Get it on Google Play تحميل تطبيق نبأ للآندرويد مجانا اقرأ على الموقع الرسمي

किसी भी टीम में धोनी से बेहतर विकेटकीपर कोई नहीं, विश्वकप में होगी बेहद अहम और बड़ी भूमिका : शास्त्री

Samachar Jagat

मुंबई। भारतीय कोच रवि शास्त्री ने कहा है कि 2011 विश्वकप विजेता टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की 30 मई से इंग्लैंड में शुरू हो रहे विश्वकप में बेहद अहम और बड़ी भूमिका होगी। शास्त्री ने भारतीय टीम के इंग्लैंड रवाना होने की पूर्व संध्या पर यहां मंगलवार को कप्तान विराट कोहली के साथ संवाददाता सम्मेलन में कहा, धोनी के टीम में होने से न सिर्फ गेंदबाजों और अन्य खिलाड़ियों को मदद मिलती है बल्कि मौजूदा कप्तान विराट कोहली के साथ योजनाएं बनाने में भी वह बेहद अहम भूमिका निभाते हैं।

इंग्लैंड के सबसे खतरनाक खिलाड़ी हैं बटलर : पोंटिंग

तेज तर्रार स्टंपिग और फिनिशर पारी के लिए मशहूर धोनी विश्वकप 2019 में हमारे लिए सबसे महत्वपूर्ण होंगे। कोच ने कहा कि धोनी और विराट के बीच शानदार तालमेल है। उन्होंने कहा, धोनी का टीम में बेहद बड़ा किरदार है। विराट और उनका तालमेल लाजवाब है। विकेटकीपर के तौर पर किसी भी टीम में उनसे बेहतर विकेटकीपर कोई नहीं है। धोनी का यह चौथा और आखिरी विश्वकप होगा। दिग्गज खिलाड़ी धोनी टूर्नामेंट में एकमात्र ऐसे खिलाड़ी के रूप में उतरेंगे जिन्होंने 300 से अधिक मैच खेले हैं। धोनी अब तक भारत की ओर से 338 वनडे मैच खेल चुके हैं जिसमें उन्होंने 50 के औसत से 10,500 रन बनाए हैं।

विश्व कप में गेंदबाजी का कमाल दिखाना चाहते हैं मैक्सवेल

उल्लेखनीय है कि हाल ही में हुए इंडियन प्रीमियर लीग के 12वें संस्करण में उन्होंने शानदार प्रदर्शन किया है और प्रशंसकों को उम्मीद है कि वह अपनी इस शानदार फॉर्म को विश्वकप में भी दोहराएंगे। धोनी की कप्तानी में भारतीय टीम ने 2007 में टी-20 विश्वकप, 2011 एकदिवसीय विश्वकप और 2013 में हुई चैंपियंस ट्रॉफी अपने नाम की थी। शास्त्री के अलावा क्रिकेट जगत के कई खिलाड़ियों ने धोनी की विश्व कप में भूमिका को बेहद अहम बताया हैं। विश्व कप 30 मई से इंग्लैंड और वेल्स में शुरू होगा। -एजेंसी

अब तक की सबसे उम्रदराज टीम उतारी है भारत ने, अनुभव में भी है अव्वल

May 22nd 2019, 5:32 am
اقرأ على الموقع الرسمي

0 comments
Write a comment
Get it on Google Play تحميل تطبيق نبأ للآندرويد مجانا