Get it on Google Play تحميل تطبيق نبأ للآندرويد مجانا اقرأ على الموقع الرسمي

J&K : जम्मू-कश्मीर में इस 150 मीटर लंबी और इतने फीट गहरी सुरंग के ज़रिये हिंदुस्तान में आतंकवादी भे

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) ने आज शनिवार को जम्मू-कश्मीर में एक और अंडर ग्राउंड सुरंग का पता लगाया है। चला है। सुरंग 150 मीटर लंबी है। सेना के विशेषज्ञों ने दावा किया कि इस सुरंग का इस्तेमाल पाकिस्तान भारत में आतंकवादियों को भेजने के लिए करता था।

BSF detects another tunnel in the area of Pansar, Jammu today. The tunnel is approx 150 meters long and 30 feet deep. It is pertinent to mention here that BSF had shot down a Pakistani Hexacopter carrying load of weapons & ammunition in June 2020 in the same area: BSF https://t.co/0JA2WK1JTm pic.twitter.com/3PTBb46iI4

— ANI (@ANI) January 23, 2021

बीएसएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि यह जवानों द्वारा पिछले दस दिनों में जम्मू-कश्मीर में ढूंढी गई दूसरी सुरंग है। इससे पहले, पिछले साल भी एक सुरंग का पता चला था जिसे बंद कर दिया था। कठुआ जिले के पनसार में बीएसएफ की चौकी के पास बॉर्डर पोस्ट नंबर 14 और 15 के बीच मौजूद ये सुरंग 30 फीट गहरी है। फैंसिंग के दूसरी ओर शकरगढ़ जिले में अभियाल डोगरा और किंगरे-डी-कोठे पाकिस्तानी सीमा चौकी मौजूद है।

पाकिस्तान का शकरगढ़, जोकि बाड़ के पार का इलाका है, जैश-ए-मोहम्मद के ऑपरेशनल कमांडर कासिम जान की देखरेख में चलने वाले आतंकी ट्रेनिंग फैसिलिटी की जगह है। भारतीय खुफिया विभाग का मानना है कि जान जम्मू में 19 नवंबर को हुए नगरोटा एनकाउंटर में शामिल था और साल 2016 के पठानकोट एयरबेस पर हुए हमले का मुख्य आरोपी भी है।

जान भारत में जैश के आतंकवादियों के मुख्य कमांडरों में से एक है। बीएसएफ ने बताया कि यह काफी बड़ी है, क्योंकि यह सुरंग कम-से-कम 8 से 8 साल पुरानी लगती है और इसे लंबे समय से घुसपैठ के लिए इस्तेमाल किया जाता रहा होगा।

January 23rd 2021, 4:50 am
اقرأ على الموقع الرسمي

0 comments
Write a comment
Get it on Google Play تحميل تطبيق نبأ للآندرويد مجانا