Get it on Google Play تحميل تطبيق نبأ للآندرويد مجانا اقرأ على الموقع الرسمي

मेरीकोम ने जीता पहला मुकाबला, पदक पक्का किया

Samachar Jagat

गुवाहाटी। छह बार की विश्व चैम्पियन एमसी मेरीकोम ने 51 किग्रा भारवर्ग में सफलतापूर्वक वापसी करते हुए दूसरे इंडिया ओपन में मंगलवार को यहां नेपाल की माला राय को हराकर सेमीफाइनल में पहुंचने के साथ पदक भी पक्का कर लिया। लंदन ओलंपिक में कांस्य पदक जीतने वाली इस मुक्केबाज के अलावा दूसरे भारतीय खिलाडिय़ों ने दमदार प्रदर्शन किये।

यहां के कर्मबीर नबीन चंद्र बोरदोलोई इंडोर स्टेडियम के रिंग में पहुंचते ही दर्शकों ने इस स्टार खिलाड़ी का शोर मचाकर स्वागत किया। उन्होंने माला राय को बिना को मौका दिये 5-0 की करारी शिकस्त दी। ;मैग्निफिसेंट मेरीकोम का प्रभुत्व ऐसा था कि हार के बाद भी नेपाल की खिलाड़ी मुस्कुराते हुए उनसे गले मिल रहीं थी।

पूर्व विश्व चैंपियन सरिता देवी ने 60 किग्रा में प्रीति बेनीवाल पर 5-0 से आसान जीत दर्ज करके सेमीफाइनल में जगह बनायी और अपने लिये पदक पक्का किया। स्थानीय खिलाड़ी अंकुशिता बोरो ने भी 64 किग्रा के सेमीफाइनल में पहुंचकर पदक पक्का कर लिया है। उन्होंने ललिता को 4-1 से पराजित किया।
सेमीफाइनल में मेरीकोम का सामना एशियाई चैम्पियनशिप की कंास्य पदक विजेता निकहत जरीन से होगा।

स्ट्रांदजा कप की स्वर्ण पदक विजेता निकहत ने अनामिका को 5-0 से परास्त किया। निकहत सेमीफाइनल में अपने आयडल से दक्षिण एशियाई खेलों के सेमीफाइनल में मिले हार का बदला लेना चाहेंगी। स्ट्रांदजा कप की रजत पदक विजेता मंजू रानी (48 किग्रा) ने फिलिपींस की क्लीयो क्लावेरस तेसारा के खिलाफ शुरूआत से ही हमलावर रूख अख्तियार किया जिस कारण उन्हें पहले दौर में ही आरएससी (रेफरी ने खेल रोक दिया) से विजेता घोषित कर दिया गया। वह इस जीत के साथ सेमीफाइनल में पहुंच गयी।

मोनिका ने भी दमदार खेल दिखाती हुए थाईलैंड की अपापोर्न इंतोंगसी को 5-0 से शिकस्त दी। कलावानी को भूटान की टंडिन ल्हामो के खिलाफ दूसरे दौर में आरएससी से विजेता घोषित किया गया था जबकि नीतू को हार का समाना करना पड़ा। उन्हें फिलीपींस की पूर्व विश्व चैम्पियन जोसी गेबुको ने 5-0 हराया।

इससे पहले हरियाणा के युवा मुक्केबाज पवन नारवाल ने 69 किग्रा में युवा ओलंपिक के स्वर्ण पदक विजेता ब्रायन अरेगुइ आगस्टिन को हराकर पुरूष वर्ग में चार अन्य भारतीय मुक्केबाजों के साथ क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया।

अर्जेंटीनी मुक्केबाज ने पहले राउंड में दबदबा बनाया लेकिन 21 वर्षीय भारतीय ने अच्छी वापसी की और खंडित फैसले में 4-1 से जीत दर्ज की।नारवाल का अगला मुकाबला मारीशस के क्लेयर मार्वन से होगा। उन्होंने कहा, हम महासंघ के निलंबन के कारण चार साल तक जूनियर राष्ट्रीय चैंपियनशिप में भाग नहीं ले पाये और पिछले साल हमने सीनियर स्तर पर सीधे प्रवेश किया था।

पुरूषों के 69 किग्रा में ही दिनेश डागर ने फिलीपीन्स के मर्जोन अंगकोन पियानार को 3-2 से हराकर क्वार्टर फाइनल में जगह बनायी। युवा ओलंपिक चैंपियनशिप के कांस्य पदक विजेता अंकित खटाना (60 किग्रा) ने फिलीपीन्स के रियान इंपोक मोरेनो को हराया। उन्हें अब नेपाल के प्रकाश लिम्बू इजाम का सामना करना होगा। आशीष (64 किग्रा) और मंजीत पंघाल (75 किग्रा) भी अपने वर्गों में क्वार्टर फाइनल में पहुंचने में सफल रहे। एजेंसी

May 21st 2019, 11:26 pm
اقرأ على الموقع الرسمي

0 comments
Write a comment
Get it on Google Play تحميل تطبيق نبأ للآندرويد مجانا