन दिनों में आप लोगों की किस्मत अचानक पलट जाएगी, आप लोग बहुत ज्यादा भाग्यशाली भी रहने वाले हैं, कुछ दिनों में आप लोगों के ऊपर जितना भी कर्ज है वह सारा बहुत जल्द उतरने वाला है, भोलेनाथ की कृपा से आप लोगों के पास बहुत सारा धन आने वाला है, आप लोगों को खुशियां ही खुशियां मिलने वाली है, आपके घरेलू कामकाज अच्छे ढंग से पूर्ण होंगे।

आपके संपत्ति से संबंधित जो भी मामले उलझ रहे थे, उनका समाधान निकल सकता है, आपको अपनी मेहनत का पूरा लाभ प्राप्त होगा, आपके मुंह से निकली हुई बातें दूसरों के लिए बहुत ही प्रभावशाली रहेंगी, समाज में आपका सम्मान और प्रतिष्ठा बढ़ेगी, नव दम्पतियों को संतान सुख की प्राप्ति होने की संभावना है, आपके साथ ही आपकी संतान और जीवनसाथी के लिए भी समय काफी अच्छा रहेगा।

आपको इस दौरान पुराने निवेश से बड़ा लाभ मिल सकता है, आपके जीवन में कोई नया मोड़ आने से जीवन में कोई प्रवेश करेगा, अपने व्यवसाय को आगे बढ़ाने का प्रयास करेंगे, आत्मविश्वास और पराक्रम में वृद्धि होगी, यात्रा देशाटन सुखद एवं लाभप्रद साबित होगा, मकान एवं वाहन खरीदने का उत्तम समय हैं, घर में होने वाले शुभ कार्यक्रम से घर का माहौल खुशनुमा बना रहेगा, बेरोजगारी दूर करने के प्रयास सफल रहेंगे, भूले-बिसरे साथियों से मुलाकात हो सकती है।

वह भाग्यशाली लोग सिंह, मीन और तुला राशि वाले हैं, दोस्तों अगर आपकी राशि इन राशियों में शामिल है तो नीचे कमेंट बॉक्स में "राधे-राधे" अवश्य लिखें, जिससे महादेव आपके सभी दुख, दर्द और कष्टों का विनाश करेंगे।

April 6th 2020, 11:33 pm

राजस्थान सरकार ने कोरोना को रोकने के लिए अगले चरण की रणनीति पर शुरू किया काम

Samachar Jagat

कोरोना वायरस के संक्रमण के फैलाव को राजस्थान सरकार ने रोक दिया है. शुरुआत में राजस्थान में संक्रमित लोगों की तादाद में इजाफा हुआ लेकिन राजस्थान ने सबसे पहले देश में लॉकडाउन का एलान किया और फिर धारा 144 लगा कर इसके फैलाव को रोकने में कामयाबी हासिल की. खुद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इसमें दिलचस्पी ली और टास्क फोर्स का गठन कर कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए कारगर उपाय किए. अब राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रदेश में कोरोना संक्रमण रोकने के लिए लागू लॉकडाउन से आगे की रणनीति पर काम करना शुरू कर दिया है. एक उच्चस्तरीय बैठक में उन्होंने इसके लिए संपूर्ण लॉकडाउन को चरणबद्ध रूप से हटाने के लिए सुझाव देने और इससे प्रभावित हुई अर्थव्यवस्था को फिर से पटरी पर लाने के संबंध में सुझाव देने के मकसद से दो टास्क फोर्स का गठन किया है. इसके लिए दो दिन पहले आदेश जारी किए गए.

गहलोत ने लॉकडाउन हटाने के लिए महत्त्वपूर्ण उपाय सुझाने के लिए अतिरिक्त मुख्य सचिव गृह राजीव स्वरूप की अध्यक्षता में बारह अधिकारियों और विशेषज्ञों की पहली टास्क फोर्स गठित की है.दूसरी टास्क फोर्स मुख्यमंत्री के आर्थिक सलाहकार व राजस्थान ट्रांसफोर्मेशन काउंसिल के उपाध्यक्ष अरविंद मायाराम की अध्यक्षता में बनाई गई है. पहली टास्क फोर्स लॉकडाउन हटाने की स्थिति के बारे में जल्द से जल्द अपने सुझाव देगी, जिन्हें भारत सरकार को भेजा जाएगा. इसी प्रकार दूसरी टास्क फोर्स अर्थव्यवस्था को सुधारने के लिए रणनीति तैयार करेगी. 

दूसरी तरफ, कोरोना वायरस लॉकडाउन के बीच वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक हुई. बैठक में पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कोरोना को मानवीय और बेहद गंभीर स्वास्थ्य संकट बताया. उन्होंने कहा कि यह हमारे सामने बेहद भयानक चुनौती है, लेकिन इसे हराने का हमारा संकल्प और ज्यादा बड़ा होना चाहिए. कांग्रेस अध्यक्ष ने यह भी कहा कि बिना किसी योजना के लॉकडाउन करने से लाखों श्रमिकों को परेशानी उठानी पड़ी है. बैठक में वायनाड से सांसद और कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी भी मौजूद थे. बैठक के बाद राहुल ने ट्वीट कर बताया कि उन्होंने बैठक में किन बिंदुओं को पार्टी नेताओं के सामने रखा.

राहुल गांधी ने ट्वीट किया कि आज कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक में मैंने कोरोना वायरस महामारी का मुकाबला करने के लिए भारत की विशिष्ट रणनीति तैयार करने और कांग्रेस कार्यकर्ताओं और नेताओं के लिए हर संभव तरीके से हमारे समाज के गरीब और सबसे कमजोर वर्गों की मदद करके इस झटके से उरने पर जोर दिया. कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, पी चिदंबरम, गुलाम नबी आजाद और दूसरे वरिष्ठ नेताओं ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए शिरकत की. सभी नेताओं ने इस आपदा से निपटने के लिए अपने-अपने विचार रखे और पार्टी कार्यकर्ताओं से हर जरूरतमंद की मदद करने की अपील की. (राजनीतिक-सामाजिक मुद्दों पर सटीक विशलेषण के लिए पढ़ें और फॉलो करें).

April 6th 2020, 11:33 pm

8 अप्रैल हनुमान जयंती का दिन है कलयुग का सबसे पवित्र दिन, 4 राशि के लोगों की खुलेगी किस्मत

Samachar Jagat

सच्ची श्रद्धा और सच्चे मन से सबसे पहले ऊपर दिए गए पीले रंग के फॉलो बटन को दबाकर हमें फॉलो जरूर करें।

आप दिन दुगनी रात चौगुनी तरक्की हासिल करते हुए नई मिसाल कायम करेंगे, इस समय आपकी काम-धंधे से संबंधित सभी समस्याएं खत्म हो जाएगी, व्यापार और नौकरी के क्षेत्र में शुभ समाचार मिलने की संभावना है, धन लाभ के साधनों में वृद्धि होने के योग हैं, किसी महिला मित्र के सहयोग से आप अपने अधूरे कामकाज पूरे करेंगे, समाज के प्रति कुछ नया करने का प्रयत्न कर सकते हैं, जिससे आपके मान-सम्मान में वृद्धि होगी।

व्यापार नई उचाईयों की ओर अग्रसर होगा, आपके रुके हुए कार्यों में तेजी आ सकती है, आप घर पर मन लगाकर अपना काम पूरा करेंगे, आपके चेहरे पर हमेशा एक खुशी बनी रहेगी, करियर में आगे बढ़ने के लिए आपको कई मौके मिल सकते हैं, बस उन मौकों से फायदा उठाना आपके हाथ में है, इससे आपकी आर्थिक स्थिति भी अच्छी होगी, साथ ही आपके टैलेंट में बढ़ोतरी होगी।

आपके व्यवहार से लोग खुश रहेंगे, कारोबार से जुड़े हुए लोगों को उन्नति हासिल होगी, अचानक आपको अटका हुआ धन मिलने की संभावना नजर आ रही है, प्रापर्टी के कामों के लिए आपकी भागदौड़ अच्छा नतीजा देगी, अफसरों के रुख में साफ्टनैस के कारण आम हालात बेहतर बनेंगे, कोर्ट-कचहरी के अटके मामलों का निर्णय आपके हक में आएगा और शत्रु पक्ष कमजोर होगा।

वह 4 भाग्यशाली राशियां मकर, धनु, वृश्चिक और कर्क राशि के जातक हैं, आप सभी भक्त लोग हनुमान जी की कृपा पाने के लिए कमेंट में "जय हनुमान" अवश्य लिखें।

April 6th 2020, 11:33 pm

सुप्रीम कोर्ट ने प्रवासी कामगारों पर केंद्र से मांगा जवाब

Samachar Jagat

प्रवासी कामगारों और मजदूरों का मामल सुप्रीम कोर्ट में पहुंच गया है. कोरोना वायरस के खतरों के बीच प्रवासी मजदूरों की भीड़ जिस तरह से सड़कों पर उमड़ी उसने सामाजिक तानेबाने को तो तोड़ा ही, देश की बदहाली और रोजी-रोटी को लेकर उतपन्न शंकाओं को भी नए सिरे से परिभाषित किया. भीड़ अचानक उमड़ी या इसके पीछे सरकारों की अपनी सियासत थी, इससे परे जो बात उभर कर सामने आई वह थी इन मजदूरों के अंदर समाया डर. डर भूख का, रोजी चले जाने का और अपनों के बीच नहीं रह पाने का और इसी डर ने कामगारों को ताकत दी पैदल ही सैंकड़ों मील पैदल चल कर अपने-अपने घर पहुंचने की. उनकी अपनी पीड़ा थी और है भी. प्रवासी मजदूरों की पीड़ा की गूंज सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच चुकी है.

प्रवासी मजदूरों को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने दाखिल याचिका पर केंद्र को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है. जवाब सात अप्रैल तक मांगा गया है. सामाजिक कार्यकर्ता हर्ष मंदर और अंजलि भारद्वाज ने इस मामले में याचिका दाखिल की है. याचिका में कहा गया है कि देशव्यापी लॉकडाउन के बीच सभी प्रवासी श्रमिकों को न्यूनतम मज़दूरी का भुगतान सरकार को करना चाहिए, चाहे वे मजदूर नियमित हों, अनियमित हों या फिर खुद का काम करते हों. यह मज़दूरी उन्हें एक हफ्ते के भीतर दी जाए. 

याचिका में कहा गया है कि आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत केंद्र सरकार के लॉकडाउन का आदेश इस समान आपदा से प्रभावित नागरिकों के बीच मनमाने ढंग से भेदभाव कर रहा है. इसकी वजह से प्रवासी मजदूरों के सामने बड़ी समस्या आ गई है और उनके पास रोजगार व खाने पीने की कोई व्यवस्था नहीं है. ऐसे में यह केंद्र और राज्य सरकारों का कर्तव्य है कि वे इन सभी मजदूरों को न्यूनतम मज़दूरी का भुगतान करें जिससे ऐसे समय में वे अपना व अपने परिवार का गुजारा कर सकें.

हालांकि सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने जस्टिस एल नागेश्वर राव और जस्टिस दीपक गुप्ता की बेंच से कहा कि घरों में आराम से बैठे सामाजिक कार्यकर्ताओं की खोली गई पीआईएल की दुकानों को बंद किया जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि सरकार श्रमिकों की बुनियादी जरूरतों को देख रही है. भारत में प्रवासी श्रमिकों की दुर्दशा पर एक अन्य याचिका सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दी. कोर्ट ने एक वकील की ओर से दायर याचिका को खारिज करते हुए कहा कि होटलों, गेस्ट हाउसों और रिसॉर्ट का इस्तेमाल प्रवासी कामगारों के लिए इस आधार पर किया जाना चाहिए कि शेल्टर होम में पर्याप्त स्वच्छता और सुविधाएं नहीं हैं.

कोर्ट ने कहा कि लाखों लोगों के पास लाखों विचार हैं, सबको सुना नहीं जा सकता. सभी विचारों को सुनने के लिए सरकार को बाध्य नहीं किया जा सकता. एसजी तुषार मेहता ने भी इस पर आपत्ति जताई और कहा अदालतों से विशेष निर्देशों की कोई आवश्यकता नहीं है. राज्य सरकारें पहले से ही आवश्यकतानुसार भवन, स्कूल, होटल वगैरह को संभाल रही हैं. बहरहाल अब केंद्र को सात अप्रैल तक सुप्रीम कोर्ट को जवाब देकर बताना है. वैसे इस लॉकडाउन की वजह से लाखों कामगारों के सामने रोजी-रोटी का संकट तो पनपा ही है. सरकार ने उनके लिए फंड को घोषणा जरूर की है लेकिन सरकारी फंड उन तक पहुंचेगा, इसमें संदेह ही है. (राजनीतिक-सामाजिक मुद्दों पर सटीक विशलेषण के लिए पढ़ें और फॉलो करें).

April 6th 2020, 2:10 pm

तबलीगी जमात, रथयात्रा और शिरडी में उमड़ी भीड़ से लाॉकडाउन पर उठते सवाल

Samachar Jagat

दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित तबलीगी जमात का मरकज मीडिया के निशाने पर है. उस पर लगातार सवाल उठ रहे हैं. उठना भी चाहिए क्योंकि कोरोना के संकट के बावजूद वहां लोग जमा हुए लेकिन सवाल प्रशासन और सरकार से भी पूछना चाहिए क्योंकि सरकार को भी पता था और पुलिस को भी कि मरकज में हजारों लोग जमा हैं. मरकज के पदाधिकारियों ने दिल्ली पुलिस को बताया भी था. पत्र भी दिए थे कि उनके पास गाड़ी है उन्हें इजाजत दी जाए ताकि वे लोगों को गाड़ियों से घर वापस भेज सकें. मरकज में कार्रवाई से हफ्ते भर पहले हजर निजामुद्दीन थाना के एसएचओ मुकेश वालिया की बैठक मरकज के पदाधिकारियों के साथ हुई थी और उसमें मरकज के लोगों ने बताया था कि उन्हें लोगों को घर भेजने के लिए इजाजत दिलाई जाए. लेकिन प्रशासन और पुलिस सोई रही. इसलिए सरकार की नीयत पर सवाल खड़े हो रहे हैं.

लेकिन इनसे परे अब सवाल यह भी खड़े होने लगे हैं कि कहीं इसके पीछ नीयत कुछ और तो नहीं थी. मीडिया ने जिस तरह से खबरों को चलाया, इससे तो ऐसा ही लगता है क्योंकि उसी मीडिया ने उस रथ यात्रा की खबरों को नहीं चलाया जहां हजारों लोग लॉकडाउन के बावजूद जमा हुए. राजस्थान से लेकर महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश में इस तरह का धार्मिक कर्मकांड की खबरें सामने आरही हैं. जो चौंकाती भी है और डराती भी है. पुलिस ने बताया कि शोलापुर में जमा भीड़ को वह हटाने गई तो उस पर भीड़ ने पथराव किया. पुलिस के साथ इस तरह की खबरे कई इलाकों से आई. पुलिस ने कई जगह कार्रवाई भी की.

लॉकडाउन के बावजूद धार्मिक आडम्बर कानून और नियमों को ताक पर रख धार्मिक रीति रिवाजों को अंजाम दिया गया और पुलिस ने जब उन्हें रोका तो उस पर हमला हुआ. महाराष्ट्र के सोलापुर में एक रथयात्रा का आयोजन किया गया जिसमें सैंकड़ों लोगो ने हिस्सा लिया. कहा जा रहा है कि रथ यात्रा कई सालों से निकाली जा रहीं है लेकिन इस बार रथ यात्रा में लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग की जमकर धज्जियां उड़ाई गईं जब पुलिस ने उन्हें रोकने कि कोशिश की तो गांव वालों ने पथराव शुरू कर दिया जिसमें कई पुलिस वाले घायल हो गए.

ऐसा ही एक मामला शिरडी में देखने को मिला था जब मंदिर के सीईओ और उसके परिवार वालों ने राम नवमी की पूजा का आयोजन किया. वहां भी सोशल डिस्टेंसिंग के मानकों का उलंघन किया गया था. कोरोना के प्रकोप को देखते हुए पूरे देश में 14 अप्रैल तक के लिए लॉकडाउन लागू है. कोरोना वायरस एक दूसरे में न फैले इसके लिए सामाजिक दूरी बनाए रखने की हिदायत दी गई है. ऐसा ही एक उदाहरण दिल्ली के निजामुद्दीन के तबलीगी जमात के मरकज में फंसे हुए लोगों के साथ भी देखा गया. हालांकि लॉकडाउन से पहले किए गए धार्मिक आयोजन पर मीडिया ने तबलीगी जमात को कोरोना वायरस साबित करने में कोई कसर नहीं छोड़ी लेकिन जब यही बात दूसरे समुदाय की आती है तो वही मीडिया चुप्पी साध लेती है.

लॉकडाउन के बाद मध्यप्रदेश में भाजपा ने सरकार बनाने के बार जो भीड़ इक्कठा की थी उस पर किसी ने सवाल नहीं उठाया. योगी आदित्यनाथ 25 मार्च को अयोध्या में धार्मिक अनुष्ठान में शामिल होकर लॉकडाउन का मजाक उड़ाते हैं तो किसी तरह का सवाल नहीं उठता. यह अलग-अलग पैमाना मीडिया की नीयत पर सवाल उठाता है. शोलापुर और शिरडी को लेकर भी सवाल नहीं उठ रहे हैं. इसी तरह मुजफ्फरनगर के मोरना गांव से सामने आया. गांव का पूर्व प्रधान लोगों की भीड़ जमा कर लॉकडाउन का उलंघन कर रहा था. पुलिस भीड़ हटाने गई तो गांव के पूर्व प्रधान ने उन पर हमला कर दिया जिसमें दो पुलिस वाले घायल हो गए जिन्हे अस्पताल में भर्ती कराया गया.

बाद में पूर्व प्रधान और उसकी बहुओं को पुलिस ने गिरफ्तार भी किया गया. इसी तरह राजस्थान का मामला सामने आया है. इस आयोजन में सैकड़ों लोग शामिल हैं. यह आयोजन बूंदी जिले के रामनगर इलाके में किया गया. लॉकडाउन की खुलेआम धज्जियां उड़ा कर तांत्रिकों ने यह आयोजन किया था. इसमें तांत्रिक करतब दिखा रहे थे, जिसे देखने के लिए सैकड़ों की संख्या में भीड़ जुट गई. इस इलाके में दो अलग-अलग जगहों पर यह कार्यक्रम किया गया. मंदिर के पास अनुष्ठान की खबर सुनकर गांव के लोगों की भीड़ जमा हो गई, जहां एक तांत्रिक तंत्र क्रिया कर रहा था.

इसी तरह का एक और वीडियो खुले गांव का है, जहां तीन तांत्रिक नंगी तलवारें लहराकर करतब दिखाते दिखे. इनके करतब देखने के लिए भारी भीड़ जमा हो गई. सूचना मिलने के बाद स्थानीय लाखेरी पुलिस मौके पर पहुंची और भीड़ को हटाया. चिंता की बात यह है कि इस कार्यक्रम में शामिल किसी भी शख्स में कोराना का वायरस पाया गया तो यह तबलीगी जमात जैसी ही तस्वीर हो सकती है. वैसे भी राजस्थान में बीते बारह घंटों में कोरोना के एक दर्जन नए पॉजिटिव केस और सामने आए हैं. इनके साथ ही राजस्थान में अब कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 191 तक पहुंच गई है. इन कुल पॉजिटिव मामलों में से 41 तबलीगी हैं और 27 ईरान से राजस्थान लाए गए भारतीय शामिल हैं. नए पाए गए पॉजिटिव केसेज बांसवाड़ा, चूरू, झुंझुनूं, भीलवाड़ा और बीकानेर के हैं. कोरोना पॉजिटिव एक महिला की बीकानेर में मौत हो गई है. (राजनीतिक-सामाजिक मुद्दों पर सटीक विशलेषण के लिए पढ़ें और फॉलो करें).

April 6th 2020, 2:10 pm

स्टैच्यू ऑफ यूनिटी का विज्ञापन ओएलएक्स पर, पैसा चाहिए बेच डाल

Samachar Jagat

ओएलएक्स है न बेच डाल के टैग लाइन के लिए काफी मशहूर है ऑनलाइन खरीदारी व बिक्री की यह कंपनी. खरीदने वाले और बेचने वाले दोनों को यह लुभाती है. अपने पंचलाइन की वजह से लोगों के जुबान पर इसका विज्ञापन भी रहता है. लेकिन अब इसी ओएलएक्स पर किसी ने स्टैच्यू आफ यूनिटी को ही बेचने का विज्ञापन डाल कर हड़कंप मचा डाला था. देश में कोरोना वायरस का संकट लगातार बढ़ है. कोरोना के खतरे से निपटने के लिए 21 दिनों का लॉकडाउन लागू है. इस खतरे के बीच ही गुजरात में स्टैच्यू ऑफ यूनिटी को बेचने से जुड़े एक ऑनलाइन विज्ञापन का मामला सामने आया. देश जहां कोरोना वायरस महामारी का सामना कर रहा है तो ऑनलाइन वेबसाइट ओएलएक्स पर दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा स्टैच्यू ऑफ यूनिटी को बेचने का विज्ञापन निकला है. स्टैच्यू ऑफ यूनिटी को बेचने का विज्ञापन निकलने से सरकारी महकमे में हड़कंप है.

नर्मदा जिले के केवडिया में स्थित स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की बिक्री के लिए एक ऑनलाइन विज्ञापन जारी करने को लेकर एक अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. कोरोना वायरस संकट से निपटने के लिए मेडिकल बुनियादी ढांचे और अस्पतालों पर होने वाले सरकारी खर्च को पूरा करने के लिए इस प्रतिमा की 30,000 करोड़ रुपए में बिक्री के लिए विज्ञापन जारी किया गया था. दरअसल, ओएलएक्स पर एक विज्ञापन पोस्ट किया गया, जिसमें स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की बिक्री की बात कही गई. इस विज्ञापन में स्टैच्यू ऑफ यूनिटी को तीस हजार करोड़ रुपए में बेचने के लिए रखा गया. साथ ही लिखा कि गुजरात सरकार को कोरोना वायरस के हालत से लड़ने के लिए अस्पताल और मेडिकल उपकरणों के लिए पैसों की जरूरत है.

यह सरदार पटेल का स्मारक है और प्रतिमा 182 मीटर ऊंची है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2018 में इसका उद्घाटन किया था. केवडिया पुलिस स्टेशन के एक अधिकारी ने प्राथमिकी का हवाला देते हुए बताया कि किसी अज्ञात व्यक्ति ने शनिवार को ओएलएक्स पर एक विज्ञापन दिया जिसमें उसने अस्पतालों और स्वास्थ्य संबंधी उपकरणों को खरीदने के लिए स्टैच्यू ऑफ यूनिटी को 30,000 करोड़ रुपए में बेचने की आवश्यकता जताई. इंस्पेक्टर पीटी चौधरी ने कहा कि एक अखबार में इसकी रिपोर्ट आने पर स्मारक के अधिकारियों को इसका पता चला और उन्होंने पुलिस से संपर्क किया.

उन्होंने बताया कि इस संबंध में विभिन्न कानूनों के तहत एक मामला दर्ज किया गया है. हालांकि बाद में विज्ञापन को वेबसाइट से हटा दिया गया. उस अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ आईपीसी की धारा 505 (किसी भी तरह की अफवाह फैलाना), 417 (धोखाधड़ी के लिए सजा), 469 (जालसाजी) और सूचना और प्रौद्योगिकी अधिनियम की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है. मामले को लेकर डिप्टी कलेक्टर नीलेश दुबे का कहना है कि ओएलएक्स कंपनी में बातकर इस विज्ञापन को हटवा दिया गया है. हालांकि इस बात की जांच की जा रही है कि इस तरह का विज्ञापन किसने वेबसाइट पर दिया था. (राजनीतिक-सामाजिक मुद्दों पर सटीक विशलेषण के लिए पढ़ें और फॉलो करें).

April 6th 2020, 2:10 pm

खुद चित्रगुप्त लिख रहे हैं 6 राशियों का भाग्य, चैत्र पूर्णिमा के बाद अचानक होंगे कर्जमुक्त

Samachar Jagat

सच्ची श्रद्धा और सच्चे मन से सबसे पहले ऊपर दिए गए पीले रंग के फॉलो बटन को दबाकर हमें फॉलो जरूर करें।

आने वाला समय आपके जीवन में सुनहरे पल लेकर आने वाला है, आर्थिक रूप से आप मजबूत रहेंगे, दाम्पत्य जीवन में आपसी विश्वास के सहारे संबंधों में मजबूती आएगी, अपने किसी पुराने मित्र से फ़ोन पर बात करेंगे, मेडिकल से जुड़े लोगों को कुछ नया सिखने को मिलेगा, आप अपनी वाणी पर संयम रखे, नहीं तो घर का माहौल तनावपूर्ण हो सकता है, लवमेटस के लिए दिन सामान्य रहने वाला है।

आपको कुछ अनुभवी लोगों से नए अनुभव मिलने के योग बन रहे हैं, आपकी बिगड़ी हुई किस्मत कभी भी चमक उठेगी, व्यापारी वर्ग के लोगों की योजनाएं सफल होंगी, संतान पक्ष से सुख की प्राप्ति हो सकती है, जीवन की परेशानियां कम होंगी, जीवन में कई बड़े चमत्कार देखने को मिलेंगे, आपकी कोई अधूरी इच्छा शीघ्र पूरी हो सकती है, आमदनी के अच्छे स्रोत हासिल होंगे, आपकी आर्थिक तंगी भी खत्म हो जाएगी।

कामकाज में अच्छे परिणाम आपको प्राप्त होंगे, आपका व्यक्तित्व खुशबू की तरह चारों तरफ महकेगा, आपको कोई बड़ी प्रसिद्धि मिल सकती है, परिवार में किसी जरूरी काम के पूरा हो जाने से मन प्रसन्न रहेगा, अविवाहित लोगों के लिए, उनका कोई रिश्तेदार फ़ोन करके विवाह का प्रस्ताव रखेगा, छात्र किसी काम को पूरा करने के लिये पिता की मदद लेंगे, जिससे उनका काम अच्छे से पूरा होगा।

हम जिन भाग्यशाली राशियों की बात कर रहे हैं वह कुंभ, मेष, तुला, मिथुन, सिंह और धनु राशि है, दोस्तों कमेंट बॉक्स में ''जय चित्रगुप्त'' लिखकर इस पोस्ट को लाइक और शेयर जरूर करें।

April 6th 2020, 2:10 pm

25 घंटे बाद इन 4 राशि वालों को मिलने वाली है बहुत बड़ी खुशखबरी, कहीं आपकी राशि तो नहीं

Samachar Jagat

सच्ची श्रद्धा और सच्चे मन से सबसे पहले ऊपर दिए गए पीले रंग के फॉलो बटन को दबाकर हमें फॉलो जरूर करें।

आपकी आर्थिक स्थिति अच्छी बनी रहेगी, अविवाहित लोगों को विवाह के प्रस्ताव आयेंगे, साथ ही आपके घर वाले भी इस पर विचार करेंगे, जिन छात्रों को करियर संबंधी किसी प्रकार की परेशानी आ रही है, उन्हें बड़े भाई या बड़ी बहन से मदद मिलेगी, बच्चों के साथ अच्छा समय बीतेगा, परिवार में ख़ुशी का माहौल बना रहेगा, लवमेटस के लिए समय सामान्य रहने वाला है।

पैसों के मामले में आपको अपने जीवनसाथी की जरूरत पड़ सकती है, पारिवारिक रिश्तें बेहतर बने रहेंगे, लवमेटस एक दुसरे की भावनाओं की कद्र करेंगे, आप जीवन में किसी तरह के बदलाव को लेकर सोच-विचार करेंगे, किसी खाने की चीज़ के प्रति आपकी रुचि अधिक बढ़ सकती है, आपको अपनी सेहत का थोड़ा ख्याल रखना चाहिए, माता-पिता आपके काम में हाथ बंटाने की पूरी कोशिश करेंगे, संतान पक्ष की प्रगति से आप मजबूत रहेंगे, माता-पिता के साथ बैठकर घरेलु कार्यो की रूप रेखा बनायेंगे।

वर्क फ्रॉम होम कर रहे लोगों के काम अच्छे ढंग से पूरा होगा, आपकी आर्थिक स्थिति अच्छी रहेगी, आपको घर की कुछ जिम्मेदारियां मिलेंगी, जिसे निभाने में आप सफल भी होंगे, कोई दोस्त आपसे आर्थिक सहायता मांग सकता है, बच्चों का मन पढ़ाई में लगेगा, कार्यों में जीवनसाथी का सहयोग प्राप्त होगा, यात्रा देशाटन सुखद एवं लाभप्रद साबित होगा।

इन 4 भाग्यशाली राशि का नाम कोई और नही बल्कि सिंह, तुला, धनु और कुंभ राशि है, 25 घंटे बाद इन राशि वालो को बहुत बड़ी खुशखबरी मिलेगी, साथ ही कमेंट बॉक्स में "जय शनिदेव" अवश्य लिखें, शनिदेव आपकी सारी मनोकामनाएं पूरी करेंगे।

April 6th 2020, 2:10 pm

रुड़की आईआईटी ने कोविड-19 के खतरों को देखते हुए वेंटिलेटर प्राण वायु किया विकसित

Samachar Jagat

कोरोना वायरस की दहशत के बीच एक अच्छी खबर आई है. खबर उत्तराखंड के रुड़की से आई है. आईआईटी रुड़की ने एक कम लागत वाला पोर्टेबल वेंटिलेटर विकसित किया है जो कोविड-19 रोगियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने में उपयोगी सिद्ध हो सकता है. 'प्राण-वायु' नाम के इस क्लोज्ड लूप वेंटिलेटर को एम्स, ऋषिकेश के सहयोग से विकसित किया गया है और यह अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस है. आईआईटी रुड़की इंजीनियरिंग, विज्ञान, प्रबंधन, वास्तुकला व योजना, मानविकी और सामाजिक विज्ञान में उच्च शिक्षा प्रदान करने वाला एक राष्ट्रीय संस्थान है. इसकी स्थापना 1847 में हुई. अपनी स्थापना के बाद से संस्थान ने तकनीकी मानव संसाधन और समृद्ध राष्ट्र निर्माण में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाई है. टाइम्स हायर एजुकेशन एशिया यूनिवर्सिटी रैंकिंग 2019 में संस्थान को आईआईटी संस्थानों में तीसरा व उद्धरण मापदंड के आधार पर भारत के सभी संस्थानों में पहला स्थान दिया गया है.

प्राण वायु वेंटिलेटर मरीज को आवश्यक मात्रा में हवा पहुंचाने के लिए प्राइम मूवर के नियंत्रित ऑपरेशन पर आधारित है. स्वचालित प्रक्रिया दबाव और प्रवाह की दर को सांस लेने और छोड़ने के अनुरूप नियंत्रित करती है. इसके अलावा वेंटिलेटर में ऐसी व्यवस्था है जो टाइडल वॉल्यूम और प्रति मिनट सांस को नियंत्रित कर सकती है. वेंटिलेटर सांस नली के विस्तृत प्रकार के अवरोधों में उपयोगी होगा और सभी उम्र के रोगियों, खास कर बुजुर्गों के लिए बहुत लाभदायक है. प्रोटोटाइप का परीक्षण सामान्य और सांस के विशिष्ट रोगियों के साथ सफलतापूर्वक किया गया है. इसके अतिरिक्त इसे काम करने के लिए कंप्रेस्ड हवा की जरूरत नहीं होती है.

यह खास तौर पर ऐसे मामलों में उपयोगी हो सकती है जब अस्पताल के किसी वार्ड या खुले क्षेत्र को आईसीयू में बदलने की जरूरत आजाती है. यह सुरक्षित और विश्वसनीय है क्योंकि इसमें रीयल-टाइम स्पायरोमेट्री और अलार्म लगा है. यह स्वचालित रूप से एक अलार्म सिस्टम के साथ उच्च दबाव को सीमित कर सकता है. विफलता की स्थिति में चोकिंग को रोकने के साथ ही सर्किट वातावरण में खुलता है. इसकी कुछ अतिरिक्त विशेषताएं स्वास्थ्य पेशेवरों के रिमोट मॉनिटरिंग, सभी ऑपरेटिंग मीटर का टच स्क्रीन से नियंत्रण, सांस लेने के लिए नमी और तापमान नियंत्रण हैं. प्रति वेंटिलेटर को बनाने में लागत करीब पच्चीस हजार रुपए आने का अनुमान है. 

शोध टीम में आईआईटी रुड़की के प्रो. अक्षय द्विवेदी और प्रो.अरुप कुमार दास के साथ एम्स ऋषिकेश से डॉ.देवेन्द्र त्रिपाठी ऑनलाइन सहयोग के साथ शामिल थे. उन्होंने कोविड-19 की इस संकटग्रस्त स्थिति में लोगों की मदद के लिए एक हफ्ते पहले ही अपनी टीम बनाई थी. वेंटिलेटर पर अनुसंधान और विकास से जुड़े कार्य लॉकडाउन की अवधि के दौरान शुरू हुए. इसकी वजह से आईआईटी रुड़की के टिंकरिंग प्रयोगशाला की सुविधाओं का उपयोग करते हुए ही माइक्रोप्रोसेसर-कंट्रोल्ड नॉन-रिटर्न वाल्व, सोलेनॉइड वाल्व, वन-वे वाल्व आदि जैसे कई भागों के विकास की आवश्यकता थी. 

अक्षय द्विवेदी के मुताबिक प्राण-वायु को विशेष रूप से कोविड-19 महामारी के लिए डिज़ाइन किया गया है. यह कम लागत वाली, सुरक्षित और विश्वसनीय मॉडल है, जिसका निर्माण तेजी से किया जा सकता है. हमने एक फेफड़े पर जांच कर वेंटिलेटर की आवश्यकता को इस यंत्र के द्वारा सफलतापूर्वक प्राप्त किया है. इसका उपयोग शिशुओं और यहां तक ​​कि अधिक वजन वाले वयस्कों दोनों के लिए किया जा सकता है. अक्षय द्विवेदी ने कहा कि हमारा वाणिज्यिक उत्पाद आसान पोर्टेबिलिटी सुनिश्चित करने के लिए 1.5 फीट×1.5 फुट के अनुमानित आयाम का होगा. संकट के इस समय में जब देश में वेंटिलेटर की कमी है और इसकी मांग जोर पकड़ रही है, प्राण वायु लोगों के प्राण को बचाने मे मदद देगा. (राजनीतिक-सामाजिक मुद्दों पर सटीक विशलेषण के लिए पढ़ें और फॉलो करें).

April 6th 2020, 2:10 pm

लॉकडाउन के 13वें दिन राजस्थान में मिले कोरोना वायरस के इतने नए मरीज, अब इन अस्पतालों में होगा इलाज

Samachar Jagat

जयपुर। राजस्थान में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों का आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है। आज प्रदेश में कोरोना वायरस के आठ नए मामले सामने आए हैं। लॉकडाउन के 13वें दिन सोमवार को झुंझुनूं से पांच, डूंगरपुर से दो और कोटा से एक मामला सामने आया है।

शिक्षकों के लिए आई ये अच्छी खबर, मिलेंगी ये सुविधाएं

इसके साथ ही प्रदेश में अभी तक कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 274 हो गई है। राजस्थान में रविवार को 60 नए मामले आए थे। इसमें से 39 मामले तो जयपुर के रामंगज इलाके के ही हैं। राजधानी जयपुर में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 94 हो गई है। हालांकि आज जयपुर में अभी तक एक भी नया मामला सामने नहीं आया है।

जयपुर के परकोटा क्षेत्र में कर्फ्यू अभी भी जारी है। यहां पर दूध-सब्जियों जैसी जरूरी सामान की सप्लाई पुलिस और प्रशासन की टीमों के माध्यम से की जा रही है।

अब कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्ति का इलाज क्षेत्र के सबसे बड़े अस्पताल में ही किया जाएगा। जबकि जिला स्तर के अस्पतालों में केवल संदिग्ध लोगों को ही रखने का निर्णय लिया गया है।

ईंधन के लिए लकड़ी बीनने गई महिला के साथ हुआ ऐसा, जानने के बाद कांप उठेगी रूह

इससे पहले खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग के शासन सचिव सिद्धार्थ महाजन कहा था कि ने राजस्थान में लॉकडाउन अवधि के दौरान लोगों को आवश्यक खाद्य वस्तुओं की नियमित रूप से आपूर्ति में किसी भी प्रकार की समस्या नहीं आने दी जाएगी। इस संबंध में महाजन ने आवश्यक खाद्य वस्तुओं की विभागीय अधिकारियों को समुचित व्यवस्था बनाए रखने के निर्देश दिए थे।

April 6th 2020, 7:21 am

भारत के किस प्रधानमंत्री को आर्थिक सुधारों का जनक कहा जाता है?

Samachar Jagat

सवाल 1: निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में राष्ट्रपति बनने वाले प्रथम व्यक्ति कौन है?
जवाब: वराहगिरी वेंटगिरी

इस भर्ती में साक्षात्कार के आधार पर होगा चयन, ये अभ्यर्थी कर सकते हैं आवदेन

सवाल 2: भारत के प्रथम दलित राष्ट्रपति कौन हैं?
जवाब: केआर नारायणन

सवाल 3: देश के प्रथम वैज्ञानिक राष्ट्रपति कौन हैं?
जवाब: एपीजे अब्दुल कलाम

पुलिस विभाग में निकली भर्ती, साक्षात्कार के आधार पर होगा चयन

सवाल 4: भारत की प्रथम महिला राष्ट्रपति कौन बनी थी?
जवाब: प्रतिभा पाटिल

सवाल 5: भारत के किस प्रधानमंत्री को आर्थिक सुधारों का जनक कहा जाता है?
जवाब: मनमोहन सिंह

April 6th 2020, 6:51 am

स्कूल-कॉलेज खोलने के सवाल का केन्द्रीय मंत्री ने दिया ये जवाब

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। कोरोना वायरस केकारण घोषित लॉकडाउन के कारण जनजीवन थम गया है। अब लोग बस लॉकडाउन हटने का इंतजार कर रहे हैं। पीएम मोदी ने 14 अप्रैल तक के लिए देश में लॉकडाउन की घोषणा की थी, अब यह दिन नजदीक आने वाला है।

हालांकि जिस प्रकार से देश में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है उसे देखते हुए लोगों के मन में ये डर भी है कि कहीं लॉकडाउन की अवधि बढ़ा तो नहीं दी जाएगी। अब विद्यार्थियों और उनके परिजनों द्वारा सवाल पूछे जा रहे हैं कि स्कूल-कॉलेज कब से खुलेंगे? लोग उम्मीद भी कर रहे हैं कि शायद लॉकडाउन हटने के तुरंत बाद स्कूल-कॉलेज खोल दिए जाएंगे।

इस संबंध में केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने जवाब दिया है। रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा कि इस समय विद्यार्थी और अध्यापक की सुरक्षा सरकार के लिए सबसे अहम बात है।

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा कि कोरोना वायरस के कारण पैदा हुई इस स्थित में अभी ये निर्णय ले पाना मुश्किल है कि लॉकडाउन के तुरंत बाद स्कूल-कॉलेज खोले जाएंगे या नहीं।उन्होंने बताया कि केन्द्र सरकार द्वारा 14 अप्रैल को हालात की समीक्षा करने के बाद ही उस पर फैसला लिया जा सकता है।

April 6th 2020, 6:36 am

एयरटेल अपने उपभोक्ताओं को केवल 100 रुपए में ही दे रही है इतना डेटा

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण देश में 21 दिनों का लॉकडाउन जारी है। इस लॉकडाउन के कारण ही लोग वर्क फ्रॉम होम करने को मजबूर हुए हैं। इसी को देखते हुए कई मोबाइल कंपनियां अपने उपभोक्ताओं को लुभावने ऑफर दे रही हैं।

केन्द्र सरकार का बड़ा फैसला, अब तीन महीने तक नहीं लगेगा ये चार्ज

अब इसी को देखते हुए एयरटेल ने अपने उपभोक्तओं के लिए सस्ता एड-ऑन डेटा प्लान पेश किया है।
एयरटेल के पास पोस्टपेड उपभोक्ताओं के लिए अभी दो एड-ऑन पैक्स उपलब्ध है। इसके तहत 100 रुपए वाले एड-ऑन डेटा पैक के साथ उपभोक्ताओं को 15जीबी डेटा दिया जा रहा है। वहीं एयरटेल के दो सौ रुपए वाले पैक के साथ उपभोक्तओं को 35जीबी डेटा दिया जाता है।

खुशखबरी: भारत में तैयार हुई कोरोना वायरस की वैक्सीन, अमेरिका में ट्रायल के लिए भेजा

इन पोस्टपेड एड-ऑन पैक्स को इसी साल जनवरी में पेश किया गया था, लेकिन कोरोना वायरस के कारण घोषित 21 दिनों के लॉकडाउन के दौरान एयरटेल अपने 15 जीबी एड-ऑन पैक को work from home with ease टैग के अंतर्गत प्रमोट कर रही है।

अब इच्छुक उपभोक्ताओं के पास एयरटेल थैंक्स ऐप में मैनेज सर्विस में जाकर डेटा पैक्स को सब्सक्राइब करने का मौका है।गौरतलब है कि लॉकडाउन के लिए कई मोबाइल कंपनियां उपभोक्ताओं के लिए नए पैक उपलब्ध करवा रही है।

April 6th 2020, 6:06 am

इस भर्ती में साक्षात्कार के आधार पर होगा चयन, ये अभ्यर्थी कर सकते हैं आवदेन

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क।किसी भी विभाग में सरकारी नौकरी करने का सामना देख रहे बेरोजगार अभ्यर्थियों के अच्छी खबर आई है।सोसायटी फॉर एप्लाइड माइक्रोवेव इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग रिसर्चने30 वैज्ञानिक -B और वैज्ञानिक-Cपदों के लिएभर्ती निकालकर उन्हें अपना सपना पूरा करने का मौका दिया है।

पुलिस विभाग में निकली भर्ती, साक्षात्कार के आधार पर होगा चयन

शैक्षिक योग्यता: इस भर्ती के लिए अभ्यर्थी ग्रेजुएशन/ पोस्ट ग्रेजुएशन पास होना आवश्यक है। प्रकाशित नोटिफिकेशन से शैक्षिक योग्यता की पूरी जानकारी प्राप्त की जा सकती है।
पदों की संख्या: 30 पद

पदों का नाम: वैज्ञानिक-B और वैज्ञानिक-C
आयु सीमा: अभ्यर्थी कीआयु 40 वर्षके अंदर होनी चाहिए।आयुमें छूट एवं अन्य जानकारियों के लिए प्रकाशित नोटिफिकेशन देखें।

आवेदन करने के लिए अंतिम तिथि:30-04-2020

बड़ा दावा: इस दवाई से केवल 48 घंटे में समाप्त किया जा सकता कोरोना वायरस!

इस प्रकार मिलेगी नौकरी: इस भर्ती के लिए अभ्यर्थी का चयन साक्षात्कारके आधार पर किया जाएगा।
वेतनमान:56,100 - 2,08,700/-

इस प्रकार करें आवदेन:सोसायटी फॉर एप्लाइड माइक्रोवेव इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग रिसर्चके प्रकाशित नोटिफिकेशनसे पूरी जानकारी प्राप्त कर इस भर्ती के लिए आसानी से आवदेन किया जा सकता है।

April 6th 2020, 5:21 am

ईंधन के लिए लकड़ी बीनने गई महिला के साथ हुआ ऐसा, जानने के बाद कांप उठेगी रूह

Samachar Jagat

क्राइम डेस्क। उत्तर प्रदेश के यूपी में हरदोई जिले से मानवता को शर्मसार करने वाला मामला प्रकाश में आया है। जिले के एक गांव में ईंधन के लिए लकड़ी बीनने गई 40 वर्षीय महिला के साथ दुष्कर्म किए जाने के बाद उसकी हत्या करने का मामला प्रकाश में आया है।

शिक्षकों के लिए आई ये अच्छी खबर, मिलेंगी ये सुविधाएं

मामले के अनुसार, शनिवार को जिले के एक गांव में 40 वर्षीय महिला दिन में ईंधन के लिए लकड़ी बीनने गई थी। लेट तक महिला के वापस नहीं लौटने पर परिवार के लोगों ने उसकी तलाश की। इसके बाद रविवार सुबह गांव से लगभग डेढ़ किमी दूर एक खेत में महिला का शव अर्धनग्न अवस्था में पाया गया।

मौसम विभाग की चेतावनी, राजस्थान के इन जिलों में हो सकती है बारिश

इसके बाद क्षेत्र में हडक़ंप मच गया। बाद की ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर अपनी कार्रवाई शुरू की। पुलिस को प्रथम दृष्टया मामला दुष्कर्म के बाद हत्या किए जाने का लग प्रतीत हो रहा है। इस घटना के बाद से मृतक महिला का परिवार सकते में आ गया है।

April 6th 2020, 5:06 am

जन्मदिन विशेष: गावस्कर, सचिन और द्रविड़ भी नहीं तोड़ सके दिलीप वेंगसरकर का ये रिकॉर्ड

Samachar Jagat

खेल डेस्क। भारत के पूर्व महान खिलाड़ी दिलीप वेंगसरकर ने अपने नाम ऐसी उपलब्धि दर्ज करवाई थी जिसे सुनील गावस्कर, सचिन तेंदुलकर और राहुल द्रविड़ जैसे दिग्गज खिलाड़ी भी हासिल नहीं कर पाए थे।

सचिन तेंदुलकर ने नौ साल बाद किया ये बड़ा खुलासा

आज अपना जन्मदिन मना रहे दिलीप वेंगसरकर ने क्रिकेट के मक्का कहे जाने वाले लॉड्र्स के मैदान पर लगातार तीन शतक लगाने की उपलब्धि अपने नाम दर्ज करवाई थी। वह ये उपलब्धि हासिल करने वाले पहले गैर अंग्रेज बल्लेबाज बने थे।

दिलीप वेंगसरकर का जन्म आज ही दिन यानी 6 अप्रैल 1956 को महाराष्ट्र के राजापुर में हुआ था। वेंगसरकर ने 70वें के आखिर और 80वें दशक की शुरुआत में अपने खेल से विश्व क्रिकेट में विशेष पहचान बनाई थी। इस भारतीय बल्लेबाज ने लॉड्र्स के मैदान पर चार टेस्ट मैचों में 72.57 की औसत से 508 रन बनाए।

टीम इंडिया के इस शादीशुदा खिलाड़ी को बेहद पसंद करती है यह 27 वर्षीय फिल्म अभिनेत्री, देखें

उन्होंने साल 1979 में इस मैदान पर 0 और 103, साल 1982 में 2 और 157 और साल 1986 में नाबाद 126 और 33 रन की शानदार पारियां खेल अपने नाम उपलब्धियां दर्ज करवाई थी।

April 6th 2020, 4:47 am

शिक्षकों के लिए आई ये अच्छी खबर, मिलेंगी ये सुविधाएं

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। कोरोना वायरस की जंग में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे राजस्थान के शिक्षकों के लिए अच्छी खबर आई है। अब इस महामारी के बीच प्रवासी कामगारों का पलायान रोकनेवाले शिक्षकों को प्रशासन की ओर से मास्क, सेनेटाइजर सहित अन्य संसाधन उपलब्ध करवाए जाएंगे।

अब मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने दे दिए ये निर्देश

शिक्षा राज्य मंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा के ट्वीट के बाद विभाग ने प्रदेश के सभी जिलों के कलक्टर व सीएमएचओ को स्कूलों में तैनात शिक्षक व अन्य कार्मिकों को मास्क, सेनेटाइजर सहित अन्य संसाधन उपलब्ध कराने के आदेश जारी किए हैं।

कई जिलों में शिक्षकों के पास संसाधन नहीं होने की जानकारी सामने आने के बाद शिक्षा राज्य मंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा ने ट्वीट किया था।

कोरोना का नया हॉटस्पॉट बना जयपुर, एक ही दिन में मिल गए इतने मरीज

डोटासरा ने अपने ट्वीट में लिखा था कि कोरोना संक्रमण के रोकथाम में कार्यरत सभी शिक्षकगणों की ड्यूटी लगाने के समय प्रशासन से सुरक्षा के प्रबंध करने की अपील की गई थी, लेकिन काफी जगहों से शिकायत मिलने पर आज सभी जिला कलेक्टर्स को ड्यूटी पर तैनात शिक्षकों के लिए मास्क व सेनेटाईजर की सुनिश्चिता हेतु आधिकारिक पत्र।गौरतलब है प्रदेश में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या लगातार बढ़ती ही जा रही है।

April 6th 2020, 4:36 am

मौसम विभाग की चेतावनी, राजस्थान के इन जिलों में हो सकती है बारिश

Samachar Jagat

जयपुर। मौसम में लगातार आ रहे बदलाव के कारण इस बार अभी तक राजस्थान में गर्मी का असर पूरी तरह दिखाई नहीं दिया है। पिछले कुछ दिनों से ही गर्मी का थोड़ा सा अवसर देखने को मिल रहा था, लेकिन अब मौसम में बदलाव आने से प्रदेश के गर्मी के प्रभाव पर फिर से ब्रेक लगने की संभावना दिखाई दे रही है।

अब मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने दे दिए ये निर्देश

मौसम विभाग ने अगले 48 घंटे के लिए यलो अलर्ट जारी किया है। विभाग के अनुसार राजस्थान में राजधानी जयपुर सहित 15 से अधिक जिलों में 30 से 40 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से आंधी चलने और कुछ इलाकों में मेघगर्जन के साथ हल्की बौछारें हो सकती है।इस दौरान मौसम में संभावित बदलाव के चलते दिन और रात के तापमान में गिरावट आ सकती है।

कोरोना का नया हॉटस्पॉट बना जयपुर, एक ही दिन में मिल गए इतने मरीज

मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक, उत्तर पूर्वी पाकिस्तान से लेकर हिमालय तराई क्षेत्र में पश्चिमी विक्षोभ का असर बनने के कारण अगले 48 घंटे में राजस्थान के जयपुर, दौसा, करौली, अलवर, भरतपुर, श्रीगंगानगर, बीकानेर, चूरू, झुंझुनूं, सीकर, नागौर और धौलपुर में कहीं कहीं तेज गति से अंधड़ चलने और कुछ इलाको में हल्की बारिश के साथ ओलावृष्टि होने की संभावना है।

April 6th 2020, 3:47 am

अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद बढ़ीं बॉलीवुड सिंगर कनिका कपूर की मुश्किलें

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। बॉलीवुड सिंगर कनिका कपूर के स्वास्थ्य को लेकर अच्छी खबर आ रही है। कोरोना वायरस का इलाज करवा रही इस बॉलीवुड अभिनेत्री की छठी रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद उसे अस्पताल से छुट्टी दे गई है।

कनिका कपूर की चौथी रिपोर्ट में आया ये परिणाम, बॉलीवुड सिंगर ने कही ये बात

हालांकि अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद भी कनिका कपूर की परेशानियां कम नहीं हुई है। अब उन्हें 14 दिनों का क्वारेंटाइन खत्म होने के बाद पुलिस जांच का सामना करना पड़ेगा।

लखनऊ के पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडे ने इस साक्षात्कार में इस प्रकार की जानकारी दी है। उन्होंने बताया कि 14 दिनों का क्वारेंटाइन समाप्त होने के बाद कनिका कपूर से लखनऊ पुलिस द्वारा पूछताछ की जाएगी।

कोराना वायरस: फिल्म और खेल से जुड़ी दिग्गज हस्तियों ने दिया दान, इन्होंने दिया सबसे ज्यादा

उन्होंने बताया कि बॉलीवुड सिंगर कनिका कपूर के खिलाफ लखनऊ के थाना सरोजिनी नगर में आईपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज हैं। इसी संबंध में पुलिस द्वारा उनसे पूछताछ की जाएगी।

गौरतलब है कि 20 मार्च को खुद के कोरोना पॉजिटिव होने की जानकारी देने के बाद ये बॉलीवुड सिंगर अचानक ही सुर्खियों में आ गई थी। इसके बाद कनिका कपूर पर खुद के कोरोना वायरस से संक्रमित होने और लापरवाही बरतने के आरोप लगे थे।

April 6th 2020, 3:17 am

खुशखबरी: भारत में तैयार हुई कोरोना वायरस की वैक्सीन, अमेरिका में ट्रायल के लिए भेजा

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। दुनिया इस समय कोरोना वायरस की महामारी से जूझ रही है। अब तक दुनिया भर के 12 लाख से अधिक लोग इस संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं।

कोरोना वायरस के खतरेः सतर्कता बरतने में चूक कर दी नीतीश सरकार ने

दुनिया भर के वैज्ञानिक इस खतरनाक वायरस की वैक्सीन तैयार करने में लगे हुए हैं। इसी बीच देश से इस वायरस को लेकर अच्छी खबर आ रही है। खबरों के अनुसार, हैदराबाद की टीका कंपनी भारत बायोटेक ने चीन से दुनिया में फैले इस खतरनाक वायरस को मात देने वाली वैक्सीन बना ली है।

बताया जा रहा है कि अब इस वैक्सीन को एनिमल ट्रायल के लिए अमेरिका भेज दिया गया है। अब इस वैक्सीन के सकारात्मक परिणाम आए तो इसका उपयोग इंसानों पर किया जाएगा।बताया जा रहा है कि तीन से छह महीने तक इस वैक्सीन पर ट्रायल किया जाएगा। वैज्ञानिकों ने दावा किया कि इस साल के आखिरी तक यह वैक्सीन उपयोग के लिए उपलब्ध हो जाएगी।

महाराष्ट्र के मंत्रियों ने कहा मोदी ने कोरोना वायरस को भी इवेंट बना डाला

खबरों के अनुसार, नोजल ड्रॉप के रूप में तैयार की गई इस वैक्सीन की एक बूंद नाक में डाली जाएगी। कोरोफ्लू नाम का यह टीका कोरोना वायरस के साथ ही फ्लू का भी इलाज करने में भी मददगार साबित होगा।

April 6th 2020, 3:05 am

बड़ा दावा: इस दवाई से केवल 48 घंटे में समाप्त किया जा सकता कोरोना वायरस!

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। कोरोना वायरस इस समय दुनिया में हाहाकार मचा रहा है। अभी तक कोई भी देश में इस खतरनाक वायरस की वैक्सिन तैयार नहीं कर सका है। इसी बीच ऑस्ट्रेलिया से इस वायरस को समाप्त करने को लेकर बड़ा दावा सामने आया है।

चीन का दावा: इतने समय में आएगी कोरोना वायरस के नए मामलों में कमी

इस देश में सिर की जूं मारने की दवा से कोरोना वायरस को केवल 48 घंटेमें ही समाप्त किए जाने का दावा किया गया है। एक रिपोर्ट में मोनाश बायोमेडिसिन डिस्कवरी इंस्टिट्यूट के डॉ. कायली वागस्टाफ ने इस प्रकार का दावा किया है।

डॉ. कायली वागस्टाफ ने बताया कि जूं मारने के लिए इवरमेक्टिन नामक दवा काम में ली जाती है। उन्होंने दावा किया इस दवा की एक डोज ही कोरोना वायरस को खत्म कर देती है।

इस देश के राष्ट्रपति ने लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों को गोली मारने के आदेश दिए

डॉ. कायली वागस्टाफ के अनुसार, इवरमेक्टिन नामक दवा लेने के 24 घंटे बाद वायरस का असर समाप्त होने लगता है और 48 घंटे में यह पूरी तरह खत्म हो जाता है। यह अध्ययन एंटीवायरल रिसर्च पत्रिका में प्रकाशित हुआ है।

इस वायरस के कारण अभी तक दुनियाभर में 65 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 12 लाख से अधिक लोग संक्रमित हो चुके हैं।

April 6th 2020, 1:35 am
Get it on Google Play تحميل تطبيق نبأ للآندرويد مجانا