Get it on Google Play تحميل تطبيق نبأ للآندرويد مجانا اقرأ على الموقع الرسمي

Kolkata : ''दिसंबर, 1965 में शास्त्रीजी ने नेताजी की प्रतिमा का अनावरण किया था, तब से लेकर कोई भी PM

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। आज यानि शनिवार को देश ही नहीं दुनियाभर में आजाद हिंद फौज के नेतृत्वकर्ता नेताजी सुभाष चंद बोस की 125वीं जयंती मनाई जा रही है। पश्चिम बंगाल में आज का दिन एक त्यौहार की तरह सेलिब्रेट किया जा रहा है। ममता बनर्जी ने जहां आज कोलकाता में मार्च पास्ट किया वहीं नेताजी के पड़पोते सी.के. बोस ने पीएम से एक आग्रह किया। सीके बोस ने एएनआई से बातचीत करते हुए कहा कि नेताजी की 125वीं जयंती को पराक्रम दिवस के रूप में मनाने का निर्णय केंद्र सरकार का एक बेहतर कदम है।

Lal Bahadur Shastri had unveiled the statue of Netaji at Red Road in Kolkata in December 1965 as PM. Since then, no other PM visited the state on January 23. So, we requested PM Modi to visit Kolkata on this day & we'll celebrate Netaji's birthday together: CK Bose https://t.co/k6EpJFp5h0

— ANI (@ANI) January 23, 2021

भारत को स्वतंत्रता दिलाने में यूं तो कई लोगों ने अपने प्राणों की आहूति दी लेकिन स्वतंत्रता के लिए अंतिम लड़ाई आजाद हिंद फौज के द्वारा ही लड़ी गई थी।

उन्होंने नेताजी से जुड़ी हुई एक बात और मीडिया को बताई। उन्होंने कहा कि 1965 में जब लाल बहादुर शास्त्री देश के प्रधानमंत्री थे तब दिसंबर, 1965 में उन्होंने एक कार्यक्रम में कोलकाता के रेड रोड पर नेताजी की प्रतिमा का अनावरण किया था।

तब से लेकर अब तक 23 जनवरी वाले दिन देश का कोई भी प्रधानमंत्री कोलकाता नहीं आया। इसलिये उन्होंने पीएम मोदी से 23 जनवरी को कोलकाता आने का आग्रह किया और कहा कि हम साथ में नेताजी की जयंती मनाएंगे।

January 23rd 2021, 4:35 am
اقرأ على الموقع الرسمي

0 comments
Write a comment
Get it on Google Play تحميل تطبيق نبأ للآندرويد مجانا