Get it on Google Play تحميل تطبيق نبأ للآندرويد مجانا اقرأ على الموقع الرسمي

West Bangal : नेताजी की 125वीं जयंती पर फूटे विरोध के स्वर, ममता बनर्जी ने बीजेपी सरकार पर बरसते हुए

Samachar Jagat

इंटरनेट डेस्क। विधानसभा चुनाव नजदीक हैं। ऐसे में पश्चिम बंगाल इन चुनावों में बड़ा राजनीतिक केंद्र बनकर उभर रहा है। राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आज शनिवार को कोलकाता में नेताजी सुभाष चंद बोस की 125वीं जयंती पर आयोजित कार्यक्रम में देश की नई राजधानी का मुद्दा उठा दिया। उन्होंने कहा कि देश की राजधानी सिर्फ दिल्ली ही क्यों है। चार कोने में कुल चार राजधानी होनी चाहिए।

I believe that India must have 4 rotating capitals. The English ruled the entire country from Kolkata. Why should there be only one capital city in our country: West Bengal CM Mamata Banerjee pic.twitter.com/ifOoFXah9g

— ANI (@ANI) January 23, 2021

बनर्जी ने अपने सांसदों को यह मुद्दा संसद में उठाने का भी निर्देश दिया। वहीं, उन्होंने कहा कि दिल्ली में ज्यादातर लोग बाहर के रहने वाले हैं। कोलकाता में एक रैली को संबोधित करते हुए दीदी ने कहा कि एक समय कोलकाता देश की राजधानी थी। तो आखिर में एक बार फिर से शहर को भारत की दूसरी राजधानी के रूप में घोषित नहीं किया जाता है? कोलकाता को देश की दूसरी राजधानी बनानी ही होगी। संसद का सत्र सभी राजधानी में आयोजित किया जाए।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ने यह बयान उस समय दिया है, जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नेताजी की जयंती को मनाने के लिए छह घंटे के कोलकाता के दौरे पर पहुंच रहे हैं। बनर्जी ने आगे कहा कि तमिलनाडु, कर्नाटक या केरल में भी एक राजधानी बननी चाहिए। अगली राजधानी- उत्तर प्रदेश, पंजाब या राजस्थान में होनी चाहिए। वहीं, एक बिहार, ओडिशा या फिर कोलकाता में होनी चाहिए।

January 23rd 2021, 5:20 am
اقرأ على الموقع الرسمي

0 comments
Write a comment
Get it on Google Play تحميل تطبيق نبأ للآندرويد مجانا