Get it on Google Play تحميل تطبيق نبأ للآندرويد مجانا اقرأ على الموقع الرسمي

डीए मामले में मुलायम, अखिलेश के खिलाफ साक्ष्य नहीं : सीबीआई

Samachar Jagat

नई दिल्ली। केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने उच्चतम न्यायालय को मंगलवार को अवगत कराया कि आय के ज्ञात स्रोतों से अधिक सम्पत्ति अर्जित करने के मामले में उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री- मुलायम सिंह यादव और अखिलेश यादव-के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज करने का कोई साक्ष्य नहीं मिला है।

सीबीआई ने वकील विश्वनाथ चतुर्वेदी की याचिका पर उच्चतम न्यायालय के आदेश पर 2007 में प्रारम्भिक जांच (पीई) के लिए मामला दर्ज किया था। न्यायालय ने अखिलेश यादव की पत्नी डिम्पल यादव के खिलाफ जांच का निर्देश दिया था, लेकिन बाद में एक पुनर्विचार याचिका स्वीकार करते हुए उसने डिम्पल के खिलाफ जांच बंद करने का आदेश दिया था।

अपने हलफनामे में सीबीआई ने न्यायालय को सूचित किया कि उसने दोनों पिता-पुत्र की सम्पत्ति की जांच की थी और उसे उनके खिलाफ कोई साक्ष्य नहीं मिला था। इसके बाद 2013 में पीई बंद कर दी गई थी। जांच एजेंसी ने कहा कि मुलायम और अखिलेश यादव के खिलाफ नियमित मामला दर्ज करने के लिए कोई साक्ष्य नहीं मिले हैं। सीबीआई ने कहा है कि इस बारे में केंद्रीय सतर्कता आयोग को भी सूचित किया गया था। सीबीआई की ओर से यह हलफनामा इस मामले में जांच की स्थिति रिपोर्ट पेश करने के न्यायालय के 25 मार्च के आदेश के मद्देनजर दर्ज किया गया है।

May 21st 2019, 6:46 am
اقرأ على الموقع الرسمي

0 comments
Write a comment
Get it on Google Play تحميل تطبيق نبأ للآندرويد مجانا